“ द्वितीय राष्ट्रीय लोक अदालत वर्ष 2022 “ का आयोजन 14 मई से

“Second National Lok Adalat Year 2022” will be organized from May 14

जयपुर । राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली के निर्देशानुसार दिनांक 14.मई को वर्ष 2022 की “ द्वितीय राष्ट्रीय लोक अदालत “ का आयोजन किया जा रहा है। राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर निदेशक ने बताया कि उक्त राष्ट्रीय लोक अदालत में आपसी राजीनामे से अधिकाधिक प्रकरणों का निस्तारण हो, इसके लिए 25. अप्रैल सोमवार को श्रीमान् दिनेश कुमार गुप्ता, सदस्य सचिव, रालसा एवं जयपुर व्यापार महासंघ के व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों के मध्य आज बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें जयपुर व्यापार महासंघ व कैट राजस्थान अध्यक्ष सुभाष गोयल, राजस्थान चेंबर ऑफ़ कॉमर्स एण्ड इंड. के सचिव आनन्द महरवाल, फोर्टी सचिव सुरेश सैनी, कैट जयपुर अध्यक्ष सचिन गुप्ता, सर्राफा संघ के मनीष खूंटेटा, जौहरी बाजार के मंत्री राजकुमार वाधवानी, घी वालों के रास्ते के अध्यक्ष नीरज लुहाड़िया, लाल कोठी के मोहन लाल सैनी एवं हल्दियों के रास्ते के अध्यक्ष सुरेन्द्र बाज उपस्थित थे। राजस्थान विधिक सेवा प्राधिकरण के संयुक्त सचिव, श्री धीरज शर्मा ने मीटिंग का संचालन किया।

न्यायाधीश दिनेश गुप्ता, सदस्य सचिव, रालसा ने बताया कि लोक अदालत के माध्यम से सभी व्यापारी अपने वित्तीय लेन-देन के विवादों को समझौता द्वारा निराकरण करने के लिए तत्पर हों, विशेष रूप में अनादरित चैकों के मामले, ताकि अधिकाधिक विवादों का आपसी सुलह एवं समझाईश के जरिये निराकरण हो सके। इस प्रक्रिया में केवल एक आवेदन के माध्यम से सभी वित्तीय लेन देन के विवादों का निराकरण कर सकते हैं, इसमें निर्णय त्वरित एवं प्रभावी है।

इससे उन्हें अनावश्यक परेशानियों से भी मुक्ति मिलेगी। यह लोक अदालत संपूर्ण भारत वर्ष में तहसील स्तर तक लगाई जाएगी। राष्ट्रीय लोक अदालत में राजीनामा योग्य विवादों को आपसी समझाईश के माध्यम से सुलझाने का प्रयास किया जाता है, एवं अधिकांश विवादों का निस्तारण होता है। सभी व्यपारियों को इस मंच का लाभ उठाना चाहिए। अंत में सभी से अनुरोध किया कि उक्त राष्ट्रीय लोक अदालत के सफल आयोजन में अपनी भागीदारी निभायें।