कोरिया के तानाशाह किम जोंग ने अपने 5 राजनयिकों को दी सजा-ए-मौत

  नई दिल्ली उत्तर कोरिया ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ परमाणु कार्यक्रम पर असफल वार्ता के बाद अपने एक राजनयिक समेत 5 अधिकारियों को मौत के घाट उतार दिया है. सजा-ए-मौत पाने वालों में से वॉशिंगटन के साथ बातचीत का रास्ता निकालने वाले यूएस के लिए उत्तर कोरिया के विशेष दूत भी शामिल …

कोरिया के तानाशाह किम जोंग ने अपने 5 राजनयिकों को दी सजा-ए-मौत Read More »

June 1, 2019 6:28 am

 

नई दिल्ली
उत्तर कोरिया ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ परमाणु कार्यक्रम पर असफल वार्ता के बाद अपने एक राजनयिक समेत 5 अधिकारियों को मौत के घाट उतार दिया है. सजा-ए-मौत पाने वालों में से वॉशिंगटन के साथ बातचीत का रास्ता निकालने वाले यूएस के लिए उत्तर कोरिया के विशेष दूत भी शामिल हैं.
दक्षिण कोरिया के अखबार चोसुन इल्बो में दावा किया गया है कि उत्तर कोरिया प्रमुख किम जोंग उन और यूएस राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच दूसरी शिखर वार्ता असफल होने के बाद राजनयिक को गोली से भुनवा दिया गया.
रिपोर्ट्स के मुताबिक, हनोई में हुई बैठक के लिए जमीनी तौर पर काम करने वाले किम ह्योक चोल उत्तर कोरियाई प्रमुख किम जोंग उन के साथ उनकी निजी ट्रेन से उनके साथ ही पहुंचे थे. उन्हें ‘सर्वोच्च नेता के साथ धोखा करने’ के लिए मौत की सजा दी गई.
दक्षिण कोरियाई अखबार ने सूत्र के हवाले से लिखा है, एक जांच के बाद किम ह्योक चोल समेत विदेश मंत्रालय के 4 अधिकारियों की मार्च में मिरिम एयरपोर्ट पर हत्या कर दी गई थी. हालांकि, दूसरे अधिकारियों के नाम सामने नहीं आए हैं.
फरवरी में हुई हनोई समिट में किम ह्योक चोल यूएस के विशेष प्रतिनिधि स्टीफेन बीगन के उत्तर कोरियाई समकक्ष थे. उत्तर कोरिया-दक्षिण कोरिया के संबंधों को देखने वाले दक्षिण कोरिया के मंत्रालय ने इस रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया है.
अखबार ने यह भी कहा है कि किम जोंग उन के इंटरप्रिटर शिन हाये यॉन्ग को भी समिट के दौरान एक गलती की वजह से जेल भेज दिया गया था.
जब ट्रंप ने कोई डील नहीं करने की घोषणा कर दी तो वह किम के नए प्रस्ताव का अनुवाद करने में असफल रहीं और वहां से चली गईं.
बता दें कि किम जोंग उन और ट्रंप के बीच प्योंगयांग के परमाणु कार्यक्रम और अमेरिकी प्रतिबंधों से राहत को लेकर कोई समझौता नहीं हो सका था.
इसके बाद उत्तर कोरिया ने दबाव बढ़ाने के लिए मई महीने में दो कम दूरी की मिसाइलों का परीक्षण किया.परमाणु कार्यक्रम पर वार्ता में शामिल रहे अमेरिकी रक्षा मंत्री माइक पोम्पियो के उत्तर कोरियाई समकक्ष किम यॉन्ग चोल को भी लेबर कैंप भेज दिया गया था.
हालांकि, दक्षिण कोरियाई अखबार चोसुन इल्बो की इससे पहले एक रिपोर्ट गलत निकली थी जिसमें एक अधिकारी ह्योन सॉन्ग के पॉर्न देखने और दिखाने पर फायरिंग स्क्वॉयड से मरवाने का दावा किया गया था.

Prev Post

पीसीसी प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में राहुल गांधी के अध्यक्ष बने रहने का प्रस्ताव पास

Next Post

कैबिनेट की पहली बैठक:अब हर किसान को मिलेंगे सालाना 6 हजार रुपये

Related Post

Latest News

बीसलपुर की लाइन टूटी, 15 दिन बाद भी नही हुई ठीक
Tonk: आवारा श्वान ने 7 लोगों को काटा, अस्पताल गए तो वहां भी नही हुई सार संभाल ,VIDEO 
IAS अतहर और डाॅ. महरीन आज बंधे शादी के बंधन में ,VIDEO

Trending News

कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान

Top News

बीसलपुर की लाइन टूटी, 15 दिन बाद भी नही हुई ठीक
Tonk: आवारा श्वान ने 7 लोगों को काटा, अस्पताल गए तो वहां भी नही हुई सार संभाल ,VIDEO 
IAS अतहर और डाॅ. महरीन आज बंधे शादी के बंधन में ,VIDEO
राजस्थान के सरकारी स्कूलों में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने की जिम्मेदारी संस्था प्रधान की
पूर्व मंत्री और NCP नेता भुजबल का दुबई कनेक्शन का आरोप, FIR दर्ज
नामदेव छीपा समाज के त्रिदिवसीय गरबा महोत्सव झंकार का समापन, महिला मण्डल की कार्यकारिणी का शपथ ग्रहण
माफी तो मांगी,लेकिन वायरल पन्ना बता रहा है कि सचिन पायलट और प्रभारी अजय माकन निशाने पर थे
PFI का सपोर्ट करने पर पाक सरकार का ट्विटर अकाउंट पर प्रतिबंध
कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव के बाद अब सलमान खान के डुप्लीकेट संजय की जिम में एक्सरसाइज के दौरान मौत
कोतवाली पुलिस कहिन रिपोर्ट दर्ज होने के बाद बता दिया जाएगा, बुजुर्ग महिला से लूट का प्रयास विफल ,लोगों ने युवक को पकड़ा ,VIDEO