जयपुर राजस्थान

स्विस बैंक ने जारी की चौथी लिस्ट, आयकर विभाग अलर्ट

जयपुर। स्विस बैंक ने भारतीय खाताधारकों की लिस्ट जारी की है. दरअसल, भारत को सालाना स्वचालित सूचना विनिमय (annual automatic information exchange) के तहत स्विस बैंक (Swiss Bank) से भारतीय खाताधारकों की चौथी लिस्ट मिली है.

इसमें उन भारतीय नागरिकों और संगठनों की डिटेल है, जिनकी बड़ी रकम यहां जमा है. समझौते के मुताबिक स्विट्जरलैंड ने 101 देशों के साथ लगभग 34 लाख वित्तीय खातों की डिटेल शेयर की है. 

पीटीआई के मुताबिक, स्विस बैंक (Swiss Bank) की ओर से भारत के साथ साझा की गई डिटेल के चौथे सेट में सैकड़ों फाइनेंशियल अकाउंट का पूरा लेखा-जोखा मौजूद है. इसमें कुछ व्यक्तियों, कॉरपोरेट्स और ट्रस्टों से जुड़े खाते शामिल हैं.

रिपोर्ट की मानें तो इस एक्सचेंज के तहत 101 देशों के साथ करीब 34 लाख अकाउंट्स डिटेल्स शेयर की गई है. भारत के साथ साझा किए गए खातों के संबंध में हालांकि, यह नहीं बताया गया कि इन खातों में ब्लैक मनी जमा हैं, लेकिन शक जाहिर किया गया है कि स्विस बैंक के इन खातों को ओपन टैक्स बचाने व अन्य वित्तीय दांवपेंच के लिए खुलवाया गया है. 

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया कि स्विस बैंक से मिले इस बैंकिंग डाटा का इस्तेमाल मनी लॉन्ड्रिंग, टेरर फंडिंग की जांच के साथ ही टैक्स चोरी के अन्य मामलों की पड़ताल के लिए भी किया जा सकेगा. अब इनकम टैक्स डिपार्टमेंट इन खातों की निगरानी करेगा.

गौरतलब है कि भारत को सितंबर 2019 में AEOI के तहत स्विट्जरलैंड से खातों की डिटेल का पहला सेट मिला था. उस समय यह जानकारी पाने वाले देशों की संख्या 75 थी. वहीं बीते साल की बात करें तो भारत समेत 86 देशों के साथ डिटेल साझा की गई थी. 

स्विस बैंक के इन खातों के डिटेल्स से ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने में आसानी होगी, जो गलत तरीके से कमाई बेहिसाब संपत्ति के लिए इन खातों का सहारा लेते हैं. पीटीआई के मुताबिक, फेडरल टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन (FTA) ने सोमवार को स्विस बैंक्स की डिटेल्स 101 देशों को साझा करते हुए बताया कि इस बार 5 नए देशों को डाटा एक्सचेंज प्रोग्राम में शामिल किया गया है.

इस बार अल्बानिया, ब्रुनेई दारुस्सलाम, नाइजीरिया, पेरू और तुर्की को भी उनके देश के लोगों द्वारा खोले गए अकाउंट्स के बारे में डिटेल्स दे दिए गए हैं.

एफटीए ने खातों की डिटेल्स साझा करते हुए यह भी बताया कि स्विस बैंक्स में इस बार करीब 1 लाख नए अकाउंट्स खोले गए हैं.

एफटीए के अनुसार भारतीय खातों से जुड़ी डिटेल देश के बड़े संस्थानों, बिजनेस हाउसेस व व्यक्तियों से संबंधित है. डिटेल्स में पहचान, खाताधारक का नाम, पता,निवास के साथ ही अन्य वित्तीय जानकारियां मुहैया कराई गई हैं. स्विस बैंक खातों की डिटेल्स से जुड़ा अगला यानी पांचवां सेट अगले साल सितंबर महीने में साझा किया जाएगा. 

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.