जयपुर

क्या सैनी ” ना घर के रहेंगे और ना घाट के “

 

जयपुर (सत्य पारीक ,वरिष्ट पत्रकार ) । तो क्या भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी ” ना घर के रहेंगे और ना घाट के ” उन्होंने घोषणा तो इसी स्टाइल में की है कि जब तक अपनी पार्टी को फिर से सत्तारूढ़ नहीं करदेंगे तब तक अपने जन्मस्थान के घर सीकर नहीं जाएंगे , वैसे भी वहां वे कब जाते हैं घर जयपुर में भी है , वैसे भी भाजपा नेताओं को फेंकने की पुरानी आदत रही है ऐसे में सैनी साहब ठहरे कट्टर भाजपावादी सो आव देखा न ताव फेंक डाली क्योंकि जिसके कारण प्रदेशाध्यक्ष बने उसे भी तो खुश करना ही था लगे हाथ सीकर वाले घर न जाने का संकल्प टिका दिया ।

 

वैसे सवाल उठना स्वाभाविक है कि सैनी साहब को सीकर वाले घर गए कितना अरसा हो गया ? सीकर वालों का अपनी स्टाइल में कहना है कि ” हमने तो केवल ब्याव शादियों में ही मदनजी के दर्शन सीकर में किये हैं ” ऐसे में उनकी घर न जाने की घोषणा केवल मुख्यमंत्री को खुश करने के लिए ही है , वैसे इनसे पहले भी की प्रदेशाध्यक्ष बने है जिनके डेरे तम्बू प्रदेश भाजपा कार्यालय में ही रहे हैं जैसे डॉ महेश शर्मा

 

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *