अब उत्तरी राजस्थान में टिड्डी दल की दस्तक

बीकानेर फसलों के लिए काल बनकर पाकिस्तान की दिशा से आ रहे टिड्डी दल ने बीकानेर शहर में भी दस्तक दे दी है। जिनके खेतों में फसलें खड़ी है, ऐसे किसानों की चिंता बढ़ गई है। लाखों की संख्या में टिड्डी दल जहां भी पहुंचता है,वहां खेतों में खड़ी फसलों को देखते ही देखते चट …

अब उत्तरी राजस्थान में टिड्डी दल की दस्तक Read More »

July 14, 2019 4:07 pm

बीकानेर

फसलों के लिए काल बनकर पाकिस्तान की दिशा से आ रहे टिड्डी दल ने बीकानेर शहर में भी दस्तक दे दी है। जिनके खेतों में फसलें खड़ी है, ऐसे किसानों की चिंता बढ़ गई है। लाखों की संख्या में टिड्डी दल जहां भी पहुंचता है,वहां खेतों में खड़ी फसलों को देखते ही देखते चट कर जाता है। बताया जा रहा है इनकी तादाद इतनी है कि ये दल जिस पेड़ पर आकर बैठता है, वो पेड़ दल के भार से टूट ही जाता है। शुक्रवार को टिड्डी दल अक्कासर, कोलासर, मेघासर गांवों में दिखाई दिया।

इससे  वहां के किसानों में हड़कंप-सा मच गया। किसानों ने अपने स्तर पर टिड्डी दल को भगाने का प्रयास किया। टिड्डी का दल के यहां पहुंचने से किसानों में चिंता फैल गई है। वहीं किसान टिड्डी दल को भगाने के उपाय भी करने में जुट गए हैं। बीकानेर में शुक्रवार को ही टिड्डी दल ने निकटवर्ती गांवों अक्कासर, कोलासर,मेघासर आदि इलाकों में दस्तक दे दी।

शनिवार को टिड्डी दल गंगाशहर के इलाकों में फैल गया। ये टिड्डी दल जिले के गांवों में तैयार नरमा, ग्वार, मूंगफली की फसलों को भारी नुकसान पहुंचा सकता है।

इन टिड्डियों का मूल रूप से पनपने का मूल स्थान उत्तरी अफ्रीका है। वहां पर ये टिड्डियां अनुकूल वातावरण के कारण पनपती रहती हैं। हर वर्ष जून-जुलाई तक ये हवा के साथ भारत की ओर रुख कर लेती हैं। पहले अरब देशों को पार करते हुए पाकिस्तान पहुंचती हैं। उसके बाद सिंध से गुजरात एवं राजस्थान तक पहुंच जाती हैं। लाखों की तादाद में होने के कारण फोगिंग, रासायनिक छिड़काव कर इन्हें मारा व भगाया जाता है।

Prev Post

पटवारी के 3835 पदों पर होगी भर्ती

Next Post

सूरजमल बृज विवि में पहला ऑपरेशन रिसर्च पाठ्यक्रम शुरू

Related Post

Latest News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज

Trending News

वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी

Top News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
टोंक शांति एवं सद्भावना समिति की बैठक आयोजित
जयपुर को मिली एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की मेजबानी, अमित शाह करेंगे उद्घाटन सत्र में शिरकत
विजयादशमी पर  जयपुर में 29 स्थानों पर संघ का पथ संचलन, शस्त्र पूजन व शारीरिक प्रदर्शन भी होंगे
वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
टोंक जिला स्तरीय राजीव गांधी युवा मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित%%page%% %%sep%% %%sitename%%
Upload state insurance and GPF passbook in new version of SIPF
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से सुमन, रिजवाना बानो एवं दिनेश को मिली राहत
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज