जयपुर

यूनानी पैथी पर रिसर्च एवं डवलपमेंट जरूरी

जयपुर। ऑल इंडिया यूनानी तिब्बी कांग्रेस (All India Unani Tibi Congress)की ओर से रविवार को यहां चेंबर ऑफ कॉमर्स में विश्व यूनानी चिकित्सा दिवस समारोह पूर्वक मनाया गया। समारोह के मुख्य अतिथि एवं ज्ञान विहार विश्वविद्यालय के प्रबंधक डॉक्टर सुशील शर्मा ने उपस्थित जनों से नई नॉलेज क्रिएट करने की बात कहते हुए यूनानी पैथी के रिसर्च और डवलपमेंट की ओर ध्यान केंद्रित करने पर बल दिया।

वहीं अध्यक्षता कर रहे हैं यूनानी पैथी के पूर्व डीन डॉ जी क्यू चिश्ती ने कहा कि खिदमत का जज्बा होना जरूरी है और हमें अपने बच्चों को व्यावहारिक ज्ञान की ओर अग्रसर करना होगा। अतिथि एवं राजपूताना युनानी मेडिकल कॉलेज के सचिव जाकिर गुड एज ने कहा कि ज्ञान बांटने से बढ़ता है। यूनानी पैथी एक आधुनिक प्रणाली की ओर अग्रसर है।

उन्होंने इस पैथी पर विषय विशेषज्ञों से पुस्तकें लिखने और उन्हें प्रोत्साहित करने पर बल दिया। वहीं राजस्थान युनानी मेडिकल कॉलेज के सचिव डॉ परवेज वारसी ने हकीम अजमल खान की संघर्ष गाथा को विस्तार से बताया। अतिथि एवं विधायक अमीन कागजी ने यूनानी के प्रणेता हकीम अजमल खान के पैथी को दिए गए योगदान को बताते हुए इसके लिए समर्पित भाव से सेवा देने की बात कही।

कार्यक्रम आयोजक एवं युनानी तिब्बी कांग्रेस के अध्यक्ष डॉक्टर इरशाद खान, महासचिव डॉक्टर सैयद अब्दुल मुजीब ने भी पैथी के जनक हकीम अजमल खान के योगदान को विस्तार से बताया। वहीं राजपूताना युनानी मेडिकल कॉलेज के प्रशासनिक अधिकारी अनीस अहमद अल्वी एवं प्रिंसिपल प्रोफेसर शफीक अहमद नकवी व अन्य ने यूनानी पैथी में सराहनीय योगदान के लिए विभिन्न विशेषज्ञ चिकित्सकों को शाल ओढ़ाकर एवं मोमेंटो देकर सम्मानित किया।

समारोह में यूनानी पैथी जयपुर के डिप्टी डायरेक्टर डॉ मनमोहन खींची, डॉक्टर नवाज उल हक, डॉक्टर अकमल सहित कई विषय विशेषज्ञ उपस्थित रहे और उन्होंने यूनानी पैथी के लिए की जा रही सराहनीय सेवाओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए उपस्थित जनों से इसकी आधुनिकता एवं इसके विस्तार पर विशेष बल दिया।

कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर सय्यद अब्दुल मुजीब ने किया तथा युनानी मेडिकल कॉलेज टोंक के प्रिंसिपल डॉ इरशाद खान ने सभी आगंतुकों का धन्यवाद ज्ञापित किया।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/