कांग्रेस व गहलोत सरकार इतिहास की सबसे अकर्मण्य सरकार : पूनियां

Jaipur News । भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कहा कि राजस्थान की गहलोत सरकार पिछले दो साल में हर मोर्चे पर विफल रही है। ना तो किसानों का सम्पूर्ण कर्जा माफ कर पाई, ना ही युवाओं को बेरोजगारी भत्ता दे पाई, ना ही अपराधों पर नियंत्रण कर पाई। राजस्थान में आपराधिक घटनाएं चरम पर हैं और महिलाए दलित एवं आदिवासी गहलोत राज में प्रताडि़त हो रहे हैं।

डॉ. पूनियां ने गुरुवार को जारी वीडियो संदेश में कहा कि राजस्थान की सरकार मन से भले ही 2 साल पूरे करने का जश्र मना रही हो, लेकिन इस सरकार को कोई हक नहीं है कि वह मन से कोई उत्सव मनाएं। राजस्थान के कालखंड में ये 2 साल काले साल होंगे। जिसमें जन घोषणा पत्र के नाम पर ये भले ही अपनी पीठ थपथपाते होंगे। किसानों से वादाखिलाफी, बेरोजगारों से झूठ और कानून व्यवस्था में नाकामी जैसे काम इन 2 सालों में हुए। अंर्तविरोध, अंर्तकलह वाली कांग्रेस पार्टी की यह सरकार न पार्टी चला पा रही है और न सरकार। गुजरे दो सालों में इस सरकार की झोली में नाकामियों की लंबी फेहरिस्त है।

पूनियां ने कहा कि पीड़ित महिलाओं के आंसू सूखे नहीं है, वो न्याय मांगती है। वो ढाई लाख संविदाकर्मी इंतजार कर रहे है नियमितीकरण का। वो 59 लाख किसान एक लाख करोड़ की कर्जमाफी का इंतजार कर रहे हैं। बेरोजगारी की दर राजस्थान में 14 प्रतिशत है, जो बेरोजगारों के भविष्य पर सवाल खड़ा करती है। पूनियां ने कहा कि यह इतिहास की अब तक की सबसे अकर्मण्य, भ्रष्ट, निकम्मी, नाकारा व अराजक सरकार है और यह सरकार नैतिक रूप से कमजोर हो चुकी है। गुटों में बंटी कांग्रेस पार्टी जनता का भला नहीं कर सकती। अनेकों ऐसी केन्द्र सरकार की योजनाएं हैं, जिन्हें राजस्थान में लागू तक नहीं किया जा सका। आयुष्मान भारत योजना में पांच लाख तक का बीमा होता है, राजस्थान का नागरिक उससे वंचित रहा है। यह सरकार बीते 2 वर्षों में जनता का भला करने में सफल नहीं रही है।