राजस्थान में डीजे की धुन पर वो काटा…के शोर से गूंजा,छतों पर पतंगों की उड़ान

Jaipur News। कोरोना के संक्रमण काल में मकर राशि में प्रवेश के साथ ही उत्तर की ओर गमन करने वाले सूर्य की पहली किरणों के साथ गुरुवार की सुबह प्रदेश में मकर संक्रांति का उल्लास बिखेर चुकी हैं। प्रदेश में राजधानी जयपुर समेत विभिन्न शहरों में छतों पर उमड़ा जनसमूह हवा के साथ पतंगों की …

राजस्थान में डीजे की धुन पर वो काटा…के शोर से गूंजा,छतों पर पतंगों की उड़ान Read More »

January 14, 2021 4:38 pm

Jaipur News। कोरोना के संक्रमण काल में मकर राशि में प्रवेश के साथ ही उत्तर की ओर गमन करने वाले सूर्य की पहली किरणों के साथ गुरुवार की सुबह प्रदेश में मकर संक्रांति का उल्लास बिखेर चुकी हैं। प्रदेश में राजधानी जयपुर समेत विभिन्न शहरों में छतों पर उमड़ा जनसमूह हवा के साथ पतंगों की कलाबाजियां बिखेर कर डीजे की धुनों पर वो काटा…वो काटा के शोर के बीच उन्मादित हैं तो श्रद्धालु महिलाएं पवित्र सरोवरों में डुबकी लगाकर ठाकुरजी की पूजा कर दान-पुण्य की रस्में निभा रही हैं। रजवाड़ों से चली आ रही परंपरा की डोर जितनी ऊंचाई तक पहुंच रही है, हर मन की खुशियां उतनी ही ऊंचाइयां ले रही हैं।

मकर संक्रान्ति के मौके पर जयपुर, कोटा, बीकानेर, उदयपुर, जोधपुर समेत अन्य छोटे-बड़े शहरों में उत्साह हिलोरे ले रहा है। अलवर में परंपरा के अनुसार बच्चों से लेकर बड़े तक मैदानों में, छतों पर, घर की चार दीवारी में गेंद लेकर सतोलिया, राउंडल और क्रिकेट का लुत्फ उठा रहे हैं। राजधानी जयपुर में पतंगबाजी का कोलाहल छतों से सुनाई देना शुरु हो गया है। पतंगों की डोर की सांय-सांय और छतों पर रखे म्यूजिक सिस्टम पर बज रहे नए-पुराने गानों के साथ बीच-बीच में ये काटा-वो काटा, पेच लड़इयो जैसे शब्द गूंज रहे हैं।

इस बार कोरोना के कारण पर्यटन विभाग का पतंग महोत्सव नहीं हो रहा है, लेकिन छतें पूरी तरह आबाद हैं। उदयपुर में संक्रांति पर आमजन धार्मिक गतिविधियों में व्यस्त हैं। मंदिरों में रौनक है। घर-घर तिल गुड़ के पकवानों से महक उठे हैं। अजमेर जिले के पुष्कर स्थित सरोवर में तडक़े से ही स्नान की परंपरा निभाई जा रही है। सरोवर में स्नान-ध्यान और मंदिरों में प्रभु की आराधना का सिलसिला चल रहा है। जोधपुर में तडक़े उठकर स्नान-ध्यान करने और मंदिरों तक जाने की परंपरा का निर्वहन श्रद्धालुओं ने शुरु कर दिया है।

गुरुवार को सूरज उगने से पहले डीजे पर बज रहे गानों और वो काटा…के शोर ने साफ कर दिया कि जयपुर के लोगों में पतंगबाजी का जुनून कम नहीं है। कोरोना महामारी ने बीते 8 माह में दीपावली, ईद, दशहरा और क्रिसमस जैसे 15 से ज्यादा पर्वों का उत्साह फीका कर दिया था। लेकिन, 2021 के पहले पर्व मकर संक्रांति पर उत्साह और जोश हिलोरे ले रहा हैं। राजधानी जयपुर में अलसुबह से ही छतों से डीजे के गाने बज रहे हैं। दिन चढऩे के साथ ही आसमान में बादल छंटते चले गए और पतंगबाजी का जुनून परवान चढऩे लगा। डीजे पर बज रहे गानों के साथ गरमा-गरम पकौड़े, चाय, तिल के लड्डू, गजक-रेवड़ी के साथ लोग जमकर पतंगबाजी कर रहे हैं। पतंगबाजी के इस उत्सव में न केवल पुरुष, बल्कि महिलाएं भी पीछे नहीं है।

कोरोना के बाद यह पहला त्योहार है जब प्रशासन भी थोड़ा नरमी में दिखा। पतंगों की दुकानें नाइट कफ्र्यू के बाद भी देर रात तक खुली और लोगों ने खरीददारी की। टोंक रोड, चारदीवारी, वैशाली नगर, मानसरोवर, गोपालपुरा सहित अन्य कई बाजारों में पतंग-डोर की दुकानों को छोडक़र शेष दुकानें बंद रही।

सूर्य आज मकर राशि में प्रवेश कर गया। इसके साथ ही सूरज की चाल भी दक्षिण से उत्तर दिशा की ओर से हो गई। आज से सर्दी का प्रभाव भी धीरे-धीरे कम होने लगेगा। इस बार मकर राशि में पंचग्रही योग बनेगा, जो करीब 59 साल बाद बनेगा। मकर संक्रांति का पुण्यकाल सुबह 7.31 से शुरू हो गया जो शाम 5.50 बजे तक रहेगा। ज्योतिषाचार्यों की मानें तो मकर राशि में बुधवार को चन्द्रमा प्रवेश कर गए हैं। सुबह 8.15 मिनट पर सूर्य भी मकर राशि में प्रवेश कर गए। इससे पहले मकर राशि में बुध, गुरु और शनि पहले से ही चल रहे हैं। इस तरह मकर राशि में पंचग्रही योग बनेगा। इसी के साथ आज का दिन दान पुण्य के लिहाज से भी अहम हैं। लोग सुबह से गौशालाओं व अन्य स्थानों पर गायों को गुड़, हरा चारा देने पहुंच रहे हैं। वहीं मंदिरों के बाहर बैठे बेघर लोगों को भी खाने-पीने की चीजे, कपड़े आदि दान कर रहे हैं।

Prev Post

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से पूर्व चेयरमैन हिना दिलीप ईसरानी सहित 26 प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल किये

Next Post

एक बार फिर सचिन पायलट ने साबित किया की वे किसी पद के मोहताज़ नही

Related Post

Latest News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज

Trending News

वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी

Top News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
टोंक शांति एवं सद्भावना समिति की बैठक आयोजित
जयपुर को मिली एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की मेजबानी, अमित शाह करेंगे उद्घाटन सत्र में शिरकत
विजयादशमी पर  जयपुर में 29 स्थानों पर संघ का पथ संचलन, शस्त्र पूजन व शारीरिक प्रदर्शन भी होंगे
वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
टोंक जिला स्तरीय राजीव गांधी युवा मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित%%page%% %%sep%% %%sitename%%
Upload state insurance and GPF passbook in new version of SIPF
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से सुमन, रिजवाना बानो एवं दिनेश को मिली राहत
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज