प्रदेशभर में गर्मी का रौद्र रूप बना हुआ है

    जयपुर। प्रदेशभर में गर्मी का रौद्र रूप बना हुआ है। दिन में आसमान से अंगारे बरस रहे हैं तो रात में भी गर्म हवा के थपेड़ों से आमजन पस्त हो चुका है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो आगामी चौबीस घंटे में प्रदेश का पश्चिमी इलाका रेड अलर्ट पर रहेगा और दिन में पारा …

प्रदेशभर में गर्मी का रौद्र रूप बना हुआ है Read More »

May 28, 2018 7:34 am

 

 

जयपुर। प्रदेशभर में गर्मी का रौद्र रूप बना हुआ है। दिन में आसमान से अंगारे बरस रहे हैं तो रात में भी गर्म हवा के थपेड़ों से आमजन पस्त हो चुका है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो आगामी चौबीस घंटे में प्रदेश का पश्चिमी इलाका रेड अलर्ट पर रहेगा और दिन में पारा 45 डिग्री व उसके पार ही रहने वाला है। सूर्योदय के साथ ही धूप की शुरू हो रही तपिश का असर सूर्यास्त के बाद तक रहने से दिन में प्रदेश के कई शहरों में कर्फ्यु जैसे हालात बन गए हैं। वहीं दूसरी तरफ पूर्वोत्तर के कुछ इलाकों में अगले कुछ दिनों में गर्मी के तीखे तेवरों से थोड़ी राहत मिलने की उ मीद मौसम विभाग जता रहा है। कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में चक्रवाती तंत्र सक्रिय होने व छितराई बौछारों के असर से प्रदेश के पूर्वोत्तर भागों में गर्मी के तेवर थोड़े नर्म रहने की उ मीद है। बीते चौबीस घंटे में राजधानी समेत प्रदेश के कई इलाकों में पारा 45 डिग्री व उसके पार दर्ज हुआ। दिन में मानों आसमान से आग बरस रही है जिसके चलते राजधानी की सडक़ों पर सन्नाटा पसर रहा है तो सूर्यास्त के बाद भी सामान्य दिनों की तुलना में लोगों की आवाजाही कम नजर आ रही है। बीती रात पश्चिमी इलाकों में रात के तापमान में बढ़ोतरी दर्ज हुई। बाड़मेर और बीकानेर में बीती रात पारा 29.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ वहीं सवाई माधोपुर 29.3, डबोक और जयपुर में न्यूनतम तापमान 28.6 डिग्री सेल्सियस रहा। जयपुर में बीती रात के तापमान में एक डिग्री गिरावट दर्ज हुई लेकिन दिन की तपिश के कारण रात में गर्मी से लोग बेचैन रहे। अजमेर में न्यूनतम तापमान 26.0 रहा वहीं मैदानी इलाकों में भीलवाड़ा में सबसे कम 24.8 डिग्री सेल्सियस तापमान रिकॉर्ड हुआ है। जयपुर में आज सुबह छह किलोमीटर प्रतिघंटे की र तार से बही पश्चिमी हवा ने झुलसाया। आज सुबह नौ बजे अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस रहा वहीं स्थानीय मौसम केंद्र ने आज शहर का अधिकतम तापमान 45 डिग्री व उससे ज्यादा रहने का अंदेशा व्यक्त किया है। मंगलवार शाम तक दक्षिण पश्चिमी मानसून केरल तट पर उपस्थिति दर्ज करा सकता है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो अरब सागर के दक्षिणी भाग में बन रही अनुकूल परिस्थितियों के कारण दक्षिण पश्चिमी मानसून मंगलवार शाम तक केरल तट पहुंचने की उ मीद है।

Prev Post

देह व्यापार में सात युवतियां समेत 12 गिरफ्तार

Next Post

चाचा-भतीजे पर पलटा खौलते डामर से भरा डंपर

Related Post

Latest News

उदयपुर घटना - भीलवाड़ा, टोंक व नागौर अजमेर में नेट बंद
राजस्थान में नुपूर शर्मा के समर्थक दर्जी की दूकान में घुस खुलेआम से नृशंस हत्या, आरोपियों ने किया वीडियों वायरल, नुपूर व पीएम मोदी को धमकी

Trending News

स्थापना दिवस पर देशवाली मदद फाउंडेशन ने कि शिक्षण सामग्री वितरित
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल से 3 दिवसीय प्रवास पर रहेंगे जोधपुर
शिक्षा विभाग- राष्ट्रीय शिक्षा नीति 6 हजार शिक्षकों को प्रशिक्षण 23 तक

Top News

उदयपुर घटना - भीलवाड़ा, टोंक व नागौर अजमेर में नेट बंद
राजस्थान में नुपूर शर्मा के समर्थक दर्जी की दूकान में घुस खुलेआम से नृशंस हत्या, आरोपियों ने किया वीडियों वायरल, नुपूर व पीएम मोदी को धमकी
अधिकारी को नेता से जान का खतरा, Whatsaap पर शेयर किया दर्द 
सीएम गहलोत आज से 3 दिन अपने गृह जिले जोधपुर के दौरे पर, दो समुदायों के बीच दूरियां कम करने पर रहेगा फोकस!
स्थापना दिवस पर देशवाली मदद फाउंडेशन ने कि शिक्षण सामग्री वितरित
शिक्षा विभाग - संस्था प्रधान और शिक्षक होंगे सम्मानित,निदेशक अग्रवाल का नवाचार,और..
डॉक्टर व शिक्षक परिवार ने सामूहिक आत्महत्या नहीं की , हत्या की गई थी , दो गिरफ्तार 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बड़ी घोषणा, 'प्रदेश का अगला बजट युवा केंद्रित होगा'