जयपुर

पिता-प्रेमिका को पकड़ा, पूछताछ में उड़े होश

जयपुर। सांगानेर सदर थाना इलाके में प्रेमिका की चाहत में डूबे एक पिता के अपने पांच वर्षीय बेटे को अजमेर रोड हाईवे पर सुनसान जगह पर लावारिस हालत में छोडऩे का मामला सामने आया है। प्रेमिका ने अपने साथ रहने के लिए यह दबाव बनाया था। बुजुर्ग दादा की शिकायत पर दो माह से लापता बालक को सांगानेर सदर थाना पुलिस ने शुक्रवार को दस्तयाब कर आरोपित पिता को गिरफ्तार किया।

पुलिस उपायुक्त जयपुर शहर (दक्षिण) हरेन्द्र कुमार ने बताया कि टोडारायसिंह टोंक निवासी रामस्वरूप ने 25 फरवरी को सांगानेर सदर थाने में पांच वर्षीय पौत्र की गुमशुदगी दर्ज कराया है कि करीब दो माह पूर्व उसका बेटा मुकेश व साथी महिला मित्र उसके पांच वर्षीय पौत्र को गांव से लेकर जयपुर आए थे। जब उसे जयपुर आने पर पता चला कि उसके पौत्र उनके पास नहीं है। पूछने पर कोई जबाव नहीं दे रहे है, संदेह है कि पौत्र को बेच दिया या कोई अप्रिय घटनाकारित कर दी है।

पिता-प्रेमिका को पकड़ा, पूछताछ में उड़े होश

थानाधिकारी हरिपाल सिंह राठौड़ ने बताया ​कि मुहाना इलाके में कीरों की ढाणी में रहने वाले पिता मुकेश को पुलिस ने पकडक़र पूछताछ की। पुलिस को गुमराह करने पर सख्ती से पूछताछ करने पर बताया कि जोशीवाली ढाणी गांव लाखना में रहने वाली उसकी प्रेमिका उसके पास से पांच वर्षीय बेटे को अपने साथ लेकर गई थी। महिला मित्र तक पहुंची पुलिस ने पूछताछ शुरू की। पूछताछ में महिला मित्र भी पुलिस को गुमराह कर विभिन्न-विभिन्न स्थानों का नाम-पता बताती रही। सख्ती से पूछताछ में पांच वर्षीय बालक को 200 फीट बाईपास के आस-पास लावारिस हालत में छोडऩा बताया। जिसे सुनकर पुलिस के एक बार को होश उड़ गए।

थड़ी-ठेलों वालों ने की मदद

200 फीट बाईपास के आस-पास पांच वर्षीय बालक की तलाश में जुटी पुलिस को काफी प्रयास बाद भी सुराग नहीं लगा। वहां थड़ी-ठेलों वालों से पांच वर्षीय बालक के बारे में पूछा गया, जिन्होंने बताया कि करीब 2 माह पूर्व एक बालक लावारिस हालत में मिला था। जिसे श्याम नगर थाना पुलिस के सुपुर्द किया गया था। सांगानेर सदर थाने की टीम ने श्याम नगर पुलिस से संपर्क साधा। 29 दिसम्बर को लावारिस हालत में मिला बालक अपना नाम-पता बताने में भी असमर्थ था, जिसे चाईल्ड हेल्प लाईन अपना घर मानसरोवर के सुपुर्द किया गया था। पुलिस टीम ने तुरंत राजकीय शिशु गृह में संपर्क किया, जहां लापता बालक सकुशल मिला। जिसे उसके दादा के सुपुर्द किया गया और पिता मुकेश को गिरफ्तार किया।

प्रेमिका संग पिता ने रची साजिश

एसआई आशुतोष ने बताया कि पूछताछ में आरोपित मुकेश खटीक ने बताया कि 12 वर्ष पूर्व उसकी शादी हुई थी। उसके तीन बच्चे है, जिसमें 2 बेटियां व एक बेटा है। जोशीवाला ढाणी लाखना में परिवार सहित रहने के दौरान उसकी पत्नी से मतभेद हो गए। पत्नी के छोडक़र जाने के बाद वह बच्चों को अपने गांव में पिता के पास छोड़ आया। जिसके बाद कीरो की ढाणी में अपने मौसा के घर रहने लगा। उस समय उसकी दोस्त एक लडक़ी से हो गई। महिला मित्र के साथ वह भागकर अपने गांव चला गया। प्रेमिका ने कहा कि अगर मेरे साथ रहना है तो आपके पूर्व बेटे को घर से हटाना होगा। जिसके दबाव के कारण दोनों ने मिलकर साजिश रची और पांच वर्षीय बेटे को अपने साथ जयपुर ले आए।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम