भीलवाड़ा राजस्थान

विश्वसनीयता, सकारात्मक, तथ्यात्मक और जिम्मेदारीपूर्ण पत्रकारिता की जरूरत –  मंत्री जाट, कलेक्टर मोदी, एस पी सिद्धू

भीलवाड़ा/ वर्तमान बदलते परिपेक्ष और डिजिटल सोशल मीडिया के युग में विश्वसनीयता सकारात्मक आत्मा और जिम्मेदारी पूर्ण पत्रकारिता की जरूरत है और साथ ही हर क्षेत्र में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण है यह बात आज भीलवाड़ा में प्रेस क्लब के तत्वाधान में इंडियन स्कूल आफ बिजनेस भारती इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक की ओर से आयोजित मीडिया वर्कशॉप में अतिथि गहलोत सरकार के कैबिनेट राजस्व मंत्री रामलाल जाट जिला कलेक्टर आशीष मोदी पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू ने कहीं।

भीलवाड़ा में प्रेस क्लब के तत्वावधान में इंडियन स्कूल आफ बिजनेस, भारती इंस्टीट्यूट आफ पब्लिक की ओर से रविवार को एक होटल में मीडिया वर्कशाप राजस्व मंत्री रामलाल जाट के मुख्य आतिथ्य में आयोजित कार्यक्रम में बतौर अतिथि के रूप में जिला कलेक्टर आशीष मोदी, पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्वु, पिंक सिटी प्रेस क्लब जयपुर के अध्यक्ष मुकेश मीणा, वरिष्ठ पत्रकार दयाराम मेठानी, नगर परिषद सभापति राकेश पाठक के सानिध्य मे आयोजित की गई ।

पत्रकारो की भूमिका महत्वपूर्ण — जाट

राजस्व मंत्री रामलाल जाट ने कहा कि आज बदलते परिवेश में मीडिया पर ज्यादा जिम्मेदारी है। मीडिया को अपनी विश्वसनीयता कोबनाये रखते हुए अपने क्षेत्र में शांति का माहौल पैदा करने के सभी प्रयास करने चाहिए। क्यों कि जिस कस्बेेेे व शहर में शांति का माहौल होगा वहां पर व्यवसाय व विकास दोनो में विस्तार की गुंजाईश रहती है।

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया के दौर में वास्तविक पत्रकारों की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है। लोकतंत्र की मजबूती के लिए मीडिया का विश्वसनीय होना बहुत जरूरी है। उन्होंने फर्जी पत्रकारों पर अंकुश लगाने के लिए प्रेस क्लब जैसी संस्थाओं को आगे आने का आव्हान करते हुए कहा कि राज्य सरकार भी डिजीटल मीडिया पाॅलोसी लानेपर विचार कर रही है। राजस्व मंत्री जाट ने प्रेस क्लब अध्यक्ष सुखपाल जाट की ओर से भीलवाड़ा व जिले के पत्रकारों की विभिन्न समस्याओं के समाधान में हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

तथ्यात्मकता जरूरी– कलेक्टर मोदी

जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने फास्ट मीडिया के दौर में सकारात्मकता को ध्यान में रखने तथा तथ्यपरक समाचारों को प्रकाशित करने पर जोर दिया। सही बात जनता के समक्ष आने से ही विकास की गति बढ़ सकेगी। आज मीडिया का जो स्थान है उसे नकारा नहीं जा सकता है। जिला कलेक्टर ने कहा कि शब्द भले ही कम हों, लेकिन उनका सार काफी अधिक होना चाहिए। कम्प्यूटर, सोशल नेटवर्किंग का समय है। आज लोगों को समय कम है। इसी कारण कम शब्दों में अधिक से अधिक बात सामने रखने की कला यानी क्वांटिटी के साथ क्वालिटी वाला कार्य होना चाहिए। आंकड़े सत्य हों, क्योंकि पड़ौस में बैठे किसी व्यक्ति को किया मैसेज भी पहले अमेरिका, दिल्ली फिर अजमेर आपके पास आता है। क्वालिटी को समझकर टेक्नालाजी में बदलाव कर अपनी बात को कम शब्दों में बयां कर सकते हैं।

 

पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्वु ने 21 वीं सदी की पत्रकारिता की भूमिका को बताते हुए कहा कि खबरों में प्रमाणिकता होेने से विश्वसनीयता बनी रहती है। पिंक सिटी प्रेस क्लब जयपुर के अध्यक्ष मुकेश मीणा ने कहा कि तथ्य आधारित समाचारों की आज जनता में मांग है। पिंकसिटी प्रेस क्लब भी समय समय पर इस प्रकार की सेमीनारकराती है। उन्होंने पत्रकारों की समस्याओं का जिक्र करते हुए कहा कि राज्य सरकार से वार्ता चल रही है। शीघ्र ही पाॅलिसी सामने आने वाली है। 

 

वरिष्ठ पत्रकार दयाराम मेठानी ने कहा कि आज की पत्रकारिता व पूर्व की पत्रकारिता में अंतर आ गया है। आज सुविधाओं की बहुलता होने के बाद भी विश्वसनीयता की जरूरत है। मेठानी ने कहा कि मीडिया की सबसे बड़ी ताकत विश्वसनीयता है। स्याही कागज शब्दों से नहीं डाटा सबसे महत्वपूर्ण है जो खबरों में पसंद किए जाने के साथ ही विश्वास बढ़ाता है। सभापति राकेश पाठक ने कहा कि वास्तविक पत्रकारों पर जिम्मेदारी है कि फर्जी पत्रकारिता पर अकुंश लगाने का काम करें। 

प्रेस क्लब अध्यक्ष सुखपाल जाट ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि आज मीडिया में इस प्रकार की वर्कशाप की जरूरत है। इसलिए इसे कराया गया है तथा आगे भी कराया जायेगा। उन्होेने प्रेस क्लब व पत्रकारों की समस्याओं को रखते हुए राजस्व मंत्री से सरकार से हस्तक्षेप कराने का अनुरोध किया। 

 

मंच का संचालन कर रहे क्लब के उपाध्यक्ष मूलचन्द पेसवानी ने प्रेस क्लब की गतिविधियों की जानकारी देने के साथ ही पत्रकारों की समस्याओं को रखा। इससे पूर्व कार्यक्रम की शुरुआत मां सरस्वती के चित्र पर दीपप्रज्वलन से हुई। अंत में महासचिव राजेश मेठानी ने डाटा की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि समाचारों में इनकी भूमिका महत्वपूर्ण रहेगी।

 

डाटा व ग्राफिक्स के प्रयोग की महत्त्वपूर्ण भूमिका-

आईएसबी की सीनियर कंसल्टेंट दीप्ति सोनी ने कहा कि समाचारों को तथ्यपरक और विश्वसनीय बनाने में डाटा व ग्राफिक्स के प्रयोग की महत्त्वपूर्ण भूमिका रह सकती है। समाचार पत्रों में बदलते परिवेश के बाद डाटा व आंकड़ों ने खबरों की विश्वसनीयता बढ़ाई है। जो शब्द हजार नहीं बोल पाते वह आंकड़े व ग्राफिक्स के जरिए आसानी से समझाए जा सकते हैं।

इंडिया डाटा पोर्टल को लेकर जानकारी देते हुए बताया कि 2020 में लैंड स्केप सर्वे शुरू करवाया था। पत्रकारों, रिसर्च में लगे छात्रों को आंकड़ों को लेकर परेशानी हो रही थी। फार्मिंग व कारपोरेट से जुड़ी खबरें नहीं आ रही थी। जो खबरें आ रही थी उनमें क्वालिटी थी, लेकिन आंकड़े नहीं थी। ऐसे आंकड़े जिन पर विश्वास किया जा सके। इंडिया डाटा पोर्टल ने सबसे पहले कृषि, वित्तीय समावेश व ग्रामीण विकास को लेकर डाटा तैयार करवाया। आज स्थिति यह है कि इंडिया डाटा पोर्टल पर कोविड से लेकर हर क्षेत्र के तहसील से लेकर स्टेट व देश दुनिया तक के आंकड़े हैं। इन्हें अलग अलग रेशों में लेना है या ग्राफिक्स में लिया जा सकता है।

इंडिया डाटा पोर्टल से अब खबरों में काफी सहयोग मिल सकेगा। इन सबको भी टीम ने पोर्टल पर बनाकर अपडेट किया है। 80 प्रकार का डाटा है जो दो साल में बनकर तैयार हुआ है। केंद्र व प्रधानमंत्री की योजनाएं, किस राज्य को कितना बजट मिला, कितना खर्च हुआ, रेनफाॅल, विधानसभा व लोकसभा का डाटा भी तैयार हो रहा है। कोविड के दौरान पलायन की स्थिति हुई। आंकड़ों में सामने आया कि सबसे अधिक मनरेगा में लोग जुड़े। एक हजार करोड़ तक का बजट कोविड में गया था। लेकिन अब स्थिति सुधरने के बाद वह ग्राफ तेजी से नीचे आ रहा है। दीप्ति सोनी ने विस्तार से जानकारी दी कि किस प्रकार पोर्टल से जानकारी ले सकते हैं।

आईएसबी के कंसल्टेंट उपेन्द्रसिंह ने कहा कि तकरीबन दो साल पहले यह सामने आया था कि पत्रकारों को खबरों को लेकर डाटा आंकड़े नहीं मिल पाते हैं। इस कारण काफी परेशानी होती है। इसी को लेकर सर्वे करवाया। तकरीबन दो सालों तक एक पूरी टीम ने दिन रात काम किया तब यह आंकड़े सामने आए। आज यह आंकड़े हर क्षेत्र में सभी के लिए मददगार साबित हो रहे हैं।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम