पीसीसी मुख्यालय की जनसुनवाई में महिला ने दी आत्महत्या की धमकी

जयपुर। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आज से शुरू हुई जनसुनवाई के दौरान आज अपनी फरियाद लेकर आई महिला ने मंत्री के सामने ही सुनवाई नहीं होने से नाराज होकर आत्महत्या की धमकी दे दी।मंत्री और महिला के बीच कुछ देर तक नोकझोंक भी हुई। बाद में मंत्री सालेह मोहम्मद इस मामले को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तक पहुंचाने का आश्वासन दिया, तब जाकर महिला शांत हुई।

दरअसल यह महिला कोविड हेल्थ असिस्टेंट वर्करों के प्रतिनिधिमंडल के साथ आई थी। महिला वर्कर ने कहा कि अगर हमारी मांगे पूरी नहीं हुई तो आत्महत्या कर लूंगी। हम पिछले 50 दिन से ज्यादा समय से धरने पर बैठे हैं छोटे-छोटे बच्चे भी हमारे साथ बैठे हैं लेकिन हमारी मांगों को नहीं सुना जा रहा है अब हमारे सब्र का बांध भी जवाब दे रहा है।

महिला वर्कर के साथ आए अन्य वर्करों ने भी मंत्री से महिला हेल्थ असिस्टेंट को स्थाई करने की मांग की, जिस पर मंत्री सालेह मोहम्मद और हेमाराम चौधरी ने उनकी मांगों को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के समक्ष रखने का आश्वासन दिया।

गौरतलब है कि महिला की ओर से मंत्री के समक्ष आत्महत्या देने की धमकी के बाद वहां तैनात सेवादल कार्यकर्ताओं और पुलिसकर्मियों में भी अफरा तफरी मच गई थी। पुलिसकर्मियों ने प्रतिनिधिमंडल के साथ आई महिला और प्रतिनिधि मंडल को ज्ञापन देने के बाद पीसीसी मुख्यालय से बाहर कर दिया।