कृषि व घरेलू उपभोक्ता को 31 मई तक राशि जमा कराने पर अगले बिल में 5 प्रतिशत छूट

Ajmer news । राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार अजमेर विद्युत वितरण निगम ने भी अपने क्षेत्राधीन 11 जिलों के लाखों उपभोक्ताओं को राहत प्रदान की है। इसके तहत 150 यूनिट तक प्रतिमाह विद्युत खर्च वाले घरेलू उपभोक्ता एवं कृषि उपभोक्ताओं को 31 मई तक बिल जमा नही कराने पर लेट पेंमेट सरचार्ज नही देना …

कृषि व घरेलू उपभोक्ता को 31 मई तक राशि जमा कराने पर अगले बिल में 5 प्रतिशत छूट Read More »

April 7, 2020 9:24 pm

Ajmer news । राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार अजमेर विद्युत वितरण निगम ने भी अपने क्षेत्राधीन 11 जिलों के लाखों उपभोक्ताओं को राहत प्रदान की है। इसके तहत 150 यूनिट तक प्रतिमाह विद्युत खर्च वाले घरेलू उपभोक्ता एवं कृषि उपभोक्ताओं को 31 मई तक बिल जमा नही कराने पर लेट पेंमेट सरचार्ज नही देना होगा। ऎसे उपभोक्ता अगर 31 मई तक बिल जमा करा देते है तो उन्हें अगले बिल में 5 प्रतिशत की छूट मिलेगी।

बिल स्थगन सुविधा का लाभ व्यावसायिक एवं औद्योगिक उपभोक्ता भी ले सकते है लेकिन उन्हें देरी से भुगतान की राशि में छूट नही है। यह आदेश अजमेर में टाटा पॉवर व भीलवाड़ा में सिक्योर मीटर के उपभोक्ताओं पर भी लागू है। अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबन्ध निदेशक वी.एस. भाटी ने बताया कि निगम ने विभिन्न श्रेणियों के उपभोक्ताओं को बिल भुगतान में 31 मई तक भुगतान स्थगित की छूट प्रदान की है।

उन्होंने बताया कि प्रतिमाह 150 यूनिट तक उपभोग वाले घरेलू उपभोक्ता एवं कृषि उपभोक्ता को बिल स्थगन सुविधा का लाभ उठाने पर लेट पेमेंट सरचार्ज नहीं देना है। इसी तरह बिल नही चुकाने पर व्यावसायिक और औद्योगिक उपभोक्ताओं का कनेक्शन नही कटेगा लेकिन ऎसे उपभोक्ताओं को देरी से भुगतान की राशि में छूट नहीं है।

पहले बिल जमा कराओ, 5 प्रतिशत छूट पाओ

भाटी ने बताया कि बिल स्थगन की सुविधा के पात्र घरेलू व कृषि उपभोक्ता अगर अपना बिल 31 मई तक जमा करा देते है तो उन्हें अगले बिल में 5 प्रतिशत की छूट भी मिलेगी। यह छूट औद्योगिक व व्यावसायिक श्रेणी पर लागू नही है।

ऑनलाइन ही जमा होंगे बिल

उन्हाेंने बताया कि कोरोना संकट के कारण विद्युत बिलों का वितरण उपभोक्ता के परिसर पर नहीं हो पायेगा । यह बिल मैसेज, निगम की बेबसाइट व ई-मेल पर उपलब्ध रहेंगे। इन्हीं के आधार पर बिल जमा करवाना होगा। साथ ही उपभोक्ताओं से यह भी अपील की जाती है कि सभी उपभोक्ता अपने बिलों का भुगतान यथाशीघ्र करवाने का कष्ट करें ताकि निगम के कार्य सुचारू रूप से चलते रहें।

उपभोक्ता अपने बिल का भुगतान ऑनलाइन माध्यम जैसे Paytm, Bill Desk, Google Pay, E-mitr app, Bhim App, Amazon pay एवं सभी प्रमुख बैंकों की वेबसाइट के माध्यम से कर सकते हैं ताकि उपभोक्ता को घर से बाहर नहीं निकलना पडे।

 

उपभोक्ता अपने बिजली बिल का K.NO. ईमेल आईडी और मोबाईल न. को भरकर समिट करें जिससे बिजली का बिल अपने ई मेल आईडी पर ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। प्रबंध निदेशक वी.़एस.भाटी ने बताया कि औद्यौगिक व व्यावसायिक श्रेणी के उपभोक्ताओं को अप्रैल माह के बिल, वास्तविक रीडिंग के आधार पर यदि सम्भव हो तो अन्यथा गत 4 माह के औसत के आधार पर जारी किये जायेंगे। उन्होंने बताया कि राजकीय संस्थान व लॉकडाउन से मुक्त व्यावसायिक श्रेणी के उपभोक्ताओं से माह अप्रैल व मई माह का पूर्ण स्थायी शुल्क वसूला जायेगा। औद्यौगिक व व्यावसायिक श्रेणी के एसे उपभोक्ता जो लॉकडाउन में मुक्त नहीं हैं का लॉकडाउन अवधि का स्थायी शुल्क 31 मई 2020 तक स्थगित किया गया है। ऎसे सभी उपभोक्ताओं को नियत तिथि पर अपना विद्युत बिल जमा करवाना होगा अनयथा विलम्ब शुल्क सहित बिल जमा करवाना होगा। उक्त समस्त निर्देश अजमेर शहर के मै .टाटा पावर व भीलवाडा के मै. सीक्योर मीटर पर भी लागू होंगे।

Prev Post

जहाजपुर:पचासी मे लगी आग, फसल जल कर हुई खाक

Next Post

हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन चिकित्सकीय पर्ची पर ही मरीजों को उपलब्ध होगी- रोहित सिंह

Related Post

Latest News

राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
सीएम गहलोत को क्लीन चिट,धारीवाल -जोशी को कारण बताओ नोटिस

Trending News

केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know
राजस्थान घमासान- गहलोत को क्लिनचिट,धारीवाल सहित 3 को नोटिस

Top News

राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know
सीएम गहलोत को क्लीन चिट,धारीवाल -जोशी को कारण बताओ नोटिस
राजस्थान घमासान- गहलोत को क्लिनचिट,धारीवाल सहित 3 को नोटिस
मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास का बीजेपी पर आरोप सरकार गिराने का फिर हो रहा है षड्यंत्र