राज्य के दक्षिण पश्चिमी हिस्सों में भीषण गर्मी का दौर

 

 

रात में झुलसा दक्षिण पश्चिमी

जयपुर। उत्तरी राज्यों में चक्रवाती तंत्र कमजोर पड़ते ही प्रदेश में गर्मी ने तीखे तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। बीते चौबीस घंटे में प्रदेश के दक्षिण पश्चिमी हिस्सों में भीषण गर्मी का दौर रहा वहीं राजधानी में भी गर्मी के तीखे तेवरों से लोग बेहाल रहे। बीती रात जयपुर में सीजन की सबसे गर्म रात रही और न्यूनतम तापमान में पारा 30.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो अगले दो तीन दिन प्रदेश के पूर्वोत्तर इलाकों के कुछ भागों में धूलभरी हवा चलने और मेघगर्जन के साथ बौछारें गिरने का अनुमान है जबकि शेष भागों में भीषण गर्मी का असर रहेगा। हालांकि अगले 48 घंटे बाद अरब सागर में नि न वायुदाब क्षेत्र बनने की संभावना है जिसके चलते दो दिन बाद प्रदेश के दक्षिण पश्चिमी इलाकों में छितराई बारिश होने की संभावनाहै। राजधानी में बीती रात हवा की थमी र तार और दिनभर रहे गर्मी के तीखे तेवरों से शहरवासी हलकान रहे। रात में गर्मी के चलते न्यूनतम तापमान में पारा करीब पांच डिग्री उछला वहीं आज सुबह करीब दसकिलोमीटर प्रतिघंटे की गति से बही दक्षिण पूर्वी हवा ने सुबह धूप कीतपिश को थोड़ा कम कर दिया। शहर में आज सुबह दस बजे अधिकतमतापमान 36 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है। जयपुर में बीती रात पारे मेंउतार चढ़ाव बने रहने से मौसम का मिजाज गर्म रहा। रात 8.30 बजे पारा 37.8 डिग्री रहा वहीं रात11.30 बजे शहर का तापमान 35डिग्री सेल्सियस पर ठहरा। इसके बाद आज तडक़े 2.30 बजे 5.30बजे 31.2 डिग्री और सुबह 8.30बजे न्यूनतम तापमान 30.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ है। स्थानीयमौसम केंद्र के अनुसार शहर में आज मौसम शुष्क रहेगा वहीं अधिकतमतापमान 42 डिग्री के आस पास रहने का अनुमान है। प्रदेश के पश्चिमीमैदानी इलाकों में धूलभरी हवाएं चलने से जनजीवन प्रभावित रहा। बीती रात कोटा में 30.5 और बाड़मेर में न्यूनतम तापमान 30.3 डिग्रीसेल्सियस रहा। वहीं अजमेर 29.0,बीकानेर 29.8 और सवाई माधोपुर में29.5 डिग्री न्यूनतम तापमान रहा। श्रीगंगानगर में न्यूनतम तापमान25.3 डिग्री रहा वहीं छितराई बौछारों से जिले में गर्मी के तेवर थोड़े नर्म रहे।