लोस चुनाव-सबसे अधिक झुंझुनू और सबसे कम बाड़मेर में इलेक्ट्रॉनिकली पोस्टल बैलेट मिले

Dr. CHETAN THATHERA
3 Min Read

जयपुर। लोकसभा आम चुनाव-2024 अंतर्गत राज्य में 25 लोकसभा क्षेत्रों के लिए 1,40,907 सेवा मतदाताओं को इलेक्ट्रॉनिकली पोस्टल बैलेट जारी किए गए हैं, इनमें से 1,32,381 मतदाताओं ने इलेक्ट्रॉनिकली पोस्टल बैलेट डाउनलोड किए हैं।

अब तक कुल 69,795 सेवा मतदाताओं के इलेक्ट्रॉनिकली पोस्टल बैलेट प्राप्त हुए हैं। इलेक्ट्रॉनिक सेवा मतदाताओं को ये पोस्टल बैलेट भारत निर्वाचन आयोग के इलेक्ट्रॉनिकली ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट मैनेजमेंट सिस्टम (इटीपीबीएमएस) के द्वारा भेजे गए हैं। सेवा मतदाताओं द्वारा अपना मत अंकित कर यह डाक मतपत्र स्पीड पोस्ट से रिटर्निंग अधिकारी को भेजे जाते हैं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि पोस्टल बैलेट एवं ईटीबीपीएस से डाले गए मतों की गणना के लिए प्रदेश में 800 टेबल्स लगाई जाएंगी। एक टेबल पर 200-250 ईटीबीपीएस मतों की गणना की जाएगी। राज्य में पोस्टल बैलेट की मतगणना के लिए 400 मतगणना सुपरवाइजर और 800 मतगणना एजेंट नियोजित कर इन्हें समुचित प्रशिक्षण दिया गया है।

झुंझुनूं लोकसभा क्षेत्र में सबसे अधिक पोस्टल बैलेट प्राप्त हुए—

गुप्ता ने बताया कि झुंझुनूं लोकसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 14,211, सीकर से 8,686 एवं अलवर से 7,564 इलेक्ट्रॉनिकली पोस्टल बैलेट प्राप्त हुए हैं। वहीं सबसे कम बांसवाड़ा लोकसभा क्षेत्र में सबसे कम 77 एवं उदयपुर लोकसभा क्षेत्र से 117 सेवा मतदाताओं को इलेक्ट्रॉनिकली पोस्टल बैलेट प्राप्त हुए हैं।

लोकसभा क्षेत्रवार प्राप्त इलेक्ट्रॉनिकली पोस्टल बैलेट—

गंगानगर : 1,022

बीकानेर : 1,173

चूरू : 4,586

झुंझुनूं : 14,211

सीकर : 8,686

जयपुर ग्रामीण : 5,062

जयपुर : 604

अलवर : 7,564

भरतपुर : 5,172

करौली-धौलपुर : 2,391

दौसा : 2,206

टोंक-सवाई माधोपुर: 1,298

अजमेर: 1,966

नागौर : 4,093

पाली: 2,192

जोधपुर: 2,589

बाड़मेर: 1,253

जालोर: 138

उदयपुर: 117

बांसवाड़ा: 77

चित्तौड़गढ़: 246

राजसमंद: 1,656

भीलवाड़ा: 827

कोटा: 428

झालावाड़-बारां: 238

गुप्ता ने बताया कि ईटीबीपी संबंधित आरओ को 4 जून को प्रातः 8 बजे से पहले प्राप्त हो जाना चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक रूप से प्रेषित पोस्टल बैलट सिस्टम (ईटीपीबीएस) सेवा मतदाताओं को इलेक्ट्रॉनिक साधनों से प्रेषित किया जाता है। यह मतदाता को अपने वरीय स्थान जो उनके मूल रूप से आवंटित मतदान निर्वाचन क्षेत्र से बाहर स्थित होता है, से इलेक्ट्रॉनिक रूप से प्राप्त पोस्टल बैलट फॉर्म पर अपना वोट देने में समर्थ बनाता है। यह सिस्टम निर्वाचकों द्वारा मतदान करने का एक आसान विकल्प उपलब्ध करवाता है क्योंकि इस सिस्टम का उपयोग करके पोस्टल बैलेट प्रेषित करने में समय की बाधा को दूर कर लिया किया गया है।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम