भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पद की घोषणा में अफवाह तंत्र भारी

जयपुर।(सत्य पारीक)प्रदेश भाजपा में अशोक परनामी के त्याग पत्र की घोषणा के बाद रोज एक नया नाम उछाला जा रहा है , रविवार को स्वायत मंत्री श्री चन्द किरपलानी के नाम पर अफवाह तन्त्र अंतिम मोहर लगवा रहा था मगर नहीं लगी , आज सोमवार को राज्यसभा सांसद नारायण पंचारिया पर अंतिम सहमति बनवा चुका है देखें अमित शाह का ठप्पा लगता है या नहीं वरना मंगलवार को फिर एक नया नाम उछलेगा , भाजपाई परेशान है कि वे स्वंय देश के सबसे बड़े अफ़वाह तन्त्र के स्वामी है फिर कौन है जो उनके तन्त्र में घुसपैठ कर चुका है ।
जिस दिन परनामी के त्याग पत्र की चर्चा चली थी उसी दिन से अफवाह बाजार में केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुन मेघवाल का नाम तय बताया जा रहा था लेकिन परनामी के त्याग पत्र के शुभ मुहूर्त के समय यकायक अफवाह बाजार में उछल कर आया , वो था केंद्रीय राज्यमंत्री गजेंद्र सिंह का , बस केवल इनके नाम पर मोहर बाकी थी जिसमे स्याही अभी तक नहीं लगी , शनिवार को समाचार पत्रों में तो एक से बढ़ कर एक कमाल के नाम भावी प्रदेशाध्यक्ष के थे जिनमें भूपेंद्र यादव , अरुण चतुर्वेदी , राज्यवर्धन सिंह राठौड़ आदि के मगर मुख्यमंत्री की पसंद का अभी नाम बाजार में नहीं उछला ।
अगर जल्दी ही नए प्रदेशाध्यक्ष की घोषणा नहीं हुई तो अनेक नाम भी उछलेंगे नेताओं को चन्द घण्टो के वेटिंग् प्रदेशाध्यक्ष बनाने के , साथ मे मंत्री मण्डल विस्तार की अफवाहें अपना स्थान बनाने में सफल है , मीडिया वालों के आगे पीछे नेताओं और सरकारी ख़ुफ़िया तन्त्र भी सूंघने में लगा रहता है कहीं भनक पड़ जाए ।