सरकार और मुख्य सचिव सुधांश पंत के आदेश केवल कागजी साबित,और अब यह आदेश..

Dr. CHETAN THATHERA
2 Min Read

जयपुर। राजस्थान में सरकार बदलने के बाद सरकारी कार्यालय और अधिकारियों को लेकर कई निर्णय लिए गए हैं और कई परंपराओं पर रोक लगाई गई है और इसी कड़ी में अब सरकार ने प्रदेश में सरकारी अधिकारियों के स्वागत की इस परंपरा पर भी रोक लगा दी है ।

प्रदेश में नई सरकार का गठन होने के बाद ब्यूरोक्रेट्स के मुखिया चीफ सेक्रेटरी के पद पर सुधांश पंत की ताजपोसी होने के बाद सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों और सरकारी कार्यों की कार्य प्रणाली को सुधारने सहित कई निर्णय लिए गए हैं जिम पहले सरकारी मीटिंग के दौरान नाश्ता दिया जाता था जिसमें मिठाई कचोरी समोसा वेफर्स और पानी की बोतल की परंपरा थी लेकिन उसको बंद करते हुए।

नाश्ते में चना और मूंगफली देने तथा प्लास्टिक की बोतल नहीं देने पर रोक लगाई गई हालांकि आज तक भी इस पर पूरी तरह से तो अमल नहीं हो पाया है आज भी नेताओं की मंत्रियों की और सरकारी अधिकारियों की बैठकों में नाश्ते के रूप में वही कचौड़ी मिठाई और वेफर्स दिया जा रहा है ।

Advertisement

इसके बाद चीफ सेक्रेटरी पंत ने एक आदेश जारी किया कि सरकारी अधिकारियों और कार्मिकों को ड्यूटी के दौरान मर्याद आईटी कपड़े पहने होंगे जींस और शर्ट पहनने पर रोक रहेगी हालांकि इस आदेश की भी पालन अभी तक पूरी तरह से नहीं हो पाई है और आज भी सरकारी कार्यालय में ड्यूटी के दौरान अधिकारी और कार्मिक जींस शर्ट पहने हुए देखे जा सकते हैं ।

S.C.G.C.I SCHOOL TONK
ADVERTISEMENT

अब हाल ही में मुख्य सचिव सुधांश पंत ने सभी विभागों के प्रशासनिक सचिवों और एचओडी की ली बैठक के बाद एक दिशा निर्देश जारी किया है कि अब सरकारी कार्यालय में बैठकों में उच्च अधिकारियों को स्वागत के रूप में बुक के नहीं दिए जाएंगे और इस परंपरा पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम