टोंक राजस्थान

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की जनजागृति चेतना रैली का हुआ आयोजन

टोंक। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के व्यापक जन जागरूकता के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग टोंक द्वारा जनजागृति चेतना रैली का आयोजन किया गया। इस रैली को सीएमएचओ डॉ देवप्राज मीणा ने हरी झण्डी दिखा कर रवाना किया। इस रैली माध्यम से आमजन को मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में जागरूक किया जाएगा।

 सीएमएचओ ने बताया कि स्वास्थ्य पर होने वाले खर्च प्रत्येक परिवार की सबसे बड़ी चिंताओं में से एक है। राजस्थान सरकार ने एक मानवीय पहल करते हुए मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना प्रारंभ की है।

जिसमें सभी प्रदेशवासियों को निःशुल्क एवं बेहतर चिकित्सा सुविधाएं मिल रही हैं। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत प्रदेश में हर परिवार को अस्पताल में भर्ती होने पर कैशलेस इलाज के लिए 10 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा कवर दिया जाएगा।

इस योजना के अन्तर्गत एमपैनल्ड सरकारी एवं निजी अस्पतालों में हार्ट, कैंसर, न्यूरो, कोविड, ब्लैक फंगस जैसी गंभीर बीमारियों का इलाज निःशुल्क किया जा रहा है। इसके अलावा अत्यधिक महंगे इलाज जो कि आमजन के पहुंच से बाहर होते हैं जैसे कोकलियर इंप्लांट्स, बोन मैरो ट्रांसप्लांट, किडनी ट्रांसप्लांट, लिवर ट्रांसप्लांट, घुटना प्रत्यारोपण , डायलिसिस जैसे महंगे ईलाज भी निशुल्क उपलब्ध करवाए जा रहे है।

सीएमएचओ ने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र परिवार, लघु व सीमांत कृषको, संविदा कर्मियों व कोविड-19 के दौरान अनुग्रह राशि प्राप्त करने वाले निराश्रित एवं असहाय परिवारों का पूरा बीमा प्रीमियम राज्य सरकार दे रही है।

अन्य परिवार 850 रूपये प्रति वर्ष देकर योजना से जुड़ सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत विभिन्न बीमारियों के उपचार में 1633 पैकेज शामिल किए गए हैं। योजना से जुड़े निजी एवं सरकारी अस्पताल में लाभार्थी परिवार कैषलेष उपचार ले सकते है।

डिप्टी सीएमएचओ डॉ0 महबूब खान ने बताया कि टोंक जिले में अब तक लगभग 3 लाख 5 हजार परिवार मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना योजना पंजीकरण करवा चुके हैं, और करीब 77 हजार परिवार वंचित है।

डॉ. खान ने इन सभी वंचित परिवारों से अपील की वे मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में अपना पंजीकरण कराएं जिससे वे 10 लाख रुपये तक का निःशुल्क इलाज एवं 5 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा कवर से अपने परिवार को सुरक्षा प्रदान करें।

जिससे ईलाज में होने वाले खर्चे से निश्चित हो सके। डॉ खान ने बताया कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के प्रत्येक लाभार्थी परिवार को दुर्घटना में होने वाले मृत्यु, स्थाई अपंगता की स्थिति में 5 लाख रुपये तक का दुर्घटना बीमा भी नियमानुसार राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है।

इसके क्लेम के लिये ई-मित्र पर जाकर आवेदन किया जा सकता है। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए अपने जन आधार कार्ड, जन आधार नंबर, या जन आधार पंजीयन रसीद नजदीकी ई-मित्र केंद्र में जाकर पंजीकरण करावे।

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.