जयपुर राजस्थान

राजस्थान कांग्रेस में दिल्ली रैली की तैयारियां युद्ध स्तर पर तेज, 50 लाख की भीड़ का मिला है लक्ष्य

जयपुर। महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार को घेरने के लिए 28 अगस्त को दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस की महारैली का आयोजन होने जा रहा है जिसमें 2 लाख लोगों के जुटने का दावा किया जा रहा है कि अकेले राजस्थान को 50 हजार की भीड़ का लक्ष्य दिया गया है।

कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रव्यापी महारैली की तैयारियां इन दिनों प्रदेश कांग्रेस में जोर शोर से चल रही है। रैली में ज्यादा से ज्यादा भीड़ पहुंच सके इसके लिए प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय की ओर से सभी जिलाध्यक्षों, विधायकों, मंत्रियों और सांसद का चुनाव लड़ चुके नेताओं को फोन करके रैली की तैयारियां करने के निर्देश दिए जा रहे हैं।

रैली की तैयारियों को लेकर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में कंट्रोल रूम पर स्थापित किया गया है जिसके जरिए लगातार तमाम जिलों में पार्टी नेता और कार्यकर्ताओं से संपर्क करके उन्हें रैली की तैयारियों में जुटने को कहा जा रहा है। राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार होने के चलते प्रमुख तौर पर भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी भी राजस्थान को ही दी गई है।

इधर दिल्ली में होने वाली राष्ट्रव्यापी रैली में भीड़ को जुटाने का टारगेट विधायकों, मंत्रियों और लोकसभा का चुनाव लड़ चुके नेताओं को दिया गया है। बताया जा रहा है कि एक-एक विधायक को 5-5 बसे भरकर दिल्ली ले जाने के निर्देश दिए गए हैं, कौन विधायक और नेता कितनी भीड़ लेकर जा रहा है इसकी मॉनिटरिंग करने के लिए शाहजहांपुर बॉर्डर पर एक चेक पोस्ट भी बनाया जाएगा जो 27 अगस्त से प्रभावी होगा, जिसमें ड्यूटी भी प्रदेश कांग्रेस के नेताओं के लगाई जाएगी। कौन विधायक और नेता कितने लोगों की भीड़ लेकर पहुंचा है उसकी काउंटिंग के बाद ही उन्हें आगे जाने दिया जाएगा।

वहीं राष्ट्रव्यापी रैली में भीड़ जुटाने का जिम्मा जयपुर सहित पांच जिलों को दिया गया है जो दिल्ली के नजदीक माने जाते हैं इनमें राजधानी जयपुर, जयपुर ग्रामीण, दौसा, सीकर, झुंझुनू चूरू शामिल है। गौरतलब है कि 5 अगस्त को महंगाई के खिलाफ राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन करने के बाद 17 से 23 अगस्त तक महंगाई चौपाल का आयोजन किया जा रहा है और 28 अगस्त को दिल्ली में राष्ट्रव्यापी महारैली का आयोजन किया जा रहा है।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/