राजस्थान में अब भर्ती परीक्षा में पेपर लीक और फर्जीवाड़ा रोकने के लिए नया फार्मूला लागू

Dr. CHETAN THATHERA
4 Min Read

जयपुर। राजस्थान में भर्ती परीक्षा ऑन में पेपर लीक और फर्जीवाड़ा की घटनाओं ने प्रदेश को पूरे देश में बदनाम कर दिया और इसके साथ ही लाखों युवाओं के भविष्य के साथ भी खिलवाड़ हुआ इसको लेकर पूरे देश में प्रदेश की हुई थू-थू के बाद प्रदेश की नई भाजपा सरकार ने भर्ती परीक्षा ऑन के पैटर्न अर्थात तरीके में बदलाव कर दिया है और यह नया फार्मूला व नियम लागू कर दिए हैं जो अगले मां होने वाली परीक्षा के साथ ही शुरू हो जाएंगे ।

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड अब भर्ती परीक्षाएं नये फॉर्मूला हाईब्रिड मोड पर कराएगा। इसमें अभ्यर्थियों को पेपर कंप्यूटर पर ऑनलाइन मिलेगा और जवाब ओएमआर शीट पर ऑफलाइन देना होंगे। बोर्ड सबसे पहले यह उन भर्ती परीक्षाओं में लागू करेगा, जिसमें अभ्यर्थियों की संख्या 10 हजार से कम है। कनिष्ठ अनुदेशक के सभी 20 ट्रेड की परीक्षाएं इसी मोड पर होंगी

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड के सचिव डॉ. बीसी बधाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि भर्ती परीक्षाओं में पेपर लीक और फर्जीवाड़ा रोकने के लिए सीबीटी कम ओएमआर मोड सिस्टम लागू किया है। इसकी विस्तृत गाइडलाइन जारी कर दी है। इस नए फार्मूले से पहली परीक्षा 30 अगस्त को छात्रावास अधीक्षक (अल्पसंख्यक मामलात विभाग) भर्ती परीक्षा होगी।

अलग-अलग भर्तियों में प्रेस से लेकर परीक्षा केंद्रों तक पेपर लीक हुए हैं। चयन बोर्ड का कहना है कि इस व्यवस्था से पेपर सेटर्स से और प्रेस से पेपर लीक की संभावना नहीं रहेंगी। साथ ही प्रेस से ट्रेजरी तक, ट्रेजरी या स्ट्रांग रूम से परीक्षा केंद्र तक, परीक्षा केंद्र में केंद्राधीक्षक से वीक्षक तक जो पेपर पहुंचता है, वहां भी पेपर लीक की संभावना नहीं रहेगी।

अभ्यर्थियों को नए फार्मूले में परीक्षा देने में कोई परेशानी नहीं आए, इसलिए मॉक टेस्ट की भी व्यवस्था रहेगी। परीक्षा से करीब आधा घंटे पहले अभ्यर्थी यूजर आईडी व पासवर्ड का प्रयोग कर मॉक टेस्ट लॉग इन बटन पर क्लिक करके दे सकता है। मॉक टेस्ट अभ्यर्थी को परीक्षा की पद्धति से परिचित कराने के लिए है। अभ्यर्थी परेशानी आने पर तकनीकी स्टाफ या वीक्षक से संपर्क कर समाधान करा सकता है।

क्या है नए फार्मूले की गाइडलाइन अभ्यर्थी को परीक्षा से 2 घंटे पहले रिपोर्टिंग करनी होगीकेंद्र में प्रवेश करते समय और बाहर निकलते समय बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन होगा परीक्षा के तय समय से एक घंटे पहले केंद्र पर प्रवेश बंद कर दिया जाएगा

अभ्यर्थी परीक्षा केंद्र के बाहर लगाए गए बैठने की व्यवस्था के अनुसार कंप्यूटर लैब व ब्लॉक सुनिश्चित करना होगा।जांच के बाद ही अभ्यर्थी लैब में जा सकेंगे।शअभ्यर्थी को वीक्षक द्वारा यूजर आईडी व पासवर्ड दिया जाएगा।अभ्यर्थी को लागू प्रक्रिया के अनुसार उपस्थिति पत्रक पर हस्ताक्षर करना होंगे और दिए गए वाक्य को हाथ से लिखना होगा।एक बार बायोमेट्रिक प्रक्रिया होने के बाद अभ्यर्थी परीक्षा समाप्त होने पर ही लैब छोड़ सकेगा वीक्षक द्वारा अभ्यर्थी को ओएमआर शीट उपलब्ध कराई जाएगी।परीक्षा शुरू होने पर प्रश्न स्वत: की स्क्रीन पर आ जाएंगे एक बार में एक ही सवाल दिखेगा।

स्क्रीन पर समय भी चलता रहेगा, परीक्षा समाप्ति पर स्क्रीन खुद ही बंद हो जाएगी।स्क्रीन पर प्रदर्शित होने वाले टेस्ट बुकलेट नंबर को ओएमआर सीट पर अंकित करना अनिवार्य है।परीक्षा समाप्ति पर ओएमआर शीट वीक्षक को सौंपनी होगी

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम