Ashok Gehlot
जयपुर राजनीति

राजस्थान ही ऎसा राज्य है जिसने ईडब्ल्यूएस आरक्षण में यह कदम उठाया है – अशोक गहलोत

  • आरक्षण के सरलीकरण का सभी वर्गों ने किया स्वागत

Jaipur News / Dainik reporter :  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot)ने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के आरक्षण

(Reservation of weaker sections)में आ रही अचल संपत्ति (Real estate) की बाधाओं को दूर करने के राज्य सरकार के जनकल्याणकारी फैसले

(Public welfare decisions) से प्रदेश में सामाजिक सद्भाव (Social harmony)का ताना-बाना और मजबूत हुआ है। समाज के सभी वर्गों ने इस फैसले

का स्वागत किया है। गहलोत ईडब्ल्यूएस आरक्षण से अचल संपत्ति के प्रावधानों को समाप्त करने पर आभार व्यक्त करने के लिए शनिवार को मुख्यमंत्री निवास पर आए

प्रतिनिधिमंडल को सम्बोधित कर रहे थे। प्रतिनिधिमंडल में शामिल सर्वसमाज के लोगों ने ईडब्ल्यूएस आरक्षण के सरलीकरण के लिए गहलोत का मालाएं पहनाकर स्वागत

किया।मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने राज्य की सेवाओं और शैक्षिक संस्थाओं में ईडब्ल्यूएस आरक्षण में आ रही अड़चनों को दूर कर आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के

लिए अपनी प्रतिबद्धता को दोहराया है। पूरे देश में राजस्थान ही ऎसा राज्य है जिसने यह कदम उठाया है। अब केन्द्र सरकार को भी केन्द्र की नौकरियों तथा शिक्षण संस्थाओं से

इन बाधाओं को हटाने के लिए राज्य सरकार के इस फैसले का अनुसरण करना चाहिए। इस संबंध में मैंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया है।

 मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी वर्गों के लिए कल्याणकारी फैसले लिए जा रहे हैं। मेरे पिछले कार्यकाल में मैंने मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना शुरू की थी। गरीब मरीजों को

इस योजना में सरकारी अस्पतालों में निःशुल्क इलाज मिल रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार की लोककल्याणकारी योजनाओं का लाभ आमजन तक पहुंचे इसके लिये युवा

आगे बढ़कर सहयोग करें। प्रतिनिधिमंडल में शामिल लोग विधायक दीपचन्द खेरिया, विधायक जोगिन्दर सिंह अवाना एवं विधायक वाजिब अली के नेतृत्व में आए थे।

भूतपूर्व सैनिकों के प्रतिनिधिमंडल ने भी ईडब्ल्यूएस आरक्षण के सरलीकरण के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

 

 

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.