Minister Garg welcomed the students returned to India from Ukraine in Delhi Asked about the well being of two students trapped in Bharatpur in Ukraine over the phone.
जयपुर राजस्थान

यूक्रेन से वापस आए राजस्थानियों को दिल्ली में रिसीव करने के लिए मंत्री स्वयं मौजूद

जयपुर / यूक्रेन (Ukraine) से वापस आ रहे राजस्थान के नागरिकों और विद्यार्थियों को दिल्ली में रिसीव करने के लिए राजस्थान के मंत्री अपनी टीम के साथ स्वयं मौजूद हैं। मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत के दिशा निर्देशन में राज्य सरकार के प्रतिनिधि यूक्रेन से दिल्ली और मुम्बई आ रहे राजस्थानियों को उनके घर तक पहुंचाने की सभी व्यवस्थाओं को स्वयं सुनिश्चित कर रहे हैं। राज्य सरकार द्वारा उनके खाने-पीने से लेकर ठहरने और घर लौटने के सभी इंतजाम किये जा रहे हैं, ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। राज्य सरकार के मंत्री और अधिकारी लगातार यूक्रेन के हालात का भी जायजा ले रहे हैं, और वहां फंसे राजस्थानी लोगों के लगातार संपर्क में हैं।

युद्ध में फंसे यूक्रेन से लगातार राजस्थान के लोग विशेषकर वहां पढ़ रहे विद्यार्थी वापस लौट रहे हैं। यहां आने पर उन्हें घर की तरह अपनापन और देखभाल मिले इसके हर संभव प्रयास राज्य सरकार द्वारा किये जा रहे हैं। केबिनेट मंत्री श्रीमती ममता भूपेश के साथ राज्य मंत्री सुभाष गर्ग और राजस्थान फाउण्डेशन के आयुक्त और नोडल अधिकारी धीरज श्रीवास्तव दिल्ली में मौजूद हैं और यूक्रेन से आने वाले सभी लोगों को स्वयं रिसीव कर रहे हैं।

भूपेश ने कहा कि अपने नागरिकों और विद्यार्थियों की सुरक्षित वापसी से हमें जो सुकून मिल रहा है, उसे बयान करना मुश्किल है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इन विद्यार्थियों को सकुशल घर पहुंचाने के लिए सभी व्यवस्थाएं की गई हैं। उन्होंने कहा कि यहां आने वाले लोगों को महसूस होना चाहिये कि वे अपने घर लौटे हैं।

गर्ग ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के संवेदनशील नेतृत्व और दिशा निर्देशन में इंदिरा गांधी एयरपोर्ट, दिल्ली और हिन्डन एयरपोर्ट पर सभी इंतजाम किये गए हैं, ताकि किसी भी राजस्थानी को अपने घर तक पहुंचने में कोई भी असुविधा नहीं हो।

फाउण्डेशन अध्यक्ष धीरज श्रीवास्तव ने कहा कि अब तक 558 राजस्थानी विद्यार्थी दिल्ली, हिन्डन और मुम्बई एयरपोर्ट पर पहुंच चुके हैं। इन सभी को उनके घर उनकी सुविधानुसार बस, टैक्सी, ट्रेन और फ्लाइट से भेजने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में भी लगभग एक हजार नागरिक और विद्यार्थी यूक्रेन में फंसे हुए हैं।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत वहां फंसे हुए राजस्थानियों खासकर विद्यार्थियों के लिए चिंतित हैं, और लगातार उनकी सुरक्षित वापसी के लिए प्रयासरत हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को भी वहां फंसे हुए लोगों की जल्द से जल्द सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने के लिए पत्र लिखा है। उन्होंने केन्द्र सरकार से अनुरोध किया है कि वह अपने स्तर पर इन लोगों की देश वापसी के लिए यूक्रेन सरकार से संपर्क करे।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यूक्रेन से अपने खर्चे पर भारत वापस लौटे राजस्थानियों की हवाई यात्रा टिकिट की राशि के पुनर्भरण की भी घोषणा की है। इसके अतिरिक्त राज्य सरकार द्वारा राजस्थान के नागरिकों की मदद के लिए दिल्ली अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर 24 घंटे हैल्पलाइन डैस्क भी स्थापित की गई है।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम