लूट-फायरिंग के विरोध में झुंझुनूं बंद,आरोपी योगेश के एनकाउंटर की मांग

अंकित  घटना वाले दिन बोलेरो चलाकर लेकर आया था और वह बाहर गाड़ी में बैठकर रैकी कर रहा था। घटना का मुख्य आरोपी योगेश चाराणावासी बदमाश प्रवृति का है। उसके खिलाफ फायरिंग, लूट, मारपीट सहित कई संगीन मामले दर्ज है। अगस्त ,2016 में योगेश ने झुंझुनूं जेल परिसर में कार्यरत जेल प्रहरी पर फायरिंग कर दी थी

encounter

झुंझुनूं

शहर में न्यू प्रकाश ज्वैलर्स में ज्वैलर जतिन सोनी को गोली मारकर लाखों रुपए के जेवरात लूटनेRob the jewelry के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर मंगलवार को झुंझुनूं बंद रहा। बंद के दौरान कलेक्ट्रेट परिसर में घुसने का प्रयास कर रही भीड़ की पुलिस से धक्का-मुक्की हो गई। सर्व समाज की ओर से कलेक्टर Collector और एसपी SP को ज्ञापन सौंपकर मुख्य आरोपी योगेश के एनकाउंटर encounter की मांग की गई।

घटना के विरोध में सर्वसमाज के आह्वïान पर झुंझुनूं शहर पूर्णतया बंद रहा। शहर का कपड़ा मार्केट, गुदड़ी बाजार, एक नम्बर रोड, गांधी चौक सहित सभी बाजार बंद रहे। मामले में लिप्त सभी आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तार की मांग को लेकर सर्वसमाज की ओर से गांधी चौक से कलेक्टे्रट तक रैली भी निकाली गई। घंटेभर तक कलेक्टे्रट पर सर्वसमाज ने नारेबाजी कर प्रदर्शन किया।

इस दौरान भीड़ ने कलेक्टे्रट परिसर में घुसने की कोशिश की तो पुलिस से धक्का-मुक्की हो गई। उसके बाद समाज के प्रतिनिधियों ने जिला कलेक्टर Collector और एसपी SP को ज्ञापन देकर आरोपियों को गिरफ्तारी की मांग की। पुलिस अधीक्षक SP गौरव यादव ने 24 घंटे में सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। एसडीएम ने भी कलेक्टे्रट परिसर में आकर विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों को समझाइश कर शांत करवाया।

विरोध-प्रदर्शन कर रहे लोगों ने घटना के मुख्य आरोपी योगेश चाराणवास के एनकाउंटरencounter की मांग भी उठाई। लोगों ने 24 घंटे में सभी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर फिर से आंदोलन protest की चेतावनी दी है। मामले में लिप्त चार आरोपियों में से पुलिस ने सोमवार को एक आरोपी अंकित उर्फ मिठू को गिरफ्तार कर लिया था। बाकी तीन आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस टीम को अलग-अलग जगह भेजा गया है।

अंकित  घटना वाले दिन बोलेरो चलाकर लेकर आया था और वह बाहर गाड़ी में बैठकर रैकी कर रहा था। घटना का मुख्य आरोपी योगेश चाराणावासी बदमाश प्रवृति का है। उसके खिलाफ फायरिंग, लूट, मारपीट सहित कई संगीन मामले दर्ज है। अगस्त ,2016 में योगेश ने झुंझुनूं जेल परिसर में कार्यरत जेल प्रहरी पर फायरिंग कर दी थी।

इसके अलावा गुरुग्राम में एटीएमATM में रुपए डालने जा रही वैन VAN से 38 लाख लूटने और बेरी तथा झगार में जान से मारने की नीयत से फायरिंग करने का मामला दर्ज है। झुंझुनूं सदर में योगेश पर 3-4 मामले दर्ज है। अभी वह जमानत पर बाहर चल रहा था। आरोपी योगेश ने घटना वाले दिन पीडि़त ज्वैलर को अपना आईडी कार्ड देकर पुलिस को खुली चेतावनी देकर गया था।