Congress again on the streets against price hike
जयपुर

राजस्थान में बिना तोडफोड के एटीएम बूथ से 14 लाख रुपये गायब

जयपुर/ बजाज नगर थाना इलाके में गांधीनगर रेलवे स्टेशन के सामने स्थित महाराष्ट्र बैंक के एटीएम से 14 लाख रुपये गायब होने का मामला सामने आया है। इस घटना के संबंध में सीएमएस इन्फो सिस्टम लिमिटेड के शाखा प्रबंधक की ओर से थाने में मामला दर्ज करवाया है।

जांच-अधिकारी एएसआई कालूराम ने बताया कि सीएमएस इन्फो सिस्टम लिमिटेड के शाखा प्रबंधक सूर्यप्रकाश मिश्र निवासी निवारू रोड झोटवाड़ा ने थाने में मामला दर्ज करवाया है कि उनकी सीएमएस इन्फो सिस्टम लिमिटेड कंपनी है,जोकि एटीएम मशीनों में रुपये डालने का काम करती है। तीन मार्च को कंपनी बजाज नगर स्थित महाराष्ट्र बैंक के एटीएम में 14 लाख रूपये डालकर चाबी अपने साथ ले गया था। इस दौरान किसी अज्ञात ने एटीएम मशीन से 14 लाख रुपये निकाल लिए है। एटीएम बूथ में कोई तोड़-फोड़ के निशान नहीं मिले है। पुलिस ने पीडित के बयानों के आधार पर मामला दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

मदद का झांसा देकर बदमाश ने एटीएम कार्ड बदल खाते से निकाले रुपये
वहीं सांगानेर थाना इलाके में स्थित एटीएम से रुपये निकालने गए बुजुर्ग व्यक्ति को अज्ञान व्यक्ति से मदद लेना उस समय भारी पड गया जब बदमाश ने झांसा देकर एटीएम कार्ड बदल लिया और फिर एटीएम कार्ड के जरिए बैंक खाते से 24 हजार से अधिक रुपये निकाल लिए। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जांच अधिकारी एएसआई जगदीश नारायण ने बताया कि टोंक रोड सांगानेर निवासी 68 वर्षीय जगदीश प्रसाद मीणा ने मामला दर्ज करवाया है कि वह सांगानेर बस स्टेण्ड के पास स्थित बैंक के एटीएम से रुपये निकालने गया था। रुपये निकालने के लिए मशीन में कार्ड लगाकर पिन डाले, लेकिन रुपये नहीं निकले। बूथ में मौजूद युवक ने मदद के बहाने एटीएम कार्ड ले लिया। रुपये निकालने के दौरान नजर बचाकर एटीएम कार्ड बदल कर दे दिए। पीडित के जाने के बाद शातिर ने एटीएम कार्ड के जरिए बैंक खाते से 24 हजार 716 रुपये निकाल लिए। मोबाइल पर मैसेज आने पर पीडित ने एटीएम कार्ड संभाला, तो वह किसी ओर का मिला। ठगी का पता चलने पर पीडित ने तुरंत थाने पहुंचा और मामला दर्ज कराया। पुलिस मामला दर्ज कर घटनास्थल पर लगे कैमरों की फुटेज खंगाल रही है।

दोस्त को रूपये ट्रांसफर करना पड़ा महंगा
इधर श्याम नगर इलाके में एक व्यक्ति को ऑनलाइन रूपये ट्रांसफर करना महंगा पड़ गया। है, जब ठगों ने 96 हजार रुपये ठग लिए। बताया जा रहा है ​कि पीड़ित ने ऑनलाइन एप फोन-पे पर 1500 रुपये कटने के बाद वापस मंगाने के लिए कस्टमर केयर को फोन किया था। इसके बाद उनके खाते से 96 हजार रुपये कट गए। पीड़ित ने श्याम नगर थाने में केस दर्ज कराया है।

जांच अधिकारी एएसआई मदनलाल ने बताया कि पीड़ित व्यक्ति भागीरथ लाल शर्मा ने मामला दर्ज करवाया है कि 1500 रुपये अपने दोस्त को फोन-पे पर भेजे तो वह गलती से किसी दूसरे नंबर पर चले गए। इसके बाद पीड़ित ने फोन-पे के कस्टमर केयर पर बात की तो वह नंबर कस्टमर केयर से ही किसी दूसरे फ्रॉड नंबर पर डायवर्ट हो गया। उस फ्रॉड नंबर से एक व्यक्ति ने रिफंड के लिए एकाउंट का ऑनलाइन वेरिफिकेशन करने के दौरान पीडित के बैंक खाते से 49,850 रुपये और उसके दोस्त के खाते से 46,912 रुपये निकाल लिए। इस तरह से ठग ने दो अलग अलग बैंक खातों से 96 हजार रुपये निकाल लिए। इसके बाद जालसाज ने अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम