कोटा अस्पताल में बच्चों की मौत पर योगी,माया ने सरकार पर निशाना साधा, गहलोत ने किया पलटवार

Jaipur News – कोटा के जेके लोन अस्पताल में एक माह में 100 बच्चों की मौत को लेकर राज्य सरकार सवालों के घेरे में है। विपक्षी दल भाजपा के हमले के बाद गुरुवार को बसपा सुप्रीमो मायावती(Mayawati) और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (U.P CM Yogi Adityanath)ने कांग्रेस शासित प्रदेश में मासूम बच्चों की मौत से माताओं की गोद उजडऩा को दु:खद और दर्दनाक बताते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी(Sonia Gandhi) तथा महासचिव प्रियंका गांधी(Priyanka Gandhi) को आड़े हाथों लिया है।

इधर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने तीन ट्वीट कर शिशुओं की मृत्यु पर सरकार का पक्ष रखते हुए कहा कि सरकार संवेदनशील है।
मामला बढ़ता देख कांग्रेेस अध्यक्ष गांधी ने गुरुवार को ही पार्टी के राष्टï्रीय महासचिव और प्रदेश प्रभारी अविनाश पाण्डे को तलब किया है। सोनिया ने बच्चों की मौत पर न केवल चिंता जताई बल्कि राज्य सरकार को बच्चों की मौत नहीं होयह भी सुनिश्चित करने को कहा है।
बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक के बाद एक तीन ट्वीट करते हुए कहा कि कांग्रेस शासित राजस्थान के कोटा जिले में हाल ही लगभग 100 मासूम बच्चों की मौत से माताओं की गोद उजडऩा दु:खद और दर्दनाक है तो भी वहां की सरकार इसके प्रति अब भी उदासीन, असंवेदनशील तथा गैर-जिम्मेदार बनी हुई हैं,जो अति निन्दनीय।

प्रियंका गांधी चुप क्यों?

मायावती ने दूसरे ट्वीट में कहा कि कांग्रेस सरकार की असंवेदनशीलता से भी ज्यादा अति दु:खद है कि कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व और खासकर महिला महासचिव की इस मामले में चुप्पी साधे रखना। अच्छा होता कि वह यूपी की तरह उन गरीब पीडि़त माताओं से भी जाकर मिलती,जिनकी गोद केवल उनकी पार्टी की सरकार की लापरवाही के कारण उजड़ गई हैं।

यदि कांग्रेस की महिला राष्ट्रीय महासचिव राजस्थान के कोटा में जाकर मृतक बच्चों की माताओं से नहीं मिलती हैं तो यहां अभी तक किसी भी मामले में यूपी पीडि़तों के परिवार से मिलना केवल इनका यह राजनीतिक स्वार्थ व कोरी नाटकबाजी ही मानी जाएगी, जिससे यूपी की जनता को सतर्क रहना है

Previous articleरणथम्भौर में बाघ ने किया ग्रामीण पर हमला
Next articleअलवर के चिकित्सक आज से दो घंटे का करेंगे कार्य बहिष्कार
Firoz Usmani Tonk : परिचय- पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले 15 वर्षो से संवाददाता के रूप में कार्यरत हुंॅ, 9 साल से राजस्थान पत्रिका ग्रुप के सांयकालीन संस्करण (न्यूज़ टुडे) में जिला संवाददाता के रूप से कार्य कर रहा हंू। राजस्थान पत्रिका न्यूज़ चैनल में भी अपनी सेवाएं देता रहा हूं। एवन न्यूज चैनल में भी संवाददाता के रूप में कार्य किया है। अपने पिता स्व. श्री मुश्ताक उस्मानी के सानिध्य में पत्रकारिता की क्षीणता के गुण सीखें। मेरे पिता स्व.श्री मुश्ताक उस्मानी ने भी 40 वर्षो तक पत्रकारिता के क्षैत्र में कार्य किया है। देश के कई बड़े न्यूज़ पेपर से जुड़े रहे। 10 वर्ष दैनिक भास्कर में ब्यूरों चीफ रहें।