नासिरदा क्षेत्र में अधिक वर्षा से फसले हुई चौपट

अत्यधिक बारिश (Rain) होने के कारण किसानों की फसलें नष्ट हो गई है। इससे किसानों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। किसानों के पास खाद-बीज खरीदने के पैसे भी नही बचे हैं। ज्ञापन में बताया कि बीमा कम्पनियों द्वारा भी हर बार बीमा की प्रीमियम ली जाती है, लेकिन कोई सहायता राशि नही दी जाती हैं

 ग्रामीणों ने मुआवजे के लिए एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

Deoli

उपखण्ड के नासिरदा (Nasirda) उपतहसील के करीब आधा दर्जन गांवों में अधिक वर्षा के कारण फसले चौपट (Crop collapsing) हो गई हैं। इसे लेकर ग्रामीणों ने बीजवाड़ (Bijwad) सरपंच पदम जैन की अगुवाई में उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार त्यागी को ज्ञापन सौंपकर फसलो का जल्द सर्वे करवाकर मुआवजा देने की मांग की है।

         ज्ञापन में बताया कि अत्यधिक बारिश होने के कारण किसानों की फसलें नष्ट हो गई है। इससे किसानों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। किसानों के पास खाद-बीज खरीदने के पैसे भी नही बचे हैं। ज्ञापन में बताया कि बीमा कम्पनियों द्वारा भी हर बार बीमा की प्रीमियम ली जाती है, लेकिन कोई सहायता राशि नही दी जाती हैं। इस दौरान केदार गुर्जर, रामेश्वर कुड़ी, रघुवीर सिंह, रामनारायण गुर्जर, रामराज धाकड़, शिवराज सिंह, किशन गुर्जर,  ब्रजेश जाट, कन्हैया कुमावत, रामा मीना, सम्पत पाराशर समेत दर्जनों ग्रामीण उपस्थित थे।

VIAmanish bagdi
SOURCEmanish bagdi
Previous articleकश्मीरी पंडितों का मोदी को समर्थन, सिखों ने कहा ‘शेर’
Next articleSocial Media पर युवा पीढ़ी को गुमराह किया जा रहा है-अशोक गहलोत
परिचय- वर्ष 2000 से पिता श्री राजेन्द्र बागड़ी के मार्गदर्शन में पत्रकारिता क्षेत्र में प्रवेश किया। इस दौरान पत्रकारिता की शुरुआत कम्प्यूटर पर खबरे कम्पोज करने के साथ हुई। इसके साथ ही देवली में राजस्थान पत्रिका में प्रेस फोटोग्राफर व सहायक संवाददाता के रूप में काम किया। इस दौरान क्राइम, जनसमस्या, घटना, दुर्घटना, राजनैतिक आयोजन, धार्मिक से जुड़ी कई खबरें व स्टोरी कवर की। वर्ष 2009 से राजस्थान पत्रिका के भीलवाड़ा संस्करण में भी रिपोर्टर का कार्य शुरू किया। इसके अलावा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में 2017 से A1 TV rajasthan न्यूज़ चैनल में देवली रिपोर्टर के रूप में कार्यरत।