भडकाऊ बयानबाजी करने के आरोप में मौलाना सहित दो गिरफ्तार, जेल भेजा, आज सुनवाई

पूरे प्रदेश में सांप्रदायिक माहौल तनावपूर्ण और एक दूसरे के समुदाय द्वारा जुबानी जंग तथा हिंसा की घटनाएं लगातार हो रही है और इसी कड़ी में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में हाड़ोती क्षेत्र की बूंदी कोतवाली पुलिस ने उदयपुर घटनाक्रम के बाद नींद से जागते हुए 25 दिन बाद भड़काऊ भाषण देने के आरोप में एक मौलाना सहित दो जनों को गिरफ्तार कर लिया है

July 2, 2022 11:27 am
भडकाऊ बयानबाजी करने के आरोप में मौलाना सहित दो गिरफ्तार, जेल भेजा, आज सुनवाई

जयपुर/ राजस्थान में भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा एक टीवी डिबेट के दौरान हजरत पैगंबर मोहम्मद साहब पर की गई टिप्पणी के बाद पूरे प्रदेश में सांप्रदायिक माहौल तनावपूर्ण और एक दूसरे के समुदाय द्वारा जुबानी जंग तथा हिंसा की घटनाएं लगातार हो रही है और इसी कड़ी में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में हाड़ोती क्षेत्र की बूंदी कोतवाली पुलिस ने उदयपुर घटनाक्रम के बाद नींद से जागते हुए 25 दिन बाद भड़काऊ भाषण देने के आरोप में एक मौलाना सहित दो जनों को गिरफ्तार कर लिया है । इस गिरफ्तारी के बाद विरोध प्रदर्शन क्या आशंका को देखते हुए कोतवाली सही शहर में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है ।

बूंदी शहर में नुपुर शर्मा के विरुद्ध प़दर्शन के दोरान भङकाऊ बयान देने वाले मोलाना नदीम अख्तर सकाफी की जोर पकङ रही गिरप्तारी की मांग के मध्नजर कोतवाली पुलिस ने आज मोलाना नदीम और उसके साथी आलम गोरी को गिरप्तार कर लिया है ।

विदित है की आरोपित मौलाना नदीम अख्तर ने 3 जून को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन के दौरान नबी की शान के विरुद्ध बोलने वालो के हाथ काट दिये जाने आँख निकाल लिये जाने और जीभ काट दिये जाने की धमकी दी थी ।जिसके बाद उक्त भङकाऊ बयान के सोशल मिडिया पर वायरल होने के बाद हिन्दू संगठनो द्वारा 5 जून को कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज करवाया गया था।जिसके बाद मौलाना की गिरप्तारी की मांग को लेकर हिन्दू संगठनो द्वारा धरना प्रदर्शन किये गए।लेकिन पुलिस द्वारा मौलाना की गिरप्तारी में रुचि नही दिखाई गई।

लेकिन में उदयपुर में हुए कन्हैयालाल हत्याकांड के बादपुलिस हरकत में आई और पुलिस प्रशासन ने तत्परता दिखाते हुए मौलाना नदीम अख्तर सकाफी और उसके एक साथी को मीरागेट मस्जिद में जुमे की नवाज के बाद गिरप्तार किया।जिसके बाद पुलिस द्वारा कङी सुरक्षा के बीच मोलाना और उसके साथी को लाकर पूछताछ की जा रही है ।

अभियोजन अधिकारी हरिसिंह मीणा ने आरोपी मौलाना मुफ्ती नदी और उनके सहयोगी मोहम्मद आलम गोरी के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने के मामले में 295ए नफरत फैलाने 153 ए तथा देश की अखंडता को क्षति पहुंचाने 153 बी आईपीसी के तहत कार्यवाही की ।

कोतवाली पुलिस ने मौलाना और उसके सहयोगी को गिरफ्तार करने के बाद भारी पुलिस जाति के बीच न्यायालय में पेश किया उधर आरोपियों की ओर से जमानत पत्र भी न्यायालय में दाखिल हुआ लेकिन न्यायालय का समय समाप्त हो जाने के कारण उसूल पर सुनवाई नहीं हो पाई इससे मौलाना मुफ्ती नदीम और उसके सहयोगी मोहम्मद आलम को पुलिस ने जेल भेज दिया आज दोनों की जमानत पत्र पर कोर्ट में सुनवाई होगी।

Prev Post

NIA टीम पहुंची भीलवाड़ा के आसींद में, रियाज के संपर्क में कौन-कौन थे , पड़ताल शुरू

Next Post

उद्धव ठाकरे को सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली राहत , फ्लोर टेस्ट से पहले ही उद्वव ठाकरे ने दिया इस्तीफा

Related Post

Latest News

बजरी ट्रक ऑपरेटरों यूनियन की सोहेला मिर्च मण्डी मे बैठक का आयोजन 
Rajasthan : कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, आलाकमान पर छोड़ा जा सकता है मुख्यमंत्री चयन का फैसला
कांग्रेस में 'एक व्यक्ति एक पद' का सिद्धांत फॉर्मूला, एक दर्जन नेताओं को देना पड़ेगा इस्तीफा

Trending News

भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
ब्रश, स्पंज और उंगलियों से लिक्विड फाउंडेशन कैसे लगाएं
आपके जीवन में स्वस्थ कितना जरुरी हैं और आहार क्या है, फायदे और डाइट चार्ट
बोलेरो को ट्रेलर ने मारी टक्कर तीन की मौत दो बच्चों सहित पांच गम्भीर घायल, भीलवाड़ा रैफर

Top News

बजरी ट्रक ऑपरेटरों यूनियन की सोहेला मिर्च मण्डी मे बैठक का आयोजन 
Rajasthan : कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, आलाकमान पर छोड़ा जा सकता है मुख्यमंत्री चयन का फैसला
भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
उपराष्ट्रपति कल राजस्थान के बीकानेर दौरे पर
नवरात्रा 26 से, घट स्थापना का मुहूर्त कब-कब और कैसे करें जानें 
PFI को खाड़ी देशों से मदद, Ed ने 120 करोड़ रुपए किए जब्त,PM पर हमले की थी साजिश
अंकिता हत्याकांड - भाजपा के नेता व पूर्व मंत्री के बेटे के रिसोर्ट पर चला बुलडोजर नेता पार्टी से निलंबित 
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन आज से शुरू, 30 सितम्बर है आखिरी तारीख
कांग्रेस में 'एक व्यक्ति एक पद' का सिद्धांत फॉर्मूला, एक दर्जन नेताओं को देना पड़ेगा इस्तीफा
मुख्यमंत्री कौन होगा काउंट डाउन शुरू : सचिन पायलट सहित ये प्रमुख नाम