जयपुर

सुरंग खोद करोड़ों की चांदी चोरी का मामला -4 गिरफ्तार मास्टर माइंड मामा-भांजा की तलाश

जयपुर / शहर की वैशाली नगर थाना इलाके में सुरंग खोदकर डॉक्टर के घर से करोड़ों रुपये की चांदी चोरी के मामले का पुलिस ने सोमवार को खुलासा किया। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। फिलहाल गिरफ्तार आरोपितों से पूछताछ की जा रही है, वहीं षडय़ंत्रकारी ज्वैलर्स मामा-भांजे की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। पुलिस प्रथमदृष्टया जांच में चोरी गई करोड़ों रुपये की चांदी की सिल्लियों को बाजार में विक्रय करना सामने आया है।

अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर (प्रथम) अजय पाल लाम्बा ने बताया कि वैशाली नगर थाना इलाके में सुरंग खोदकर डॉक्टर के घर से करोड़ों रुपये की चांदी चोरी मामले में आरोपित बनवारी लाल जांगिड़ (52) निवासी गांव टोडा मीणा जमवारामगढ हाल बालाजी बिहार फूलवाडी कुण्डा आमेर, कालू राम सैनी (35) निवासी माली की कोठी आगरा रोड कानोता, केदार जाट (43) निवासी राम मार्ग श्याम नगर और रामकरण जांगिड़ (40) निवासी बालाजी बिहार पीली तलाई आमेर को गिरफ्तार किया है। नकबजनी की इतनी बड़ी व शातिराना तरीके से वारदात के षडय़ंत्रकारी ज्वैलर्स शेखर अग्रवाल निवासी राम मार्ग श्याम नगर और उसके भांजे जतिन जैन की तलाश की जा रही है। फरार मामा-भांजे ने करोड़ों रुपये की चांदी की सिल्लियों को अपनी गाड़ी में रखकर बाजार में ठिकाने लगाया है, जिसकी बरामगी के प्रयास किए जा रहे है।

आयकर विभाग का भय दिखाकर चांदी में करोड़ों रुपये का निवेश करवाया

सहायक पुलिस आयुक्त वैशाली नगर रायसिंह बेनीवाल ने बताया कि मुख्य आरोपित शेखर अग्रवाल की बड़ी चौपड़ पर एन.जे.बुलियन व नारायण लाल जग्गी लाल सर्राफ और सिटी पल्स में बोरला के नाम से सोने-चांदी की ट्रेडिंग की दुकान है। परिवारी डॉक्टर सुनीत सोनी के ज्वैलर्स शेखर अग्रवाल से परिवारिक व व्यवसायिक संबंध है। आयकर विभाग का भय दिखाकर डॉक्टर सुनीत व उसके परिजनों से शेखर अग्रवाल ने चांदी में करोड़ों रुपये का निवेश करवाया। भारी मात्रा में खरीदी गई चांदी की सिल्लियों को मकान के बेंसमेंट में अपने भांजे जतिन जैन, गिरफ्तार आरोपित कर्मचारी केदार जाट व कालू राम सैनी की मदद से फर्श में लोहे के बॉक्स में रखवाकर चांदी रखवाई। जिसके बाद नकबजनी की साजिश रचकर मामा-भांजे व दोनों कर्मचारियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया।

सुरंग खोदने के बदले दिए इतने रूपये

थानाधिकारी अनिल जैमन ने बताया कि करोड़ों रुपए की चांदी की सिल्लियों को गत दिवाली को ही फर्श में लोहे के बॉक्स में रखवाया गया था। जिनको हड़पने के लिए ज्वैलर्स मामा-भांजे ने साजिश रचकर लाखों रुपये निवेश किए। जिसके चलते परिचित बनवारी को शामिल किया, जिसके नाम से डॉ. सुनीत के पीछे वाला भूखण्ड 97 लाख रुपये में खरीदा। बनवारी को मामा-भांजे ने लाखों रुपये का लालच दिया। ज्वैलर्स मामा-भांजे पहले खुद ही सुरंग की खुदाई में लगे रहे, जिसके बाद उन्होंने अपनी ज्वैलर्स ट्रेडिंग कंपनी में काम करने वाले दोनों कर्मचारी केदार जाट व कालू राम को शामिल कर लिया। बनवारी ने पेशे से कारपेंटर अपने पड़ौसी रामकरण जांगिड़ को मैन पावर व सुरंग खोदने में उपयोग आने वाले आजौर के बदले 5 लाख 50 रुपये भी दिए।

मां-बेटे नेपाल में हुए थे गिरफ्तार

फरार भांजा जतिन जैन पूर्व में भी बैंकॉक से सोने की तस्करी में अपनी मां सरिता जैन के साथ नेपाल में गिरफ्तार हुआ था। जिसके बाद वह रिश्ते में लगने वाले अपने मामा शेखर अग्रवाल की फर्म में काम करने लगा। उसने ही अपने मामा के साथ मिलकर डॉक्टर सुनीत को चांदी दिलवाई थी।

और वह रोने लगा

गिरफ्तार आरोपित बनवारी के सुपर विजन में सुरंग की खुदाई की गई थी। पूछताछ में उसने साथियों के साथ मिलकर ज्वैलर्स शेखर अग्रवाल की कार में चांदी की सिल्लियों को रखना स्वीकार किया है। मीडिया को अपने सामने देखकर बनवारी फूट-फूट कर रोने लगा।

कितनी लंबी थी सुरंग आप जाऐंगे चौंक

करीब 26 फीट लम्बी व 10 फीट गहराई पर 26 फीट लम्बी व तीन फीट चौड़ी सुरंग खोदकर चांदी की सिल्लियों को चुराना उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा था। आयकर विभाग से बचे रहने के साथ ही उसने आगामी वर्षो में चांदी के भाव के आसमान छूने के बारे में जानता था। इसके चलते उसने ज्वैलर्स शेखर अग्रवाल से भारी मात्रा में करोड़ों रुपए की चांदी खरीदी। शेखर अग्रवाल के सुझाव पर ही फर्श में लोहे के तीन बॉक्स को गाड़ा गया। एक बॉक्स के चांदी की सिल्लियों से भरने के बाद फर्श पर टाइल्स लगाकर पैक कर दिया गया। आगे भविष्य में ओर चांदी की सिल्लियों को खरीदकर रखने के लिए ही डॉक्टर ने दो खाली बॉक्स को जमीन में रखा था।

यह थी घटना

विदित है कि 24 फरवरी को वैशाली नगर निवासी डॉ. सुनीत सोनी ने मामला दर्ज करवाया था कि उसके मकान के बेसमेंट की फर्श में सुरक्षार्थ चांदी की सिल्लियां लोहे के बॉक्स में रखी गई थी। फर्श को तुड़वाकर देखने पर चांदी गायब थी और लोहे के बॉक्स को कटर से काटा हुआ था। वहां तक पहुंचने के लिए एक सुरंग भी बनाई गई है। जिसे देखकर डॉक्टर सुनीत सोनी व घर में मौजूद लोगों के होश उड़ गए और पुलिस को सूचित किया। हालांकि, डॉ. सुनीत ने पुलिस को चांदी की 18 सिल्लियां होना बताया है, जिसका वजन व कीमत के बारे में जानकारी नहीं दी।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम