10 लाख लुटने से बचे – सीसीटीवी के आधार पर पुलिस ने बदमाश को दबोचा – भवानी निकेतन कॉलेज परिसर में लगा हुआ था एटीएम – पत्थर से एटीएम मशीन की स्क्रीन व बॉक्स को तोड़ा

जयपुर।जयपुर शहर के झोटवाड़ा थाना इलाके में स्थित इण्डियन ओवरसीज बैंक के एटीएम में रखे 10 लाख रुपए मंगलवार की रात लुटने से बच गए। बदमाश दो घंटे तक पत्थर से एटीएम बॉक्स तोड़ने का प्रयास करता रहा, लेकिन असफल रहा। बुधवार सुबह एटीएम मशीन टूटी देखकर राहगीर ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंच कर पुलिस ने साक्ष्य लेकर जांच शुरू कर दी है। एटीएम मशीन में लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने एक बदमाश को दबोच लिया। पुलिस के अनुसार बदमाश रात करीब ग्यारह बजे एटीएम मशीन में घुसा और फिर उसने पत्थर से पहले एटीएम मशीन की स्क्रीन तोड़ी और फिर कैश बॉक्स को तोड़ने लगा। करीब दो घंटे तक वह लगातार कैश बॉक्स व एटीएम के अन्य हिस्सों पर पत्थर से वार करता रहा। लेकिन मशीन का कैश बॉक्स नहीं टूटा। इसके बाद बदमाश रात करीब एक बजे वहां से चला गया। सुबह एटीएम पर पहुंचे ग्राहक ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस की सूचना बैंक कर्मचारी भी मौके पर पहुंचे और एटीएम मशीन का निरीक्षण किया। एटीएम में लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने मुरलीपुरा ढेहर का बालाजी स्थित जगदम्बा नगर निवासी छब्बीस वर्षीय विष्णु सैनी को दबोच लिया और उससे पूछताछ करने में जुटी है। जांच अधिकारी एसआई महीराम ने बताया कि एटीएम में आठ से दस लाख रुपए रखे होने की बात सामने आ रही है। आरोपित युवक फूलों की दुकान करता है।


बीस हजार रुपए का कर्ज उतारने के लिए तोड़ना चाहा एटीएम : जांच अधिकारी ने बताया कि विष्णु सैनी फूल बेचने का काम करता है। उस पर 15 से 20 हजार रुपए का कर्ज हो गया था । इस कर्ज को उतारने के लिए उसने एटीएम तोड़ने की योजना बनाई थी। योजना के तहत वह शराब पीकर वहां पर पहुंचा और पत्थर, पेचकस व प्लास से एटीएम मशीन को तोड़ना चालू कर दिया। जब एटीएम मशीन में लगा सायरन बजा तो वह वहां से भाग निकला। आरोपित ने एटीएम मशीन का ऊपरी हिस्सा पूरा तोड़ दिया था और कैश बॉक्स को तोड़ने का प्रयास किया। कैश बॉक्स का शुरूआती ताला तोड़ दिया था लेकिन मुख्य कैश बॉक्स वह नहीं तोड़ पाया था। आरोपित करीब दो घंटे तक एटीएम मशीन पर ईंट-पत्थर चलाता रहा। आरोपित युवक से पूछताछ की जा रही है। आरोपित की पहचान सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हुई थी और उससे पूछताछ की जा रही है। इस संबंध में सतीश जैन निवासी अग्रवाल फार्म मानसरोवर हाल शाखा प्रबन्धक इण्डियन ओवरसीज बैंक भवानी निकेतन परिसर झोटवाडा ने 25 अपै्रल को थाने में मामला दर्ज करवाया था।
मां का बैंक में अकाउंट है, इसलिए इसी एटीएम को चुना


पूछताछ में सामने आया कि भवानी निकेतन स्थित इंडियन ओवरसीज बैंक में विष्णु की मां का अकाउंट है। इस कारण वहां कई बार आना-जाना था। इस एटीएम में रात के समय कोई सिक्यूरिटी गार्ड भी नहीं लगता है। इसलिए सुनसान जगह के हिसाब से लूटने के लिए इसी एटीएम को चुना।