पत्नी को पढ़ाकर शिक्षिका बनाया, दो बच्चों को छोड़ प्रिंसिपल के संग हो गई फरार

Dr. CHETAN THATHERA
4 Min Read

जयपुर/ उत्तर प्रदेश के बरेली की एसडीएम ज्योति मौर्या और उसके पति आलोक मौर्य के जीवन का घटनाक्रम और कहानी पूरे देश में अभी सोशल मीडिया पर छाई हुई है और सुर्खियों में है यह सुर्खियां अभी लोग भूल भी नहीं पाएगी।

ऐसे ही घटना बिहार में घटित हो गई जहां एक युवक ने 13 साल पहले युवती से प्रेम विवाह किया और उसे पढ़ा लिखा कर शिक्षिका बनाया और सरकारी स्कूल में शिक्षिका के पद पर नौकरी लगाई नौकरी लगने के बाद वह अपने दो बच्चों और पति को छोड़कर स्कूल के प्रिंसिपल के साथ ही फरार हो गई।

यह घटना भी सोशल मीडिया पर अब वायरल होने लगी है । अब परेशान पति अपनी पत्नी को वापस लाने के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहा है और थाने में भी प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज कराया है ।

घटना बिहार के वैशाली जिले के महीपुरा गांव के जंहाद की है मिली जानकारी के अनुसार महीपुरा गांव निवासी चंदन ने 13 साल पहले 2010 में सरिता से प्रेम विवाह किया था जिसके बाद उसने सरिता को आगे बढ़ने का मौका दिया उसे पढ़ने की पूरी छूट दी और जब वह फरवरी 2022 में सरकारी शिक्षक बन गई तो लगभग डेढ़ साल बाद पत्नी विद्यालय के प्रिंसिपल के साथ ही फरार हो गई।

इस मामले में पीड़ित पति ने जंदाहा थाना में 7 जुलाई को पत्नी और विद्यालय के प्रिंसिपल राहुल कुमार पर मुकदमा दर्ज कराते हुए पुलिस से पत्नी को वापस लाने की गुहार लगाई है।

पति चंदन ने थाने मे दी रिपोर्ट अनुसार उसकी बहन के ससुराल में सरिता से मुलाकात हुई थी जिसके बाद दोनो में प्रेम हो गया और फिर 13 साल पहले 2010 मे दोनो ने शादी कर ली।

उस समय सरिता 10 वीं पास की थी लेकिन पत्नी की हर इच्छा और सपनो को पूरा करने वाले चंदन ने पत्नी को आगे पढ़ने और कामयाब बनने में हर सम्भव मदद भी की। दोनों के एक 12 वर्षीय बेटी और 7 साल का बेटा भी है।

चंदन ने कई रिपोर्ट के अनुसार 2017 में सरिता ने टीईटी परीक्षा पास की और 25 फरवरी 2022 में समस्तीपुर जिले के शाहपुर पटोरी में स्थित प्राथमिक विद्यालय नोनफर जोड़पुर में बतौर शिक्षक नियुक्त हुई थी ।

जहां पर हलई ओपी क्षेत्र के मरीचा गांव निवासी विद्यालय के प्रिंसिपल राहुल कुमार से सरिता की नजदीकियां बढ़ गई और दोनो का प्रेम प्रसंग शुरू हो गया और सरिता और अपने दोनो बच्चों व पति को छोड़कर प्रिंसिपल राहुल के साथ भाग गई है ।

घटना को लेकर क्षेत्र में अच्छी खासी चर्चा बनी हुई है उधर दूसरी और सरिता का पति चंदन अपनी पत्नी को वापस लाने के लिए भटक रहा है पुलिस ने चंदन की रिपोर्ट पर प्रिंसिपल राहुल और उसकी पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज कर दोनों की तलाश शुरू कर दी है ।

अब हर पुरूष को सोचने पर

विदिता की उत्तर प्रदेश के ज्योति मौर्य और आलोक मौर्य की घटना के बाद उस क्षेत्र में करीब 136 पतियों ने अपनी पत्नियों को पढ़ा लिखा कर अधिकारी बनाने के उद्देश्य से बाहर भेजा था उन सब को वापस बुला लिया है यह सोच कर कि कहीं हमारी पत्नियां भी पढ़ लिख कर अधिकारी बनने के बाद ज्योति मौर्या की तरह ना बन जाए और अब बिहार की इस घटना ने हर उस पुरुष को सोचने पर मजबूर कर दिया है जो अपनी पत्नी के सपने पूरे करने से पढ़ा लिखा कर नौकरी कराने अधिकारी बनाने के लिए सोच रहा और प्रयास कर रहा है

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम