मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को मीडिया पर प्रहार करने से पहले अपने  मीडिया मेनेजमेंट पर विचार जरूर करना चाहिए।

Jaipur news /अशफाक कायमखानी। राजस्थान कांग्रेस विधायक दल के गहलोत-पायलट समर्थको के रुप मे विभक्त होने के बाद सरकार के अस्तित्व पर आये संकट को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कुछ पत्रकारों को साक्षात्कार देते हुये मीडिया रिपोर्टिंग पर अनेक तरह के प्रहार करते हुये खासतौर पर अंग्रेजी मीडिया पर अपनी खीज निकाली। जबकि मुख्यमंत्री …

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को मीडिया पर प्रहार करने से पहले अपने  मीडिया मेनेजमेंट पर विचार जरूर करना चाहिए। Read More »

July 19, 2020 1:56 pm

Jaipur news /अशफाक कायमखानी। राजस्थान कांग्रेस विधायक दल के गहलोत-पायलट समर्थको के रुप मे विभक्त होने के बाद सरकार के अस्तित्व पर आये संकट को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कुछ पत्रकारों को साक्षात्कार देते हुये मीडिया रिपोर्टिंग पर अनेक तरह के प्रहार करते हुये खासतौर पर अंग्रेजी मीडिया पर अपनी खीज निकाली।

जबकि मुख्यमंत्री को मीडिया पर प्रहार करने से पहले अपने अब तक के कमजोर से कमजोर मीडिया मेनेजमेंट पर गम्भीरतापूर्वक विचार करना चाहिए था। उनको मीडिया से बात करने व अपनी सरकार के किये कामो के आंकड़े मीडिया तक पहुंचाने के लिये एक पत्रकार भी नही मिला जिसको अपना मीडिया सलाहकार बनाया जा सके।

जब कोई मीडिया कर्मी किसी जानकारी या प्रैस सम्बंधित काम के लिए मुख्यमंत्री से राब्ता बनाने के लिये उनके दफ्तर के मार्फत कोशिश करता है जो उन्हें एक ओएसडी से सम्पर्क करने को कहा जाता है। जिस ओएसडी का कभी भी मीडिया से दूर दूर तक सम्बंध कभी रहा ही नही है।

हालांकि कांग्रेसजन मीडिया पर एक तरफा रिपोर्टिंग करने व विशेष राजनीतिक दल को खबर के मामले मे फेवर करने के आरोप हमेशा मंडते रहते है। लेकिन पुरा मीडिया ऐसा ही हो यह कतई सम्भव होना नही माना जा सकता है। मीडिया मे प्रतिशत मे कम ज्यादा प्रतिशत मे अंतर हो सकता है। लेकिन उन सब मे अंतर जरूर है।

आज विधायक खरीद फरोख्त को लेकर जारी ओडियो टेप को लेकर उसी ओएसडी के खिलाफ विधायक भंवर लाल ने अपने वीडियो संदेश मे आरोप लगाये है।व भाजपा नेता ने ने रपट दर्ज करवाई है

कुल मिलाकर यह है कि वर्तमान राजनीतिक समय मे हर पल बदलते व घटित होते राजनीतिक घटनाक्रम के करवरेज को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कुछ पत्रकारों को साक्षात्कार देते हुये अपनी उनके खिलाफ खीज निकाली है। मुख्यमंत्री को उक्त तरह की खीज निकालने से पहले अपने अब तक से अधिक पूवर से पूवर मीडिया मैनेजमेंट पर विचार जरूर करना चाहिए।

Prev Post

भीलवाड़ा शहर मे दो और पाॅजिटिव आए

Next Post

आईएएस टीना डाबी अंतर्राष्ट्रीय संस्था ब्रिक्स सीसीआई की सलाहकार नियुक्त, देश की पहली आईएएस है

Related Post

Latest News

बजरी ट्रक ऑपरेटरों यूनियन की सोहेला मिर्च मण्डी मे बैठक का आयोजन 
Rajasthan : कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, आलाकमान पर छोड़ा जा सकता है मुख्यमंत्री चयन का फैसला
कांग्रेस में 'एक व्यक्ति एक पद' का सिद्धांत फॉर्मूला, एक दर्जन नेताओं को देना पड़ेगा इस्तीफा

Trending News

भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
ब्रश, स्पंज और उंगलियों से लिक्विड फाउंडेशन कैसे लगाएं
आपके जीवन में स्वस्थ कितना जरुरी हैं और आहार क्या है, फायदे और डाइट चार्ट
बोलेरो को ट्रेलर ने मारी टक्कर तीन की मौत दो बच्चों सहित पांच गम्भीर घायल, भीलवाड़ा रैफर

Top News

बजरी ट्रक ऑपरेटरों यूनियन की सोहेला मिर्च मण्डी मे बैठक का आयोजन 
Rajasthan : कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, आलाकमान पर छोड़ा जा सकता है मुख्यमंत्री चयन का फैसला
भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
उपराष्ट्रपति कल राजस्थान के बीकानेर दौरे पर
नवरात्रा 26 से, घट स्थापना का मुहूर्त कब-कब और कैसे करें जानें 
PFI को खाड़ी देशों से मदद, Ed ने 120 करोड़ रुपए किए जब्त,PM पर हमले की थी साजिश
अंकिता हत्याकांड - भाजपा के नेता व पूर्व मंत्री के बेटे के रिसोर्ट पर चला बुलडोजर नेता पार्टी से निलंबित 
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन आज से शुरू, 30 सितम्बर है आखिरी तारीख
कांग्रेस में 'एक व्यक्ति एक पद' का सिद्धांत फॉर्मूला, एक दर्जन नेताओं को देना पड़ेगा इस्तीफा
मुख्यमंत्री कौन होगा काउंट डाउन शुरू : सचिन पायलट सहित ये प्रमुख नाम