ज्योति
देश राजस्थान

ज्योति के लिए वरदान बना प्रधानमंत्री राहतकोष के 500 रुपए

प्रधानमंत्री राहत कोष से आए पांच सों रूपये वरदान बने बिहार के जिले सिंहवाडा प्रखंड के सिरहुल्ली गाँव की बेटी 13 साल की ज्योति के लिए पांच सों से ज्योति ने एक पुराणी साइकिल खरीदी और चल पड़ी । अपने बीमार पिता को लेकर गुरुग्राम से लगभग 1200 किमी की दुरी तय की आठ दिन में और अपने बीमार पिता को सकुशल लेकर घर पहुची ।

आपको बता दे की देश में इस समय ज्योति किसी सेलिब्रिटीज से कम नही है सोशल मिडिया पर ज्योति की सराहना हो रही हैं । ज्योति का पिता गुरुग्राम में ईरिक्शा चलाकर परिवार का पेट पालता था लेकिन 26 जनवरी को एक्सीडेंट होने के कारण उनके जाघ की हड्डी कई जगहों से टूट गयी थी ।

पैर का आपेरशन हुआ था पिता का अभी इलाज़ चल हि रहा है  कोरोना वायरस की वजह से पुरे देश में लॉक डाउन लग गया इसी वजह उनके दवाऔर खाने के भी लाले पड़ गये थे और मकान का किराया नही देने पर मकान मालिक ने भी उनको घर से बहार निकल दिया था ।

कलयुग में बनी बेटी श्रवन कुमारी कहे सकते है जो इतनी कम उम्र में अपने पिता को इतनी लम्बी यात्रा करके घर ले गई गाँव जा के उसने अपना और अपने पिता का मेडिकल करवा के होम असोलेशन कर लिया हैं।

 

 

 

 

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.