झुंझुनूं

डिजिटल माध्यम से नहीं जुड़े बच्चों से व्यक्तिगत संपर्क करें शिक्षक

Jhunjunu News। राजकीय विद्यालयों में चल रहे आओ घर में सीखे 2.0 कार्यक्रम के तहत संचालित ऑनलाइन शिक्षण की विधा स्माइल 3.0 के प्रभावी क्रियान्वयन का पर्यवेक्षण करने के लिए राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद की उपायुक्त सना सिद्दीकी द्वारा जिले का दौरा किया गया। निरीक्षण के उपरान्त उपायुक्त सना सिद्दीकी ने संस्था प्रधानों व अध्यापकों के स्तर पर शिक्षण के लिए किए जा रहे कार्य की जानकारी ली, लिखित रिकॉर्ड को चेक किया। साथ ही बच्चों को रेंडमली फोन कॉल करके फीडबैक लिया व अध्यापक डायरी भी चेक की।

इस दौरान उन्होंने संस्था प्रधानों व अध्यापकों को मुख्य रूप से डिजिटल माध्यम से नहीं जुड़े बच्चों से अध्यापकों द्वारा व्यक्तिशः सम्पर्क कर उन्हें होमवर्क देना, क्विज करवाना और पोर्टफोलियो तैयार करना तथा संस्था प्रधान द्वारा फील्ड में जाने वाले अध्यापकों व दिए जाने वाले और संकलित किए जाने वाले कार्य का एक रजिस्टर में रिकॉर्ड संधारित करने के लिए कहा।

उपायुक्त ने कहा कि जो बच्चे डिजिटल माध्यम से कार्य कर रहे है उनका भी प्रिंट निकाल कर पोर्टफोलियो तैयार करना चाहिए। निरीक्षण के दौरान उपायुक्त ने कुछ विद्यालयों का कार्य सराहनीय पाया गया तो उनकी प्रशंसा की तो वहीं कुछ विद्यालयों की कमजोर स्थिति के कार्य में अपेक्षित सुधार करने की चेतावनी दी। मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी घनश्यामदत्त जाट ने उपायुक्त को जिले के शिक्षा विभाग से संबंधित जानकारी उपलब्ध करवाई।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम