जयपुर

इस खूबसूरत चेहरे के पीछे छिपा शातिर दिमाग, कईयो को ठगा,अब सलाखो के पीछे पहुंची युवती

Jaipur दिखने में खूबसूरत सुंदर चेहरा इस चेहरे को देखकर कोई भी यकीन नहीं कर सकता की है युवती का दिमाग इतना शातिर और खतरनाक है । पुलिस ने खूबसूरत चेहरे के पीछे छिपे शातिर दिमाग युवती को क्रेडिट कार्ड की केस लिमिट बढ़ाने व रिवर्स पॉइंट्स का झांसा देकर ऑनलाइन ठगी करने के मामले में गिरफ्तार किया है ।

मुहाना थाना पुलिस ने क्रेडिट कार्ड की केश लिमिट बढाने व रिवर्स प्वाईन्टस का झांसा देकर ऑनलाइन ठगी करने वाली गैंग की एक शातिर युवती को गिरफ्तार किया ​है। पुलिस ने इस गैंग द्वारा ऑनलाईन डिटेल प्राप्त कर राशी ट्रासंफर करने वाली ऑनलाइन कम्पनियों से प्राप्त रिकॉर्ड के आधार पर पूर्व में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया था। जिनसे पूछताछ कर उनकी निशानदेही के आधार पर इस युवती को गिरफ्तार है। फिलहाल आरोपित युवती से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस उपायुक्त जयपुर दक्षिण हरेन्द्र महावर ने बताया कि मुहाना थाना पुलिस ने बैक कर्मचारी बनकर लोगों फोन कर झांसे मे लेकर क्रेडिट कार्ड की केश लिमिट बढाने व रिवर्स प्वाईन्टस का झांसा देकर खातों के रूपये निकालने वाली गैंग का खुलासा ​करते हुए एक शातिर युवती ठग प्रतिभा गुलाटी उर्फ रितू (26) निवासी विजय विहार जिला रोहिणी नई दिल्ली को गिरफ्तार किया गया है। आरोपित प्रतीभा गुलाटी उर्फ रितु दिल्ली में ही एचडीएफसी व आरबीएल बैको के क्रेडिट कार्ड बनाने का काम करती है और ऑनलाइन ट्रान्जेक्शनों के बारे में जानकारी रखती है। अपना कार्ड बनाने का टारगेट पूरा करने के लिए अलग अलग फर्जी मोबाइल नम्बर से ग्राहको को काॅल करती है कार्ड की जानकारी प्राप्त कर ठगी करती है। आरोपित महिला से पूछताछ की जा रही है जिससे पूछताछ में ठगी के अन्य कई मामले खुलने की भी सम्भावना है।

थानाधिकारी लखन सिंह खटाणा ने बताया कि आरोपित युवती से पूछताछ में सामने आया कि क्रेडिट कार्ड की डिटेल फोन से लेकर क्रेडिट कार्ड धारक से ओटीपी की जानकारी प्राप्त कर ऑनलाइन राशि किसी भी मनी ट्रांसफर कम्पनी के माध्यम से अलग अलग वॉलेट के जरिये किसी परिचित या अपरिचित को झांसा,लालच देकर तुरन्त पैसे उसके खाते में ऑनलाइन जमा करवाकर एटीएम से नकद निकाल लेते थे।
आरोपित युवती प्रतिभा गुलाटी छोटी सी नौकरी करने के व कम सैलैरी होने के बाद भी पिछले दो साल मे उसके बैंक खाते में 22 लाख रूपये जमा हुये है। आरोपित युवती दिल्ली के बेरोजगार आईटी एक्सपर्ट लडके की टीम बनाकर फर्जी नम्बरो मोबाईल नम्बर से बैक धारको को काॅल कर ओपीटी आदि की जानकारी लेकर ऑनलाईन अलग अलग वाॅलेटस के माध्यम से रूपये ट्रान्सफर करते है और फिर ऑनलाईन ठगी करने वाली गैग अपने निवासी के आस पास के बैक से नगद राशि आहरण कर लेते है। वहीं पुलिस ने ऑनलाईन डिटेल प्राप्त कर राशी ट्रासंफर करने वाली ऑनलाइन कम्पनीयों से प्राप्त रिकॉर्ड के आधार पर पूर्व में विपिन कुमार उर्फ लक्की, मनीष कुमार को गिरफ्तार किया जा चुका है। इस सबंध में 19 जुलाई 2020 को परिवादी किशोर सिंह द्वारा मुहाना थाने में मामला दर्ज करवाया था कि उसके मोबाइल पर एक युवती बैककर्मी बनकर क्रेडिट कार्ड की तारीख खत्म हो रही है और वहीं रिवर्स प्वाईन्ट की कैश लिमिट बढाने का झांसा देकर क्रेडिट कार्ड की सम्पूर्ण डिटेल प्राप्त कर ली और बैंक खाते से 42 हजार 908 रूपये ऑनलाईन हाससिंग.कॉम कम्पनी में ट्रान्सफर कर लिये। पुलिस ने मामल दर्ज कर जांच पडताल की तो सामने आया कि आरोपितों द्वारा हाससिंग.कॉम कम्पनी में रूपये ट्रांसर्फर करने के बाद विजय विहार दिल्ली में स्थित पीएनबी बैक खाते के एक एटीएम से नगद आहरण कर लिए। जिस पर दो आरोपितों को धर- दबोचा और फिर उनकी निशानदेही के आधार पर आरोपित महिला प्रतिभा गुलाटी उर्फ रितु को तलाशते हुए विजय विहार दिल्ली से राउण्डअप कर गिरफ्तारी की गई।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.