पाक महिलाओं से संपर्क रख भारत की गुप्त सूचनाएं देने वाला सैनिक गिरफ्तार

जयपुर । पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को भारतीय सेना से संबंधित सामरिक महत्व की सूचनाएं भेजने के आरोप में सेना के एक जवान को गिरफ्तार किया गया है। राजस्थान पुलिस इंटेलीजेंस विंग की स्टेट स्पेशल ब्रांच, एसएसबी की ओर से गिरफ्तार किया गया जवान आकाश महरिया सीकर जिले के लक्ष्मणगढ़ का रहने वाला है।

राजस्थान के अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस (इंटेलीजेंस) उमेश मिश्रा ने बताया कि आरोपित सैनिक पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी की ओर छद्म नाम से संचालित सोशल मीडिया अकाउंट पर भारतीय सेना से सम्बंधित सामरिक महत्व की सूचनाएं दे रहा था। इस आरोप में संदिग्ध आकाश महरिया (22) पुत्र हरदयाल महरिया निवासी गांव यालसर तहसील लक्ष्मणगढ़ जिला सीकर को शासकीय गुप्त बात अधिनियम 1923 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है।

बताया गया कि आकाश महरिया पिछले काफी समय से जासूसी गतिविधियों में सक्रिय था। जयपुर इंटेलीजेंस को इस संबंध में मिले इनपुट के बाद गोपनीय रूप से उस पर निगरानी रखी गई। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर सीआईडी की विशेष टीम तथा मिलिट्री इंटेलीजेंस जयपुर खुफिया तौर से उस पर निगरानी रख रही थी।

पुलिस के अतिरिक्त महानिदेशक ने बताया कि आकाश महरिया के आर्मी से छुट्टी लेकर अपने गांव आने पर उसे शासकीय गुप्त बात अधिनियम 1923 के तहत पूछताछ के लिए जयपुर तलब कर समस्त एंजेसियों द्वारा पूछताछ की गई थी। आरोपित सितम्बर 2018 में सेना में भर्ती हुआ था और 2019 में अपनी ट्रेनिग पूरी करने के बाद जुलाई से पाकिस्तानी महिला एजेन्टों द्वारा छद्म नाम से बनाई गई फेसबुक आईडी से रिक्वेस्ट आने पर उनसे जुड़ गया। उसने पूछताछ में अपने मोबाइल फोन के जरिए सोशल मीडिया अकाउंट पर पाक महिला एजेन्टों के सम्पर्क में रहने एवं भारतीय सेना से सम्बंधित सामरिक महत्व की गोपनीय सूचनाएं भेजना स्वीकार किया है।

अभियुक्त के मोबाइल फोन का तकनीकी परीक्षण कराने पर सामरिक महत्व की सूचनाएं तथा महिला एजेन्टों द्वारा की गई अश्लील चैटिंग का रिकार्ड मिला है।