क्यूआर कोड आधारित सफाई व्यवस्था लागू नहीं करने पर 8 मेडिकल कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को नोटिस

Dr. CHETAN THATHERA
2 Min Read

जयपुर। राज्य सरकार ने मेडिकल कॉलेजों से सम्बद्ध चिकित्सालयों में आर्टिफिशियल इंटेलीजेन्स आधारित (क्यूआर कोड) साफ-सफाई व्यवस्था लागू नहीं करने पर प्रदेश के 8 मेडिकल कॉलेजों के प्रधानाचार्य एवं नियंत्रक को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

चिकित्सा शिक्षा विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती शुभ्रा सिंह ने बताया कि चिकित्सा महाविद्यालयों से सम्बद्ध अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण की दृष्टि से क्यूआर कोड आधारित सफाई व्यवस्था लागू करने के निर्देश दिए गए थे। यह व्यवस्था लागू होने से राजकीय चिकित्सालयों के शौचालयों एवं परिसर की साफ-सफाई में काफी सुधार देखने को मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि बार-बार निर्देश दिए जाने एवं नियमित निरीक्षणों के बाद भी मेडिकल कॉलेजों से सम्बद्ध कुछ चिकित्सालयों में क्यूआर कोड आधारित सफाई व्यवस्था लागू नहीं की गई है। विभाग ने इसे गंभीरता से लेते हुए संबंधित प्रधानाचार्यों को कारण बताओ नोटिस जारी कर 3 दिवस में स्पष्टीकरण मांगा है।

 

चिकित्सा शिक्षा आयुक्त इकबाल खान ने बताया कि जेएलएन मेडिकल कॉलेज अस्पताल अजमेर, सरदार पटेल चिकित्सा महाविद्यालय बीकानेर से सम्बद्ध गंगाशहर सैटेलाइट हॉस्पिटल, एसडीएम राजकीय जिला चिकित्सालय, टीबी एण्ड चेस्ट हॉस्पिटल, मनोचिकित्सा केन्द्र, मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल डूंगरपुर, सम्पूर्णानंद चिकित्सा महाविद्यालय जोधपुर से सम्बद्ध सैटेलाइट चिकित्सालय चौपासनी हाउसिंग बोर्ड, जिला अस्पताल प्रतापनगर, राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय जयपुर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल एवं जयपुरिया हॉस्पिटल, राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय जयपुर के डेंटल कॉलेज अस्पताल, चिकित्सा महाविद्यालय सीकर से सम्बद्ध राजकीय एसके जिला चिकित्सालय एवं एमसीएच हॉस्पिटल तथा सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज जयपुर से सम्बद्ध पीडीडीयू राजकीय चिकित्सालय गणगौरी बाजार, टीबी अस्पताल, स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट, आईडीएच चिकित्सालय, एसआर गोयल राजकीय चिकित्सालय सेठी कॉलोनी, सैटेलाइट हॉस्पिटल बनीपार्क एवं सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक में क्यूआर आधारित सफाई व्यवस्था लागू नहीं होने पर संबंधित मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम