जयपुर राजनीति राजस्थान

प्रदेश की वैभवशाली विरासत, महान स्वतंत्रता सेनानियों, महापुरूषों एवं नीति निर्माताओं के त्याग, बलिदान और योगदान की जानकारी नई पीढ़ी को मिलेगी –गहलोत

News / Dainik reporter राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को विधानसभा में राजस्थान विधानसभा के डिजिटल म्यूजियम कार्य का शुभारम्भ किया। शुभारम्भ समारोह में अशोक गहलोत ने कहा कि रियासत काल से आधुनिक राजस्थान बनने तक का हमारे प्रदेश का गौरवशाली इतिहास रहा है। इस म्यूजियम से प्रदेश की वैभवशाली विरासत, महान स्वतंत्रता सेनानियों, महापुरूषों एवं नीति निर्माताओं के त्याग, बलिदान और योगदान की जानकारी नई पीढ़ी को मिल सकेगी।

अशोक गहलोत ने कहा कि मारवाड़, मेवाड, हाडौती सहित प्रदेश के सभी क्षे़त्रों में कई ऎतिहासिक घटनाएं हुई हैं। इन घटनाओं के साथ ही राजस्थान के विकास क्रम में राज्य विधानसभा के योगदान को हम गर्व के साथ याद करते हैं। इनकी जानकारी नई पीढी तक पहुंचाना जरूरी है। म्यूजियम के माध्यम से शोधार्थियों, विद्यार्थियों एवं आमजन को इन घटनाओं और क्रांतिकारी फैसलों को जानने का अवसर मिलेगा।

अशोक गहलोत ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी ने देश को 21वीं शताब्दी में ले जाने का सपना देखा था। सूचना क्रांति के माध्यम से उनका सपना साकार हुआ है। यह म्यूजियम भी इसी दिशा में एक अच्छी पहल है।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने कहा कि म्यूजियम के जरिए राजस्थान के निर्माण, विकास के आयामों और सामाजिक बदलाव के साथ बने कानूनों से रूबरू हो सकेंगे। साथ ही इससे लोगों का लोकतांत्रिक प्रक्रिया में विश्वास बढ़ेगा तथा लोकतंत्र और मजबूत होगा।

संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल ने बताया कि जयपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड की ओर से 13 करोड़ 47 लाख रूपए की लागत से इस डिजिटल म्यूजियम का निर्माण कराया जा रहा है। यह एक साल में बनकर तैयार होगा। उन्होंने बताया कि यहां 3डी प्रभाव के साथ राजस्थान के विकास की पूरी झांकी देख सकेंगे।

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि इस म्यूजियम में आजादी से लेकर अब तक हुए कार्यों और 15वीं विधानसभा तक का सम्पूर्ण चित्रण एक ही स्थान पर देख सकेंगे। विधानसभा सचिव श्री प्रमिल कुमार माथुर ने स्वागत उद्बोधन दिया एवं स्वायत्त शासन विभाग के सचिव श्री भवानी सिंह देथा ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस वर्ष के बजट में राज्य विधानसभा में आधुनिक डिजिटल म्यूजियम बनाने की घोषणा की थी। करीब 21 हजार स्क्वायर फीट में बनने वाला यह म्यूजियम विधानसभा के प्रथम एवं द्वितीय तल में प्रदर्शित होगा। इस म्यूजियम में थ्री डी प्रोजेक्शन मैपिंग, एनिमेटेड डायोरमा, इंटरेक्टिव कियोस्क, होलोग्राम, ऑगमेंटेड रियलिटी, वर्चुअल रियलिटी, टॉक बैक स्टूडियो, फिल्म्स ऑन स्क्रीन, स्कल्पचर्स एण्ड म्यूरल्स, मैकेनाइज्ड इंस्टालेशन, डायनमिक इंस्टालेशन तथा वॉल मार्ट एवं इलस्टे्रशन जैसी नवीनतम तकनीक के माध्यम से राजस्थान के निर्माण में भागीदार रहे निर्माताओं के योगदान तथा प्रदेश के राजनीतिक आख्यान को प्रदर्शित किया जाएगा। साथ ही इसमें लोकतंत्र, विधानसभा की कार्यप्रणाली एवं प्रशासन प्रणाली की जानकारी मिल सकेगी।

कार्यक्रम में राज्य मंत्रिपरिषद के सदस्य, विधायक, पूर्व विधायक, विधानसभा के कार्मिक भी उपस्थित थे।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.