खत्म हुआ लुका छुपी का खेल, निलंबित आईएएस निर्मला मीणा ने किया सरेंडर

    जोधपुरहजारों क्विंटल गेहूं का गबन मामले में आरोपी है निलंबित निर्मला मीणा  जोधपुर । आठ करोड़ रुपए के पैंतीस हजार क्विंटल गेहूं का गबन करने के मामले में आरोपी निलम्बित आईएएस व तत्कालीन जिला रसद अधिकारी निर्मला मीणा ने बुधवार की दोपहर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) कार्यालय में सरेंडर कर दिया। गरीबों को …

खत्म हुआ लुका छुपी का खेल, निलंबित आईएएस निर्मला मीणा ने किया सरेंडर Read More »

May 16, 2018 8:15 am

 

 

जोधपुरहजारों क्विंटल गेहूं का गबन मामले में आरोपी है निलंबित निर्मला मीणा 

जोधपुर । आठ करोड़ रुपए के पैंतीस हजार क्विंटल गेहूं का गबन करने के मामले में आरोपी निलम्बित आईएएस व तत्कालीन जिला रसद अधिकारी निर्मला मीणा ने बुधवार की दोपहर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) कार्यालय में सरेंडर कर दिया। गरीबों को बांटे जाने वाले राशन के 35 हजार क्विंटल गेहूं को आटा मिलों में बेचकर आठ करोड़ रुपए के घोटाले की मुख्य आरोपी सीनियर आईएएस (निलंबित) निर्मला मीणा हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत खारिज होने के साथ ही भूमिगत चल रही है।शनिवार को ही आय से अधिक सम्पति का मामला दर्ज हुआ था

एसीबी ने गत दिनों ही निलम्बित आइएएस निर्मला मीणा व पति पवन मित्तल की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। एसीबी ने निर्मला मीणा के साथ ही उसके पति के खिलाफ 12 मई को आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित करने की एक और एफआइआर दर्ज की। पुलिस अधीक्षक (एसीबी) अजयपाल लाम्बा ने बताया कि निलम्बित आइएएस व उसके पति के खिलाफ पिछले दस साल में काली कमाई से तेरह सम्पत्तियां अर्जित करने का आरोप है। इन सम्पतियों की अनुमानित कीमत करीब तीन करोड़, सात लाख रुपए आंकी गई है। गेहूं के गबन का मामला दर्ज होने के बाद एसीबी ने जब दोनों के सम्पत्ति संबंधी दस्तावेज खंगालने शुरू किए तब इन दोनों की उन्नीस सम्पत्तियों का खुलासा हुआ था। लेकिन एसीबी ने सिर्फ पिछले दस साल की काली कमाई से अर्जित सम्पत्तियों का ही चयन किया है।

एसीबी को थी जल्द समर्पण की उम्मीद

सुप्रीम कोर्ट से राहत मिलने की उम्मीद धराशायी होने के बाद निलम्बित आईएएस मीणा पूरी तरह एसीबी के शिकंजे में थी। मीणा के सामने गिरफ्तारी के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा था। हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद से मीणा व उसके पति पवन मित्तल गायब हैं। एसीबी को पवन मित्तल से भी पूछताछ करनी है।

यह है मामला

तत्कालीन डीएसओ निर्मला मीणा पर आरोप है कि लगभग पैंतीस हजार क्विंटल गेहूं गलत तरीके से वितरित किया गया था। एसीबी ने अपनी जांच में पाया था कि तत्कालीन डीएसओ मीणा ने सिर्फ मार्च 2016 में तैंतीस हजार परिवार नये जोड़े और उच्चाधिकारियों को स्वयं की ओर से प्रेषित रिपोर्ट में अंकित कर 35 हजार 20 क्विंटल गेहूं अतिरिक्त मंगवा लिया था। नये परिवारों को ऑनलाइन नहीं किया गया। फिर गायब भी हो गए। मीणा ने आठ करोड़ रुपए का अतिरिक्त गेहूं का आवंटन करवा लिया। ठेकेदार सुरेश उपाध्याय व स्वरूपसिंह राजपुरोहित की आटा मील भिजवा दिया था। करोड़ों रुपए का गबन कर लिया था। जांच के बाद राज्य सरकार ने आईएएस अधिकारी निर्मला मीणा को निलम्बित कर दिया था। बाद में आटा मील मालिक स्वरूपसिंह राजपुरोहित ने भी पूछताछ में कबूल किया था कि उसने 105 ट्रक में दस हजार पांच सौ 500 क्विंटल गेहूं काला बाजार में बेचा है।

Prev Post

बीज रथ को हरी झड़ी दिखाई

Next Post

अवैध बजरी खनन की लगातार मिल रही थी शिकायतें

Related Post

Latest News

दिल्ली में केंद्रीय पशुपालन मंत्री जी सीएम गहलोत की वार्ता, पशुओं में फैल रहे लंपी स्किन रोग पर जल्द पाएंगे नियंत्रण
टोंक में रक्षाबंधन का त्यौहार पर ऐतिहासिक परंपरा जो राजपूत समाज कर रहा हैं, जानें
एसडीएम वर्षा मीणा एवं एसआई गौरव कुमार की सूझबूझ से टला हादसा

Trending News

समीक्षा बैठक में  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया बड़ा फ़ैसला, जानें 
आरक्षण में संशोधन के लिए ओबीसी के लोगों का विरोध-प्रदर्शन, रैली निकाल दी चेतावनी
Rajasthan में 200 पशु चिकित्साधिकारियों व 300 पशुधन सहायकों की होगी अस्थाई भर्ती 
खेल दिवस पर ग्रामीण ओलंपिक का आगाज़, 22 हजार खिलाड़ियों की 126 टीमों मे होगा महामुकाबला

Top News

दिल्ली में केंद्रीय पशुपालन मंत्री जी सीएम गहलोत की वार्ता, पशुओं में फैल रहे लंपी स्किन रोग पर जल्द पाएंगे नियंत्रण
टोंक में रक्षाबंधन का त्यौहार पर ऐतिहासिक परंपरा जो राजपूत समाज कर रहा हैं, जानें
एसडीएम वर्षा मीणा एवं एसआई गौरव कुमार की सूझबूझ से टला हादसा
अब कभी भी खुल सकता है राजनीतिक व संगठनात्मक नियुक्तियों का पिटारा, गहलोत-माकन ने फाइनल किए नाम
वीडियो संदेश के जरिए सीएम गहलोत ने दी रक्षाबंधन की बधाई, राजस्थान को भी आगे बढ़ाने का आह्वान
सीएम गहलोत फिर पहुंचे दिल्ली, उपराष्ट्रपति धनकड़ के शपथग्रहण समारोह में करेंगे शिरकत
आईफ़ोन 14 को लेकर सबसे बड़ी ख़बर ,अब होगा मेड इन इंडिया होगा आई फ़ोन 14, जानें अब क्या होगी इसकी रेट
‘द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज- चैंपियंस’ राजू श्रीवास्तव को पड़ा दिल का दौरा
मोदी के कार्यकाल में भारत विकास की रफ्तार पकड़ रहा है - घनश्याम तिवाड़ी
जयपुर पुलिस का ये होगा नया प्रतीक चिन्ह ,महानिदेशक पुलिस  एम एल लाठर ने किया अनावरण