धोखाधड़ी के आरोप में एक गिरफ्तार

जयपुर। सोड़ाला थाना पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में टाटा मोटर्स कम्पनी के  कलेक्शन कर्मचारी को गिरफ्तार किया गया है। जिसके बाद पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया, जहां कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित रामगोपाल शर्मा (38) निवासी हीदा की मोरी रामगंज का रहने वाला है। जिसे हजारों रुपए की धोखाधड़ी के आरोप में उसके घर से पकड़ा है। मामले की जांच पड़ताल कर रहे एसआई अजय सिंह ने बताया कि जमवारामगढ के रहने वाले बंशीलाल गुर्जर ने 8 मार्च 2018 को मामला दर्ज करवाया था कि उसने हवा सड़क शांति टावर स्थित टाटा मोर्टस कम्पनी  से 2010 में  ढाई लाख रुपए का लोन लिया था, जिसकी महिने की किश्त 9230 रुपए थी जो 2013 में समाप्त होना था। लगातार पीड़ित उसे हर महिने रुपए देता और आरोपित उसे कम्पनी की तरफ से एक केश स्लिप काट कर देता था। 2013 में आखिरी किशत भी उसने केश स्लिप काट कर दी। लेकिन आरोपित ने कम्पनी में केवल 2 हजार रुपए ही जमा करवाए और 7230 रुपए अपने पास रख लिए। 2018 में पीड़ित ने कम्पनी से एनओसी मांगी तो उसके बकाया 36 हजार रुपए निकाल दिए।  जब पीड़ित ने जानकारी मांगी तो पता चला कि उसने 2013 की आखरी किश्त में दो हजार रुपए ही जमा करवाए थे। बाकि के 7230 रुपए पांच साल में ब्याज लगाकर 36 हजार रुपए हो गए। इस पर पीड़ित को शक हुआ और सोड़ला थाने में आरोपित के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया । पुलिस ने जांच पड़ताल करते हुए मामला सही पाने पर आरोपित को गिरफ्तार किया।