राजस्थान निकाय चुनाव – भाजपा का घटा जनाधार कांग्रेस ने बढाई ताकत

Jaipur News ।  प्रदेश के 20 जिलों में 90 नगरीय निकायों में 28 जनवरी को हुए चुनावों के बाद रविवार को 48 निकायों में कांग्रेस अपना बोर्ड बनाने में सफल हो गई। जबकि, भारतीय जनता पार्टी 37 स्थानों पर अपने उम्मीदवारों को जिता पाई। तीन निकायों में निर्विरोध अध्यक्ष पूर्व में ही बन चुके हैं। …

राजस्थान निकाय चुनाव – भाजपा का घटा जनाधार कांग्रेस ने बढाई ताकत Read More »

February 7, 2021 8:19 pm

Jaipur News ।  प्रदेश के 20 जिलों में 90 नगरीय निकायों में 28 जनवरी को हुए चुनावों के बाद रविवार को 48 निकायों में कांग्रेस अपना बोर्ड बनाने में सफल हो गई। जबकि, भारतीय जनता पार्टी 37 स्थानों पर अपने उम्मीदवारों को जिता पाई। तीन निकायों में निर्विरोध अध्यक्ष पूर्व में ही बन चुके हैं। नतीजों में एनसीपी व आरएलपी को एक-एक और निर्दलीयों को 3 बोर्ड पर कब्जा करने में सफलता मिली है। इन निकायों में शामिल अजमेर नगर निगम में दोबारा भाजपा का कब्जा हो गया। यहां भाजपा प्रत्याशी बृजलता हाड़ा ने कांग्रेस की उम्मीदवार द्रोपदी देवी को पराजित कर महापौर की कुर्सी पर कब्जा किया।

राज्य के 20 जिलों के निकायों में रविवार को अध्यक्ष पद के चुनाव परिणाम आ गए हैं। कुचामन नगर पालिका में कांग्रेस के हाइब्रिड प्रत्याशी आसिफ खान ने भाजपा प्रत्याशी हरीश कुमावत को हराया। भाजपा के 18 और कांग्रेस के 20 पार्षद चुनकर आए थे। 7 निर्दलीय जीते, लेकिन भाजपा की ओर से हुई क्रॉस वोटिंग के बाद कांग्रेस के प्रत्याशी को 44 वोट मिल गए। यहां 38 साल बाद कांग्रेस का बोर्ड बना है। बीकानेर की तीनों नगर पालिकाओं में से नोखा में एक बार फिर नारायण झंवर ने एनसीपी के टिकट पर जीत दर्ज की है। उन्होंने अपने चाचा भाजपा प्रत्याशी श्रीनिवास झंवर को हराया। देशनोक में कांग्रेस के ओमप्रकाश मूंदड़ा अध्यक्ष बने हैं। श्रीडूंगरगढ़ में भाजपा के मानमल शर्मा ने जीत हासिल की। सूरजगढ़ नगर पालिका मे भाजपा की पुष्पा गुप्ता चेयरमैन बनीं। बूंदी नगर परिषद में कांग्रेस की मधु नुवाल जीतीं। नागौर की मूंडवा पालिका में आरएलपी का बोर्ड बना है। नागौर नगर परिषद में सभापति निर्दलीय मीतू बोथरा निर्वाचित हुई हैं। उन्होंने कांग्रेस की ममता भाटी को 8 वोट से हराया। मीतू को 34 और ममता को 26 वोट मिले। कांग्रेस के 27 पार्षद थे, जिनमें से एक वोट कम मिला। संगरिया पालिका में कांग्रेस के सुखवीर सिंधु, पीलीबंगा में कांग्रेस के सुखचैन सिंह, रावतसर में कांग्रेस के श्याम सुंदर, नोहर में कांग्रेस की मोनिका व भादरा में भी कांग्रेस के दाऊद अध्यक्ष पद पर निर्वाचित घोषित किए गए हैं।

 

अजमेर में पार्षद जब वोट डालने पहुंचे तो कांग्रेस और भाजपा के समर्थक आमने-सामने हो गए। दोनों के समर्थकों के बीच तनातनी बढ़ गई। इस बीच तनाव बढ़ता उससे पहले ही पुलिस ने समर्थकों को समझा-बुझा कर अलग कर दिया। बग्गड़ में भाजपा के गोविंद सिंह राठौड़ चेयरमैन बने। गोविंद सिंह को 15 वोट मिले, जबकि कांग्रेस की माया सैनी को 5 वोट मिले। यहां पहले भी निर्दलीयों के सहयोग से भाजपा का बोर्ड था। विजयनगर में भाजपा की अनिता मेवाड़ा अध्यक्ष बनी, कांग्रेस की ज्योति यादव 1 मत से हारीं। भींडर में जनता सेना की प्रत्याशी निर्मला भोजावत नगर पालिका अध्यक्ष चुनी गई हैं। जनता सेना को 13 और कांग्रेस समर्थित निर्दलीय लता चौबीसा को 10 वोट मिले। भाजपा के दोनों पार्षदों ने वोट नहीं डाला। सरवाड़ में कांग्रेस के छगन कंवर ने भाजपा की शारदा देवी को 9 मतों से हराया। पोकरण में भाजपा के मनीष पुरोहित अध्यक्ष निर्वाचित घोषित किए गए हैं। परबतसर में भाजपा से ओमप्रकाश सेन नगरपालिका के अध्यक्ष बने। सेन ने कांग्रेस के लोकेश सैनी को हराया। निर्दलीय मुश्ताक खान ने भी भाजपा को वोट दिया। भाजपा को 15 व कांग्रेस को 10 वोट मिले। नागौर में सभापति निर्दलीय मीतू बोथरा निर्वाचित हुई हैं। उन्होंने कांग्रेस की ममता भाटी को 8 वोट से हराया। मीतू को 34 और ममता को 26 वोट मिले। अजमेर की केकड़ी नगरपालिका में कांग्रेस से उम्मीदवार कमलेश कुमार साहू ने भाजपा उम्मीदवार मिश्रीलाल को 8 मतों से हराया। कमलेश को 24 मत मिले। खास बात यह रही है कि भाजपा के 17 पार्षद थे लेकिन वोट 16 ही मिले। पूर्व में यहां भाजपा का बोर्ड था और अनिल मित्तल चेयरमेन थे। मंडावा पालिका में कांग्रेस के नरेश सोनी चेयरमैन बने हैं। सोनी को 19 वोट मिले। भाजपा प्रत्याशी को मिले सिर्फ 6 वोट। यानी नरेश सोनी 13 वोट से जीते। पीलीबंगा में कांग्रेस के सुखचैन सिंह रमणा ने भाजपा को 7 वोट से हराया। कांग्रेस को 21 और भाजपा प्रत्याशी को 14 वोट मिले। पाली जिले के तखतगढ़, सोजत, बाली व रानी में भाजपा प्रत्याशी विजयी घोषित किए गए हैं।

 

बूंदी की केशोरायपाटन नगर पालिका में कांग्रेस का कब्जा हो गया है। यहां कांग्रेस के कन्हैया कराड़ 16 वोट लेकर भाजपा प्रत्याशी से 7 वोट से जीत गए हैं। इंदरगढ़ में नगर पालिका में अध्यक्ष पद पर कांग्रेस के बाबूलाल बैरवा ने जीत दर्ज की है। कांग्रेस को 13 व भाजपा के पूरनमल को 7 मत मिले। कापरेन नगर पालिका में कांग्रेस के हेमराज मेघवाल को 15 व भाजपा को 10 वोट मिले। बोर्ड कांग्रेस का बना। नैनवां नगरपालिका में कांग्रेस की प्रेमबाई गुर्जर चेयरमैन में चुनी गई हैं। उन्होंने भाजपा की सरिता नागर को 5 वोटों से पराजित किया। बेगूं में कांग्रेस की रंजना लाड चेयरमैन बनी हैं। कांग्रेस को 17 और भाजपा को मिले 8 वोट मिले। 2 निर्दलीयों ने भी कांग्रेस के पक्ष में मतदान किया।

 

खेतड़ी नगर पालिका मे कांग्रेस की गीता देवी चेयरमैन बनी। उन्होंने भाजपा की रीमा शाह को 3 वोट से हराया। कांग्रेस की गीता देवी को 14 और भाजपा की रीमा शाह को 11 वोट मिले। निर्दलीय किरण बाला ने खुद को भी अपना वोट नहीं दिया। श्रीमाधोपुर से भाजपा के हरिनारायण महंत 1 वोट से जीते। उदयपुरवाटी में कांग्रेस के रामनिवास सैनी अध्यक्ष बने। इन्हें 24 वोट मिले। भाजपा के ललित सैनी को 13 वोट से हराया।

 

