जयपुर

राजस्थान भाजपा को लगा जोरदार झटका

निर्वाचन आयोग ने भारत वाहिनी पार्टी को राजनीतिक पार्टी के रूप में पंजीकृत किया

भाजपा विधायक घनश्याम तिवाड़ी के नेतृत्व में भारत वाहिनी राजस्थान की सभी 200 विधान सभा सीटों पर चुनाव लड़ेंगी

जयपुर। राजस्थान भाजपा के लिए बुरी खबर है। साढ़े चार साल से पार्टी से अलग चल रहे भाजपा विधायक घनश्याम तिवाड़ी कभी भी पार्टी से इस्तीफा दे सकते हैं। तिवाड़ी की पार्टी भारत वाहिनी पार्टी को राजनीतिक दल का दर्जा दे दिया है और अब यह पार्टी घनश्याम तिवाड़ी के नेतृत्व में प्रदेश की सभी २०० विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

घनश्याम तिवाड़ी के पुत्र और पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष अखिलेश तिवाड़ी ने बताया कि 11 दिसम्बर 2017 को भारत निर्वाचन आयोग को पार्टी के विधिवत पंजीकरण के लिए प्रार्थना पत्र दिया गया था। निर्वाचन आयोग ने भारत के संविधान के लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 29 के अधीन समस्त प्रक्रिया को पूरा करते हुए भारत वाहिनी पार्टी के पंजीकरण का कार्य पूरा किया। निर्वाचन आयोग ने भारत वाहिनी पार्टी के संविधान, दर्शनए,लक्ष्य तथा उद्देश्य संगठन के प्रारूप को विस्तार पूर्वक देखकर अपनी मान्यता प्रदान की। निर्वाचन आयोग ने पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश तिवाड़ी तथा महामंत्री अशोक यादव की ओर से 5 जून को आयोग के समक्ष दी गयी प्रस्तुति पर विचार करने के बाद तथा यह ध्यान में रख कर कि समाचार पत्रों में आवेदक दल द्वारा प्रकाशित सार्वजनिक सूचना के जवाब में किसी भी व्यक्ति द्वारा कोई आपत्ति दर्ज नहीं की गयी है। इसके बाद बुधवार को भरत वाहिनी पार्टी को राजनीतिक दल के रूप में पंजीकृत कर लिया। पार्टी अध्यक्ष को इसकी सूचना निर्वाचन आयोग द्वारा पत्र के माध्यम से प्रेषित की गई। पार्टी के पंजीकरण के इस कार्य में पूरा छह माह का समय लगा।
निर्वाचन आयोग में पार्टी के विधिवत पंजीकरण की सूचना प्राप्त होने पर काफ़ी समय से प्रतीक्षा कर रहे भारत वाहिनी के संस्थापक सदस्यों तथा प्रदेश भर के दीनदयाल वाहिनी के कार्यकर्ताओं में उत्साह और ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी। एक दूसरे को मिठाई खिला कर कार्यकर्ताओं ने बधाई और शुभकामनाएँ दी।

तीन जुलाई को जयपुर में बड़ा सम्मेलन
भारत वाहिनी का प्रथम प्रदेश प्रतिनिधि सम्मेलन तीन जुलाई को आयोजित किया जाएगा। सम्मेलन में 2000 कार्यकर्ता भाग लेंगे। इसमें राजस्थान के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र से दस प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाएगा। वर्तमान में दीनदयाल वाहिनी में काम कर रहे कार्यकर्ताओं तथा पदाधिकारियों को भारत वाहिनी में समारोह पूर्वक शामिल किया जाएगा। राजस्थान के आगामी चुनावों में घनश्याम तिवाड़ी के नेतृत्व में भारत वाहिनी प्रदेश की सभी 200 विधान सभाओं से चुनाव लडऩे का लक्ष्य लेकर काम करेगी। सूत्रों के मुताबिक तीन जुलाई को ही तिवाड़ी भाजपा से इस्तीफा देने की घोषणा भी कर सकते हैं।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *