आरयू के विधि महाविद्यालय में संविधान दिवस पर आयोजित किया गया कार्यक्रम

Program organized on Constitution Day in Law College of RU

जयपुर /अशोक सैनी। राजस्थान विश्वविद्यालय के विधि महाविद्यालय में शनिवार को संविधान दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सबसे पहले डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की मूर्ति का माल्यार्पण कर उसके उसके बाद धर्मनिरपेक्षता और संविधान पर व्याख्यान आयोजित किया गया।

संविधान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य वक्ता फिल्ममेकर, लेखक और खेल कमेंटेटर एवं सामाजिक विश्लेषक दीपक महान ने अपने विचार व्यक्त करते हुए समाज में फैल रही कुरीतियों और सामाजिक बुराइयों से दूर रहने के लिए युवाओं को प्रोत्साहित किया।

आयोजित कार्यक्रम में गत शुक्रवार को महाविद्यालय की ओर से आयोजित की गई पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता में प्रथम एवं द्वितीय स्थान पर रहे विजेताओं को पारितोषिक देकर सम्मानित किया गया। वहीं 10 दिसंबर को मानवाधिकार दिवस पर आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रम में कार्यक्रम अधिकारी सुरेंद्र मीणा की ओर से विद्यार्थियों को मानव सेवा के लिए कार्य करने और जरूरतमंदों की सहायता के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया।

कार्यक्रम में विधि महाविद्यालय के उप प्राचार्य डॉ अभिषेक चायल ने राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के मंशाअनुसार संविधान की प्रस्तावना का वाचन करवाते हुए सभी को राष्ट्रहित में कार्य करने के लिए प्रेरित किया। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ अंकिता यादव ने उपस्थित अतिथियों , शिक्षकों एवं विद्यार्थियों का स्वागत एवं धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस दौरान कार्यक्रम में विधिक सेवा क्लीनिक की संयोजक डॉ अंजू गहलोत, ओम प्रकाश सिरवी, डॉ राजेश गौड़, डॉ आरती राठी, सुनीता शर्मा, पूनम विश्नोई, मनोज मीणा, तरुण जोनवाल के साथ ही महाविद्यालय का अन्य स्टाफ व विद्यार्थी मौजूद रहे।