जयपुर में झांसा देकर बिटकॉइन बेचकर लाखों रुपए की ठगी

 थाने में चार और मामले दर्ज, दो दर्जन लोगों से ठगे थे लाखों रुपए
जयपुर। राजधानी के शिप्रा पथ थाने में डिजिटल करेंसी  बिटकॉइन के जरीए लाखों रुपए ठगी करने के चार और मामले दर्ज हुए है। इस मामले में दो दर्जन से अधिक लोगों से लाखों रुपए की ठगने की बात सामने आ रही है। पुलिस ने इस गिरोह के दो लोगों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।
पुलिस के अनुसार झांलाना डूंगरी निवासी दीपक, टोंक निवासी कैलाश चंद,अलवर निवासी सीताराम और मानसरोवर निवासी दीपक अग्रवाल ने  तीन लोगों के खिलाफ दोगुना मुनाफे का झांसा देकर बिटकॉइन बेचकर लाखों रुपए की ठगी करने का मामला दर्ज करवाया है। मामले की जांच कर रहे एसआई हेतराम ने बताया कि सभी पीड़ितों का आरोप है कि आरोपित विक्रम , संजय और जितेन्द्र चौहान ने दोगुना मुनाफे का झांसा देकर उनसे लाखों रुपए की ठगी है। पुलिस ने सभी पीड़ितो के बयानों के आधार पर  मामला दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।
इस तरह की धोखाधड़ी के पूर्व मामले में मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए विक्रम और संजय को गिरफ्तार किया जा चुका है । जिसमें विक्रम पांच माह जेल में रहने के बाद उसे जमानत मिल चुकी और अभी संजय जेल में है। वहीं एक आरोपित जितेन्द्र चौहान फिलहाल फरार चल रहा है।  जिसकी तलाश की जा रही है। पुलिस ने इस मामले में दो दर्जन से अधिक पीड़ित लोगों के बयान भी दर्ज कर चुकी है।