टोंक राजस्थान

नगर परिषद के रैन बसेरो में मिली अनियमितताएं

Tonk news / Dainik reporter (रोशन शर्मा ) – अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण टोंक के सचिव पंकज बंसल ने  मंगलवार को शाम टोंक अग्निशमन केन्द्र (Tonk Fire Station) के पास स्थित रैन बसेरों (Night shelters) का औचक निरीक्षण किया । अग्निशमन केन्द्र स्थित रैन बसेरे कापर्याप्त प्रचार प्रसार नहीं किया गया वही कर्मचारी भी अनुपस्थित मिलें।

उन्होंने दिर्नेश दिये कि रैन बसेरे का प्रचार प्रसार किया जाना आवश्यक है ताकि लोगों को पता चले कि टोंक  नगरपरिषद (Tonk Municipal Council) द्वारा रैन बसेरे का संचालन किया जा रहा है। नगर परिषद टोंक द्वारा पूर्व में जानकारी दी गई थी कि नगर परिषद क्षेत्र में 3 रेन बसेरे संचालित हैं जिसमें 250 व्यक्तियों के ठहरने की क्षमता है जबकि निरीक्षण में अग्निशमन केन्द्र, टोंक में संचालित स्थायी रेन बसेरों में से केवल एक रैन बसेरा संचालित पाया गया, जबकि दूसरा रैन बसेरा सर्दी का मौसम शुरू हो जाने के पश्चात भी नगर परिषद, टोंक द्वारा चालू नहीं किया गया है जो कि गंभीर लापरवाही हैं।

बंसल ने कहा कि  सर्वोच्च न्यायालय (Supreme court)ने आदेश में विशेष रैन बसरों को स्थापित किये जाने के निर्देश दिये गये हैं ताकि ठंड में कोई बेघर गऱीब व असहाय व्यक्ति खुले में सोने के लिए बाध्य नहीं हो। उच्चतम न्यायालय द्वारा विशेष रूप से महिलाओं एवं बालकों के लिए रैन बसेरों में पृथक से आवास की व्यवस्था किए जाने हेतु निर्देशित किया गया था किन्तु निरीक्षण के दौरान महिलाओं व बालकों के लिए पृथक से कोई व्यवस्था नहीं थी। रैन बसेरे का उत्तरदायित्व जिन कर्मचारीगण के भरोसे छोड़ रखा है वह स्वंय भी मौके पर नहीं मिले। अग्निशमन केन्द्र स्थित रैन बसेरे में पर्याप्त साफ-सफाई थी, रैन बसेरे के हॉल में यात्रिओं के मनोरंजन हेतु टी.वी. भी लगा हुआ था, बाथरूम व टॉयलेट साफ सुथरे पाये गये। रैन बसेरे में फस्र्ट एड बॉक्स की व्यवस्था भी उपलब्ध नहीं थी।

साथ ही नगर परिषद, टोंक द्वारा मछलीवालों के घेर में भी स्थाई रैन बसेरा संचालित किया जा रहा है। जिसका निरीक्षण किये जाने पर रैन बसेरे के बाहर एक सफाई कर्मचारी बैठा हुआ मिला, कोई केयर टेकर या गार्ड उपलब्ध नहीं था। रैन बसेरे का अंदर जाकर स्थिति का जायजा लेने पर रैन बसेरे में गंदगी व्याप्त पाई गई। रजाई गददे एवं कमरें व टॉयलेट एवं बाथरूम काफी गंदे पाए गए जिस पर वहाँ उपस्थित कर्मियों को पर्याप्त साफ सफाई किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। सुरक्षा हेतु कोई होमगार्ड, पुलिस सिपाही नियुक्त नहीं किया हुआ है। रैन बसेरे के कमरों में रोषनी की व्यवस्था नहीं की हुई है कमरों में अंधेरा मिला साथ ही रैन बसेरे में फस्र्ट एड बॉक्स की व्यवस्था भी उपलब्ध नहीं थी।

नगर परिषद की ओर से रैन बसेरा संचालन करने के संबंध में जानकारी हेतु कोई पर्याप्त प्रचार-प्रसार नहीं पाया गया। मछली वालों के घेर में संचालित रैन बसेरे के संचालन एवं लोकेषन हेतु किसी प्रकार का कोई साईन बोर्ड या फ्लैक्स या लोहे का बोर्ड स्थापित नहीं किया हुआ है।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.