राजस्थान में अब आबकारी नीति मे बदलाव,शराब होगी सस्ती,और..

जयपुर/ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान में आबकारी नीति ने में बदलाव कर मदिरा प्रेमियों और ठेकेदारों को बड़ी राहत दी है नीति में बदलाव से क्या भारत में निर्मित अंग्रेजी शराब सस्ती होगी और वही देसी शराब महंगी होगी तथा बार संचालकों शाॅट टर्म लाइसेंस भी जारी किया जाएगा ।

राजस्थान सरकार की आबकारी विभाग की ओर से नए संशोधित नियम जारी किए गए हैं इसके तहत 1 अप्रैल से देसी शराब और राजस्थान निर्मित शराब r.m.l. के कॉपी पर ₹2 तक की बढ़ोतरी की गई है ।

वहीं दूसरी ओर भारत में निर्मित अंग्रेजी शराब अगले वित्त वर्ष से सस्ती मिलेगी अगले कितने वर्ष है भारत में निर्मित अंग्रेजी शराब पर लगने वाली 30% अतिरिक्त आबकारी ड्यूटी को राजस्थान सरकार ने हटाने का निर्णय लिया है इसके बाद राजस्थान में यह अंग्रेजी शराब ₹10 से लेकर ₹15 तक सस्ती हो जाएगी।

बार संचालको को शार्ट टर्म लाइसेंस

इसके साथ ही राजस्थान सरकार ने बार संचालकों को राहत और फायदा देने के लिए बी आबकारी विभाग में नया नियम जारी किया है इसके तहत अब उन्हें शार्ट टर्म लाइसेंस दिए जाएंगे अभी वर्तमान में विभाग होटल या अन्य संस्थाओं को 1 साल के लिए लाइसेंस देता है और इसे हर साल रिन्यू करना पड़ता है ।

लेकिन अगले वित्त वर्ष से लाइसेंस 1 साल के बधाई 3 माह के लिए दिए जाएंगे इससे उनको राहत मिलेगी इसी के साथ ही बार संचालकों को जो होटल या संस्थाएं किसी साल लाइसेंस रिन्यू नहीं कराती है फिर अगले साल लाइसेंस लेती है तो उस साल का शुल्क देना पड़ता था इस बारिश में कटौती करते हो केवल 25% शुल्क का प्रावधान किया गया है।

आबकारी नीति में इस साल से केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल सीएफीएफ(CAPF) को भी बीएसएफ की तर्ज पर रिटेल लाइसेंस देने और आपका भी ड्यूटी में छूट देने का निर्णय किया है इसके तहत आप सीआपीएफ की कैंटीन में भी वहां के कर्मचारियों और जवानों को बीएसएफ की कैंटीन की तरह ही सस्ती दरों पर शराब उपलब्ध हो सकेगी।