केन्द्रीय मंत्री भी नहीं बचा पाए अपना संसदीय क्षेत्र

  जयपुर विधानसभा चुनावों में भाजपा के स्टार प्रचारकों में शुमार रहे प्रदेश के पांच केन्द्रीय मंत्री उनके निर्वाचन क्षेत्र में ही बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। सिर्फ पाली और बीकानेर संसदीय सीट के चार-चार विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा ने फतह हासिल की है शेष अन्य मंत्रियों के संसदीय इलाको में भाजपा का फीका …

केन्द्रीय मंत्री भी नहीं बचा पाए अपना संसदीय क्षेत्र Read More »

December 12, 2018 7:34 pm

 

जयपुर
विधानसभा चुनावों में भाजपा के स्टार प्रचारकों में शुमार रहे प्रदेश के पांच केन्द्रीय मंत्री उनके निर्वाचन क्षेत्र में ही बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। सिर्फ पाली और बीकानेर संसदीय सीट के चार-चार विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा ने फतह हासिल की है शेष अन्य मंत्रियों के संसदीय इलाको में भाजपा का फीका प्रदर्शन रहा है।
इसमें बुरी स्थिति तो जयपुर ग्रामीण, नागौर और जोधपुर संसदीय क्षेत्र में हुई है जहां पार्टी को सिर्फ दो-दो सीटों से ही संतोष करना पड़ा है। इन पांचो मंत्रियों के संसदीय इलाकों में शामिल 40 सीटों में से भाजपा को 15 सीटें ही मिल पाई है जबकि कांग्रेस ने यहां 20 सीटें ली और अन्य 5 सीटों पर निर्दलीय अन्य दलों ने जीत दर्ज की है। इससे पहले इन 40 सीटों में से 32 पर भाजपा, 5 पर कांग्रेस तथा तीन पर निर्दलीय विधायक थे।
जोधपुर संसदीय क्षेत्र केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का है और शेखावत भाजपा की चुनाव प्रबन्धन समिति के संयोजक भी थे, लेकिन पार्टी उनके संसदीय क्षेत्र में भी बुरी तरह से पिछड़ गई। यहां भी भाजपा को दो सीटों जोधपुर और सूरसागर से ही संतोष करना पड़ा है जबकि यहां शेष 6सीट सरदारपुरा, फलौदी, लोहावट, शेरगढ, लूणी और पोकरण पर कांग्रेस ने कब्जा किया है। पिछले चुनावों में यहां 7 सीटों पर भाजपा और एक पर कांग्रेस काबिज हुई थी।
इसी क्रम में केन्द्रीय विधि राज्य मंत्री पीपी चौधरी के संसदीय क्षेत्र पाली में भाजपा ने सोजत, पाली, बाली और सुमेरपुर विधानसभा सीटों पर जीत दर्ज की है। शेष दो औसियां और बिलाडा में कांग्रेस, मारवाड जंक्शन निर्दलीय और भोपालगढ सीट पर राष्टï्रीय लोकतांत्रिक मोर्चा ने कब्जा जमाया है, जबकि पहले यहां सभी 8 सीटों पर भाजपा का कब्जा था। बीकानेर में केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल के क्षेत्र में भी पार्टी का यहीं हाल रहा है। इसमें बीकानेर ईस्ट, लूणकरणसर, नोखा और अनूपगढ में भाजपा को जीत मिली है तथा शेष तीन सीटों खाजूवाला, बीकानेर वेस्ट और कोलायत पर कांग्रेस और डूंगरगढ सीट माकपा के खाते में गई है। गत चुनावों में यहां 5 सीटों पर भाजपा, 2 कांग्रेस और एक निर्दलीय के खाते में थी।
केन्द्रीय उपभोक्ता मामलात राज्यमंत्री सीआर चौधरी के निर्वाचन क्षेत्र नागौर में भाजपा ने दो सीटों नागौर और मकराना पर जीत दर्ज की है। बची हुई छह सीटों में से लाडनूं, डीडवाना, जायल, परबतसर और नावां कांग्रेस के खाते में तथा खींवसर सीट राष्टï्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के हिस्से में आई है। यहां पहले 7 सीटों पर भाजपा और एक सीट निर्दलीय के पास थी।
केन्द्रीय युवा मामलात और खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के जयपुर ग्रामीण क्षेत्र में भी पार्टी ने फुलेरा और आमेर में विजयश्री प्राप्त की है वहीं पांच सीटों कोटपूतली, बानसूर, विराटनगर, झोटवाडा और जमवारामगढ में कांग्रेस और शाहपुरा सीट निर्दलीय के खाते में गई है। यहां पर पिछली बार 5 सीटों पर भाजपा, दो पर कांग्रेस और एक सीट पर राजपा का विधायक था।

Prev Post

नेता पुत्रों ने दिखाया दम

Next Post

किसानों का कर्ज माफ नही किया तो आन्दोलन: मेघवाल

Related Post

Latest News

पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi

Trending News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 

Top News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन.. 
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi
राजस्थान में PFI पर शिकंजा कसने के कलेक्टर व एस पी को दिए अधिकार, पदाधिकारी भूमिगत
गहलोत नही लडेंगे चुनाव, सिंह कल भरेंगे नामांकन,राजस्थान पर फैसला आज