जयपुर

अन्तर्राज्यीय वाहन चोर व चैन स्नैचिंग गिरोह के छ: बदमाशों को धर-दबोचा

किसी वारदात को अन्जाम देने की बना रहे थे योजना

जयपुर । बगरू थाना पुलिस ने अन्तर्राज्यीय वाहन चोर व चैन स्नैचिंग गिरोह का पर्दाफाश करते हुए गिरोह के छ: बदमाशों को धर-दबोचा । वहीं पुलिस ने इनके पास से देशी कट्टे सहित जिंदा कारतूस बरामद किए है। पूछताछ में बगरू, करणी विहार, महेश नगर, मानसरोवर, शिप्रापथ, सागानेर, सागानेर सदर, प्रतापनगर,मालवीय नगर, शिवदासपुरा, मुहाना, आदि क्षेत्रो मे लगातार वारदातो को अंजाम दे रहे थे। आरोपितों ने मात्र 2 महिने मे करीब 3 दर्जन से अधिक वारदातो का अजांम देना कबूला है।

पकड़े गए सभी आरोपितों से के वाहन चोरी के अन्तर्राज्य गिरोह के शातिर बदमाशो से सम्पर्क है जिनके बारे मे गहनता से पूछताछ की जा रही है। इन लोगों ने से जयपुर जिले की वाहन चोरी, चैन स्नैचिंग व अन्य वारदातो सहित कई अन्य जगहो की वारदातो का खुलासा होने की पूर्ण संम्भवना है। सभी आरोपितों से गहनता से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस उपायुक्त जयपुर पश्चिम अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि
सोमवार को मुखबीर से सूचना मिली कि थाना इलाके में स्थित ग्राम सांझरिया की नदी मे मनीपाल विश्वविद्यालय से ठिकरिया टोल प्लाजा की तरफ जाने वाली रोड पर एक टाटा कम्पनी की कार मे चार व्यक्ति सवार है। जिनके साथ एक बाइक भी है जिस पर दो व्यक्ति सवार है । जो सभी बाहर के रहने वाले बदमाश है और सभी के पास हथियार है। जो किसी वारदात करने की फिराक मे है एवं आपस मे किसी राहगीर या किसी वाहन चालक को लूटने की योजना बना रहे है। इस पर थानाधिकारी के निदेशन पर एक पुलिस टीम का गठन किया और मनीपाल विश्वविद्यालय से ठिकरिया टोल प्लाजा की तरफ जाने वाली रोड पर कार व बाइक दिखाई दी।  जो पुलिस को देख भागने का प्रयास किया। जिन्हे पुलिस टीम घेराबंदी करते हुए सभी को पकड़ थाना लाया गया।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित रवि प्रजापत (20) निवासी सिदोली कानोता जिला जयपुर हाल बंजारा बस्ती बगरु , महेश सिह उर्फ ठाकूर (23) निवासी ठाकरो की ढाणी मोहनपुरा बस्सी जिला जयपुर हाल पत्रकार कॉलोनी मानसरोवर ,नरेश बैरवा (26) निवासी निवाई जिला टोंक हाल प्रतापनगर , बन्टी बैरवा (21) निवासी ग्राम किशनपुरा शिवदासपुरा जिला जयपुर हाल बंजारा बस्ती बगरु , ऐलेक्स जाँसफ (29) निवासी कावेरी पथ मानसरोवर व मनराज उर्फ मोनू शेखावत (22) निवासी ग्राम करीरी जिला जयपुर है।
े पूछताछ में सामने आया कि सभी आरोपितों ने बताया कि मणिपाल विश्वविद्यालय दहमी कलां मे नया प्रवेश लेने का काम चल रहा है। इसलिए कई पैसे वाले लोग अपने बच्चो का एडमीशन करवाने के लिए इस रास्ते से मणिपाल विश्वविद्यालयमे आते जाते है। सभी आरोपित किसी पैसे वाले व्यक्ति से लुटपाट करने की फिराक मे आए थे।

तलाशी के दौरान मिले हथियार: पुलिस ने गिरफ्तार सभी आरोपितों की तलाशी ली गई तो इनके पास से 2 देशी कट्टे, 4 जिन्दा कारतूस, 1 कटार, 1 पेचकस,1 लोहे का पाईप , एक 10 फीट रस्सी एक कार सहित एक बाइक बरामद की है।
पूछताछ में हुए कई खुलासे: प्रारम्भिक पूछताछ में आरोपितों ने मात्र 2 माह के भीतर जयपुर शहर में चौपहिया वाहन, दुपहिया वाहन व चैन स्नेंिचंग की 3 दर्जन से अधिक वारदाते करना स्वीकार किया है। सभी आरोपित कई थानो मे वान्टेड चल रहे है तथा कुछ समय पूर्व 200 फीट बाईपास अजमेर रोड के पास एक व्यक्ति वेदप्रकाश सेनी की गोली मारकर हत्या करने का प्रयास किया था। जिसमे असफल होने पर मोके से सभी आरोपी भाग गए थे।

गिरफ्तार आरोपितों का निकाला अपराधिक रिकॉर्ड: पुलिस ने बताया कि ऐलेक्स जाँसफ लूट हत्या, चोरी जैसी संगीन वारदात करने का आदतन अपराधी हैं जिसने स्वयं की एक गैग बना रखी है। जिसमे करीब 1 दर्जन से अधिक अपराधियो ंको अपने नेटवर्क से जोड रखा हैं। तथा स्वय लूट, हत्या जैसे संगीन अपराधो मे कई बार जेल मे बन्द रहा है। अभी वर्तमान मे भी जयपुर मे 200 फीट बाईपास अजमेर रोड के पास एक व्यक्ति वेदप्रकाश सैनी की हत्या करने का असफल प्रयास कर चूका है। इसके खिलाफ केन्द्रीय कारागृह जयपुर के अन्दर के 4 मुकदमे व बाहर के थानो के करीब 9 मुकदमे दर्ज है। जिनमे कई थानो से वान्टेड चल रहा है। आरोपी व इसकी गैंग ने मात्र 2 माह मे ही करीब 3 दर्जन से अधिक चैन स्नैंचिंग व वाहन चोरी की वारदातो को अंजाम दिया है। आरोपित महेश सिह उर्फ ठाकुर लूट हत्या, चोरी जैसी संगीन वारदात करने का आदतन अपराधी हैं जो पहले भी जेल जा चूका हैं। इसके विरूद कई थानो के चोरी, लूट के आधा दर्जन मुकदमे दर्ज है व कई थानो से वान्टेड चल रहा है।

आरोपित बन्टी बैरवा चैन स्नैचिंग व चोरी की संगीन वारदात करने का आदी है तथा पूर्व मे जेल मे बन्द रहा है। आरोपी ने 2 माह मे करीब 3 दर्जन से अधिक वाहन चोरी व चैन स्नैचिंग की वारदातो को अंजाम दिया हैं एवं अपने किराए के निवास स्थान पर एक लडकी को अपने निवास स्थान से भगा पर अपने पास रखा हुआ था जिस बाबत राज. उच्च न्यायालय मे बन्दी प्रत्यक्षीकरण याचिका चल रही है।
आरोपित नरेश बैरवा चैन स्नेंिचंग व वाहन चोरी करने का आदी है। तथा पूर्व मे भी चोरी व चैन स्नेचिंग के मामले मे जेल मे बन्द हो चुका है। आरोपित रवि प्रजापत चैन स्नैचिंग व चोरी की संगीन वारदात करने का आदी है तथा पूर्व मे जेल मे बन्द रहा है।

आरोपित मनराज उर्फ मोनू शेखावत गैंग के साथ मिलकर करीब आधा दर्जन चोपहिया वाहन चुराना स्वीकार किया है।चोरी का माल खरीदने वाले पुलिस पकड़ से दूर : चोरी किए गये माल को अपनी गैंग के सदस्यो रमेश कुमावत व शेडूराम मीणा को बेच देते है। तथा कई बार प्रेटोल व डीजल खत्म होने पर वहीं मोके पर छोड कर भाग जाना व गाडी का खराब होने पर मोके पर ही छोड देना व खरीददार नही मिलने पर सुनसान जगह पर छोड देते है। फिलहाल रमेश कुमावत व शेडूराम मीणा पुलिस पकड़ से दूर है।

वारदात का तरीका : आरोपित ऐलेएक्स जोसफ व महेश अपनी कार से दिन व रात्रि के समय मे नेशनल हाईवे व बडे रास्तो के पास बसी कॉलोनीयो से चोपहिया वाहन की रेकी कर अपने साथियो रवि प्रजापत, बन्टी बैरवा व मनराज उर्फ मोनू को साथ लेकर वारदात करते थे। रवि प्रजापत व बन्टी बैरवा व नरैश बैरवा तीनो व्यक्ति मिलकर दुपहिया वाहन चुराते थे। तथा इन्ही वाहनो पर सवार होकर महिलाओं के गले से चेन तोडकर फरार हो जाते थे। चैन स्नेचिंग की सभी वारदातो मे इन्होने चोरी की पावर बाईक व चोरी के ही चोपहिया वाहनो का इस्तेमाल किया है एंव करीब 3 बार चोरी के प्रयास मे दुर्घटना ग्रस्त होेने पर वाहनो को मोके पर ही छोडकर भाग गये थे ।
चोरी की चैनो को अपने साथ किराए के मकानो मे रह कर अपने पास रखते थे। सभी आरोपित वारदात के समय अपने मोबाईल घर पर छोड कर आते है अथवा बन्द रखते हे तथा देशी कट्टा साथ रखते है, यदि कही विरोध अथवा पीछा हो तो कट्टे से फायर कर देते है।

इन पुलिसकर्मियों की रही भूमिका: इन सभी आरोपितों को पकड़ने के लिए थानाधिकारी राजेन्द्र सिंह शेखावत, एएसआई दीपक त्यागी ,कांस्टेबल चन्द्रभान ,गोपाल ,कर्ण सिंह ,कृष्ण चन्द ,गणेश लाल ,रामराज ,सुनील कुमार , मोहन लाल ,अजीत कुमार ने विशेष भूमिका निभाई।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *