Income tax raids of marble and granite traders
राजसमंद राजस्थान

मार्बल व ग्रेनाइट व्यापारियों के आयकर छापे

राजसमंद/ मार्बल नगरी के नाम से विख्यात राजसमंद में आज फिल्मी अंदाज में 25 से अधिक कारों का काफिला देवगढ़ कुंडवा कोटडा मैं पहुंचा तो वहां के ग्रामीण कारों का काफिला देखकर माजरा समझ नहीं पाए दरअसल इन कारों में आयकर विभाग (Income tax) के अधिकारी सवार थे और इन अधिकारियों ने देवगढ़ और कोटडा में मार्बल और ग्रेनाइट व्यापारियों (marble and granite) के यहां एक साथ छापा डाला और खबर लिखे जाने तक कार्यवाही जारी थी आयकर विभाग के छापे से क्षेत्र के मार्बल और ग्रेनाइट व्यापारियों सहित किशनगढ़ में भी हड़कंप मच गया है क्योंकि इन मार्वल व्यापारियों के किशनगढ़ अजमेर आवास पर भी आयकर विभाग की टीम सर्च कर रही है।

[शिक्षिका निर्मला गिरफ्तार, जमानत खारिज ,जेल भेजा]

जानकारी के अनुसार देवगढ़ के पास कुन्दवा पंचायत के कोटड़ा स्थित माइंस के साथ देवगढ़ में मार्बल मालिक, साझेदार सहित कर्मचारियों के आवास पर भी छापा डाला है। आयकर विभाग को लाखों रुपए के टैक्स चोरी की सूचना मिलने पर यह कार्रवाई की गई है।

[हरी मिर्ची ने कीमत में पेट्रोल को पछाड़ा, भाव 150 रु. किलो]

कोटड़ा में माइंस, देवगढ़ व आस पास क्षेत्र में रहने वाले कंपनी के बड़े कर्मचारियों के घर पर भी जांच की जा रही है। आयकर विभाग की टीम 25 कारों के काफिले के साथ देवगढ़ पहुंची, जहां सुबह 6 बजे ही सभी कर्मचारियों के घर छापा डाला है। इसके अलावा एक दर्जन कारों का काफिला कोटड़ा पहुंचा, जहां भी सर्च शुरू कर दिया है।

[Recruitment 2022: झारखंड लोक सेवा आयोग 207 पदों पर भर्ती | Ayurvedic Medical Officer Jobs]

फिलहाल आयकर विभाग की टीम की जांच जारी है और सर्च पूरा होने के बाद ही टैक्स चोरी का खुलासा किया जाएगा। इस कार्रवाई के बाद देवगढ़, कोटड़ा के साथ क्षेत्र के सभी ग्रेनाइट व अन्य कारोबारियों में भी हडक़ंप मच गया है। ग्रुप के मालिक के अजमेर व किशनगढ़ आवास पर भी आयकर विभाग की टीम द्वारा छापामार कर सर्च किया जा रहा है।
मगरा क्षेत्र में सबसे बड़ा कारोबारी ग्रुप को मगरा क्षेत्र का सबसे बड़ा माइंस ग्रुप माना जाता है।

इस माइंस का ग्रेनाइट खरीदने के लिए कारोबारियों को अग्रिम बुकिंग करवानी पड़ती है, तब भी वहां का पत्थर मिलना मुश्किल है। कुन्दवा, पारड़ी सहित आस पास के इलाके में अब दर्जनों माइंस हो गई हैं।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम