जागो पार्टी ने आरक्षण के विरोध में नंगे पैर रहने का संकल्प  

May 2, 2018 5:34 am

जयपुर । जागो पार्टी ने जातिगत आरक्षण का विरोध तेज कर दिया है। इसके लिए पार्टी के प्रदेश प्रचार प्रसार मंत्री पं. त्रिलोक तिवाडी ने अनिश्चितकाल तक नंगे पैर रहने का संकल्प लिया है। मंगलवार को प्रेसवार्ता कर पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष चंद माहेश्वरी ने बताया कि देश में आरक्षण के कारण एकता के स्थान पर भिन्नता बढ़ती जा रही है। इसके चलते देश में अशांति का माहौल बन रहा है और देश गृहयुद्ध की ओर बढ रहा है। ऐसे में आरक्षण की समीक्षा कर इसे समाप्त किया जाए। इस संकल्प को लेकर तिवाडी ने मंगलवार से ही जूते चप्पल का त्याग कर दिया है। तिवाडी अब प्रदेशभर की यात्रा करेंगे तथा इस दौरान वे नंगे पैर ही रहकर जनजागरण का कार्य करेंगे। उन्होंने बताया कि तिवाडी दो बार जयपुर के मालवीय नगर से विधानसभा का चुनाव लड चुके हैं और इस बार भी पार्टी के प्रत्याशी है।

Prev Post

मुख्यमंत्री वसुंधरा को मोदी ने पहला राजनीतिक झटका दिया

Next Post

सचिन पायलट तीन मई को उदयपुर एवं सिरोही जिलो के दौरे

Related Post

Latest News

चिदंबरम के आवास पर सीबीआई की रेड, गहलोत ने बताया बीजेपी को लोकतंत्र के लिए खतरा
इलेक्ट्रॉनिक स्कूटी में ब्लॉस्ट,घर मे लगी भीषण आग, घर का सारा सामान जलकर खाक

Trending News

उदयपुर- जयपुर -उदयपुर परीक्षा स्पेशल ट्रेन सभी अनारक्षित कोच
भाजपा नेता हत्या प्रकरण - अब मंत्री जोशी के बाद सीएम गहलोत के करीबी कांग्रेस विधायक के खिलाफ FIR
चिंतन शिविर में आज राहुल गांधी के भाषण पर निगाह, स्वीकार कर सकते हैं अध्यक्ष बनने का अनुरोध
पुलिस ने 21 चोरी की मोटरसाइकिल सहित 17 चोरों की किया गिरफ्तार

Top News

चिदंबरम के आवास पर सीबीआई की रेड, गहलोत ने बताया बीजेपी को लोकतंत्र के लिए खतरा
इलेक्ट्रॉनिक स्कूटी में ब्लॉस्ट,घर मे लगी भीषण आग, घर का सारा सामान जलकर खाक
राजस्थान 17 मई 2022 – Rajasthan main Aaj Ka Mausam Kaisa Rahega
Bharatpur News: Police arrested 5 people in Bharatpur on charges of forgery
1 महीने पहले हुई थी सगाई नवम्बर में होनी थी शादी, सड़क दुर्घटना में 24 साल के युवक की मौत
सीएम गहलोत का बड़ा आरोप, दंगे-हिंसा के पीछे बीजेपी और संघ के लोगों का हाथ
कैबिनेट मंत्री खाचरियावास का जन्मदिन आज, राज्यपाल-मुख्यमंत्री ने दी बधाई
कांग्रेस चिंतन शिविर में बोले राहुल गांधी, 'कांग्रेस के डीएनए में सब को बोलने का अधिकार'