चिड़ावा में कांग्रेस की सुमित्रा सैनी चेयरमैन बनीं हैं। उन्होंने भाजपा के अनूप भगेरिया को 5 मतों से हराया। सुमित्रा को 22 और भगेरिया को 17 मत मिले। वार्ड 28 के भाजपा पार्षद गंगाधर सैनी ने वोट नहीं डाला। चित्तौडग़ढ़ की कपासन नगर पालिका में निर्दलीय एजाज अहमद भाजपा के पाले में कूद गए। उनके समर्थन से भाजपा का बोर्ड बन गया है। यहां 25 में से भाजपा के 12, कांग्रेस के 11 और दो निर्दलीय पार्षद जीते थे। कांग्रेस ने एक निर्दलीय महिला पार्षद को ही चेयरमैन उम्मीदवार बनाकर संख्या बल बराबर कर लिया था, लेकिन अंतिम समय पर दूसरे निर्दलीय एजाज ने भाजपा को वोट देकर कांग्रेस की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। भाजपा की मंजू सोनी को 13 और कांग्रेस की मंजू देवी आचार्य को 12 वोट मिले। यहां भाजपा का बोर्ड बन गया।

 

भीलवाडा परिषद सहित 5 मे भाजपा का बोर्ड, एक मे कांग्रेस का और एक मे निर्दलीय कांग्रेस समर्थन से बोर्ड बना

भीलवाड़ा भीलवाड़ा नगर परिषद व जिले की छः नगर पालिका के अध्यक्ष पद के चुनाव रविवार को सम्पन्न हुये।  जिला निर्वाचन अधिकारी शिवप्रसाद एम. नकाते ने बताया कि अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए प्रातः 10 बजे मतदान प्रारम्भ हुआ जिसमें पार्षदगणो ने मतदान किया। मतदान सम्पन्न होने के तुरंत पश्चात मतगणना प्रारम्भ की गई जिसमें भीलवाड़ा नगर परिषद सभापति पद पर बीजेपी प्रत्याषी राकेश पाठक विजयी घोषित किये गये। पाठक को कुल 45 मत मिले तथा विपक्षी उम्मीदवार ओमप्रकाश नराणीवाल को 25 मत मिले। नगर पालिका आसीन्द से बीजेपी के देवी लाल साहू अध्यक्ष चुने गये। उन्हें कुल 14 मत मिले व विपक्षी उम्मीदवार संजय कुमार को 11 मत मिले। इसी प्रकार नगर पालिका गंगापुर से निर्दलीय प्रत्याषी दिनेश चन्द्र तेली को अध्यक्ष चुना गया उन्हें 13 मत मिले वहीं विपक्षी उम्मीदवार प्रभु लाल माली को 12 मत मिले। गुलाबपुरा नगर पालिका से कांग्रेस प्रत्याशी सुमित अध्यक्ष बने जिन्हें 18 वोट मिले व विपक्षी उम्मीदवार धनराज गुर्जर को 16 मत प्राप्त हुये। जहाजपुर नगर पालिका से भारतीय जनता पार्टी के श नरेश सिंह को अध्यक्ष चुना गया उन्हें 14 मत प्राप्त हुये जबकि विपक्षी उम्मीदवार विष्णु सोनी को 11 मत मिले । बीजेपी प्रत्याषी संजय कुमार डांगी माण्डलगढ़ नगर पालिका से अध्यक्ष पद हेतु विजयी रहे। उन्हें 14 वोट प्राप्त हुये व विपक्षी उम्मीदवार अरूण कुमार व्यास को 6 मत मिले तथा नगर पालिका शाहपुरा से बीजेपी प्रत्याशी रघुनंदन स्वर्णकार अध्यक्ष चुने गये। उन्होंने 24 मत हासिल किये जबकि विपक्षी उम्मीदवार मुबारक हुसैन को 11 मत मिले

Prev Post

टोंक जिले में पांच नगर पालिकाओं में तीन पर भाजपा और दो पर कांग्रेस ने कब्जा जमाया

Next Post

फ़िल्मी अंदाज में पिता ने रची बेटी की हत्या की साजिश

Related Post

Latest News

राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
सीएम गहलोत को क्लीन चिट,धारीवाल -जोशी को कारण बताओ नोटिस

Trending News

केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know
राजस्थान घमासान- गहलोत को क्लिनचिट,धारीवाल सहित 3 को नोटिस

Top News

राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know
सीएम गहलोत को क्लीन चिट,धारीवाल -जोशी को कारण बताओ नोटिस
राजस्थान घमासान- गहलोत को क्लिनचिट,धारीवाल सहित 3 को नोटिस
मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास का बीजेपी पर आरोप सरकार गिराने का फिर हो रहा है षड्यंत्र