नसीरुद्दीन शाह के बयान पर भडकी सियासत, अब चौतरफा विरोध

  जयपुर। नसीरुद्दीन शाह के बयान के बाद शुक्रवार को अजमेर लिटरेचर फेस्टिवल के उद्घाटन समारोह से पहले ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने नसीरुद्दीन के पोस्टरों पर कालिख पोत दी और बैनर फाड़ दिए। बवाल के चलते नसीरुद्दीन फेस्टिवल में आए ही नहीं आए। तीन दिवसीय फेस्टिवल का उद्घाटन समारोह दोपहर …

नसीरुद्दीन शाह के बयान पर भडकी सियासत, अब चौतरफा विरोध Read More »

December 21, 2018 4:11 pm

 

जयपुर।
नसीरुद्दीन शाह के बयान के बाद शुक्रवार को अजमेर लिटरेचर फेस्टिवल के उद्घाटन समारोह से पहले ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने नसीरुद्दीन के पोस्टरों पर कालिख पोत दी और बैनर फाड़ दिए। बवाल के चलते नसीरुद्दीन फेस्टिवल में आए ही नहीं आए। तीन दिवसीय फेस्टिवल का उद्घाटन समारोह दोपहर दो बजे रखा गया। समारोह के मुख्य अतिथि फिल्म अभिनेता शाह थे और समारोह में उनकी नई पुस्तक फिर एक दिन का विमोचन भी होना था। समारोह से पहले ही भाजपा कार्यकर्ता समारोह स्थल पर पहुंच गए।
कार्यकर्ताओं ने इंडोर स्टेडियम के बाहर और अन्दर लगे पोस्टर तथा बैनर फाड़ दिए एवं कालिख पोत दी। विरोध जताते हुए कार्यकर्ता मंच पर भी चढ़ गए और हंगामा किया। हंगामे के चलते पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। आयोजन समिति के सदस्य सोमरत्न आर्य और पुलिस ने कार्यकर्ताओं को समझाया लेकिन नहीं माने तथा नसीरुद्दीन को नहीं बुलाने पर अड़ गए। आखिरकार कार्यकर्ताओं के विरोध को देखते हुए शाह समारोह में नहीं आए। कार्यकर्ताओं ने आयोजनकर्ताओं को साफ चेतावनी दी कि अगर नसीरुद्दीन  समारोह में आए तो उसका खामियाजा भुगतना पड़ जाएगा।
यह कहा था शाह ने
भाजयुमो के जिलाध्यक्ष विनीत कृष्ण पारीक ने कहा कि शाह ने देश में रहकर, ‘पुलिस अफसर की हत्या से ज्यादा गाय की मौत का महत्व है, मुझे अपने बच्चों की चिंता है। विवादित बयान दिया है, उससे कार्यकर्ताओं में रोष पनपा है। शाह के बयान से खफा होकर कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम में शामिल नहीं होने दिया।
शाह शुक्रवार को अजमेर आए और सेंट एन्सलम स्कूल के कार्यक्रम में शामिल हुए ,लेकिन विरोध जताने वाले कार्यकर्ताओं को इसकी भनक तक नहीं लग सकी। ऐसे में शाह कब अजमेर आए और कब रवाना हो गए। प्रदर्शनकारियों को पता ही नहीं लग सका। भले ही कार्यकर्ताओं ने विरोध कर लिटरेचर फेस्टिवल में शाह को आने नहीं दिया।

Prev Post

पुलिस मित्र के रूप में काम करेंगी अब खाकी,लोकसभा चुनाव के दृष्टिगत होंगे जल्दी ही बदलाव -कपिल गर्ग

Next Post

आईआईएफएफ मराईन मिस इंडिया 2019 ऑडिशन रविवार को जयपुर में

Related Post

Latest News

गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर

Trending News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know

Top News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know